Follow Us On Goggle News

Ration Card Alert: जून से राशन दुकानों में मिलेगा साफ़ एवं अच्छा चावल.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Ration Card Alert: बिहार में कुपोषण की समस्या से निजात पाने के लिए नीतीश सरकार जून से सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत मिलने वाले सामान्य चावल के स्थान पर पोषणयुक्त चावल (फोर्टिफाइड राइस) लोगों को देने जा रही है।

 

सरकार के खाद्य सचिव विनय कुमार ने बताया कि फोर्टिफाइड चावल वितरण योजना से प्रदेश में एक करोड़ 72 लाख परिवारों (राशनकार्ड धारकों) को सीधे लाभ मिलेगा। यानी आठ करोड़ से ज्यादा लोगों को यह सुविधा मिलेगी। राज्य में 56 हजार जन वितरण प्रणाली की दुकानों को अगले माह से पोषणयुक्त चावल की आपूर्ति शुरू हो जाएगी।

 

1096 राइस मिलों में फोर्टिफाइड चावल का उत्पादन: Ration Card Alert

राज्य सरकार ने पोषणयुक्त चावल की आपूर्ति को लेकर तैयारी तेज कर दी है। खाद्य सचिव विनय कुमार ने बताया कि राज्य में ऐसे 1096 राइस मिल लग चुके हैं, जहां फोर्टिफाइड चावल का उत्पादन हो रहा है। हालांकि, केंद्र सरकार से फोर्टिफाइड चावल वितरण योजना की मुकम्मल तैयारी की अवधि भी मार्च 2023 तक बढ़ा दी है। खास बात यह कि अब तक राज्य में 10 लाख टन फोर्टिफाइड चावल को तैयार हो चुका है।

यह भी पढ़ें :  Bihar News : नीतीश सरकार बड़ा फैसला, घटिया अनाज वितरण करने पर नपेंगे राशन दुकनदार और अधिकारी.

 

मान्यता प्राप्त लैब में फोर्टिफाइड चावल की गुणवत्ता की जांच : सरकार लाभुकों के बीच पोषणयुक्त चावल का वितरण सुनिश्चित करने हेतु ठोस उपाय भी कर रही है। खाद्य सचिव विनय कुमार के मुताबिक चावल मिलों से प्राप्त फोर्टिफाइड चावल की गुणवत्ता की जांच मान्यताप्राप्त प्रयोगशाला में कराई जाएगी। जिन राइस मिलों में फोर्टिफाइड चावल को तैयार करनले हेतु ब्लेडिंग यूनिट की स्थापना नहीं हो सकी है उन संबंध सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि अपने-अपने जिले में स्थापित चावल मिलों में ब्लेडिंग यूनिट लगवाने का कार्य सुनिश्चित कराएं।

इस प्रकार से बनेगा फोर्टिफाइड चावल: Ration Card Alert

फोर्टिफाइड चावल का मतलब ऐसे चावल से है, जिसमें भरपूर मात्र में पोषक तत्व हों। इस चावल में आयरन, विटामिन-बी 12, फोलिक एसिड जैसे पोषक तत्व भरपूर मात्र में होंगे। चावल को फोर्टिफाइड करने के लिए उसके दानों पर आयरन, फोलिक एसिड, विटामिन-ए और विटामिन-बी 12 का लेप चढ़ाया जाएगा। इसकी मात्र इतनी होगी कि धोने और पकाने पर माइक्रो न्यूटिएंस की पर्याप्त मात्र चावल में मौजूद रहेगी। चावल को फोर्टिफाइड करने के लिए 15 पैसे प्रति किलोग्राम का खर्च है।


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page