Follow Us On Goggle News

Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana: मोदी सरकार की इस पेंशन योजना में पति-पत्नी को हर महीने मिलेंगे 18,500 रुपये, जानें डिटेल्स

इस पोस्ट को शेयर करें :

Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana: PMVVY में मंथली पेंशन की गारंटी मिलती है. इस योजना को मोदी सरकार द्वारा 26 मई 2020 को शुरू किया गया था. इसमें 31 मार्च 2023 तक निवेश किया जा सकता है.

 

Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana: मोदी सरकार द्वारा चलाई जा रही प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana) रिटायरमेंट के बाद पेंशन के लिए एक खास स्‍कीम है. इसमें मंथली पेंशन की गारंटी मिलती है; इस योजना को मोदी सरकार द्वारा 26 मई 2020 को शुरू किया गया था. इसमें 31 मार्च 2023 तक निवेश किया जा सकता है. आपके निवेश पर एक तय ब्‍याज है, जिसके आधार पर मंथली पेंशन तय की जाती है. अगर पति पत्‍नी दोनों चाहें तो 60 की उम्र के बाद इसका लाभ उठा सकते हैं. जानते हैं कि इस योजना के जरिए किस तरह से हर महहीने पति पत्‍नी मिलकर गारंटीड 18500 रुपये पेंशन का लाभ ले सकते हैं. सबसे अच्‍छी बात है कि 10 साल बाद आपका पूरा निवेश भी वापस मिल जाएगा.

यह भी पढ़ें :  PM Awas Yojana : खुशखबरी ! पूरा होगा आपके अपने घर का सपना, अधूरा निर्माण को पूरा कराने के लिए सरकार देगी आर्थिक मदद.

 

क्या है PMVVY योजना?

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana) एक सामाजिक सुरक्षा योजना और पेंशन प्लान है और इसे भारत सरकार द्वारा पेश किया गया है. लेकिन इसका संचालन भारतीय जीवन बीमा निगन (LIC) करता है. प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के तहत अधिकतम निवेश की सीमा 15 लाख रुपए तय की गई है. अगर पति पत्‍नी दोनों 60 की उम्र पार कर चुके हैं तो अलग अलग 15 लाख निवेश कर सकते हैं. पहले एक शख्‍स द्वारा निवेश की सीमा 7.5 लाख रुपये थी, जिसे बाद में डबल किया गया. इस योजना के तहत सीनियर सिटीजन को निवेश पर अन्य योजनाओं के मुकाबले ज्यादा ब्याज मिलता है. इस योजना में 60 साल या उससे अधिक उम्र के लोग मासिक या सालाना पेंशन प्लान चुन सकते हैं.

कैसे मिलेगी 18500 रु की पेंशन

अगर पति पत्‍नी दोनों इस योजना का अलग अलग लाभ लेना चाहते हैं तो दोनों को प्रधानमंत्री वय वंदना योजना में 15 लाख रुपये निवेश करना होगा, यानी कुल 30 लाख रुपये. इस स्‍कीम पर 7.40 फीसदी सालाना ब्‍याज है. इस दर के लिहाज से निवेश पर सालाना ब्‍याज 222000 रुपये होगा; इसे अगर 12 महीनों में बराबर बांट दें तो 18500 रुपये होगा, जो आपके घर मंथली पेंशन के रूप में आएगा.

यह भी पढ़ें :  Sarkari Yojana : करोड़ों लोगों के खाते में सरकार भेजेगी पैसा ! हर महीने मिलेंगे 5000 रुपये, जल्दी से कराएं रजिस्ट्रेशन.

अगर एक ही शख्‍स इस योजना का लाभ लेना चाहता है तो 15 लाख निवेश पर सालाना ब्‍याज 111000 रुपये होगा और उसकी मंथली पेंशन 9250 रुपये होगी.

10 साल बाद पूरी रकम वापस

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना 10 साल के लिए है. तबतक आपके जमा पैसों पर मंथली पेंशन मिलती रहेगी. अगर आप 10 साल के पॉलिसी टर्म तक योजना में बने रहते हैं तो 10 साल बाद आपका पूरा निवेश वापस हो जाएगा. वैसे योजना शुरू होने के बाद इसमें से कभी भी सरेंडर कर सकते हैं.

ऐसे कर सकते हैं निवेश

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना में आप ऑनलाइन और ऑफलाइन, दोनों तरीके से आवेदन कर सकते हैं. एलआईसी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन अप्लाई किया जा सकता है. पेंशन की पहली किस्त आपके द्वारा निवेश करने के 1 साल, 6 महीने, 3 महीने या एक महीने बाद मिलेगी. पेंशन इस बात पर निर्भर करती है कि आप कौन सा ऑप्शन चुनते हैं. निवेश के आधार पर 1000 से लेकर 9250 रुपये प्रति माह की पेंशन प्रदान की जाती है. सभी सामान्य बीमा स्कीम में टर्म इंश्योरेंस पर 18 फीसदी जीएसटी लगाया जाता है. लेकिन प्रधानमंत्री वय वंदना योजना पर जीएसटी नहीं लगाया जाता.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page