Follow Us On Goggle News

PM SYM Yojana: खुशखबरी! मजदूरों को भी मिलेगी 3 हजार रुपये पेंशन, जानिए कैसे करें अप्लाई.

इस पोस्ट को शेयर करें :

PM SYM Yojana Registration : प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना (PM Shram Yogi Mandhan Yojana) के तहत रेहड़ी-पटरी लगाने वालों, रिक्शा चालक, निर्माण कार्य करने वाले मजदूर और इसी तरह के अनेक अन्य कार्यों में लगे असंगठित क्षेत्र से जुड़े लोगों को अपना बुढ़ापा सुरक्षित करने में मदद मिलेगी.

 

PM SYM Yojana Registration : अब मजदूरों को बुढ़ापे के खर्चे के लिए चिंता करने की जरूरत नहीं है. दरअसल, प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना (PM Shram Yogi Mandhan Yojana) असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के लिए एक बेहतर योजना है. इस योजना के तहत रेहड़ी-पटरी लगाने वाले, रिक्शा चालक, निर्माण कार्य करने वाले मजदूर और इसी तरह के अनेक अन्य कार्यों में लगे असंगठित क्षेत्र से जुड़े मजदूरों को अपना बुढ़ापा सुरक्षित करने में मदद मिलेगी. सरकार इस योजना के तहत पेंशन की गारंटी देती है. इस योजना में आप रोजाना बस 2 रुपये बचाकर सालाना 36000 रुपये की पेंशन पा सकते हैं. आइए जानते हैं इस योजना के बारे में. 

 

देश में 42 करोड़ से ज्यादा आबादी असंगठित क्षेत्र से जुड़े लोगों की है. उम्र के एक पड़ाव के बाद इन लोगों के सामने आर्थिक स्तर पर कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. ऐसे में आप इस स्कीम में निवेश करके अपने भविष्य को आर्थिक स्तर पर सुरक्षित कर सकते हैं. इस योजना की खास बात यह है कि इसमें सरकार भी कॉन्ट्रीब्यूशन करती है. यानी जितनी रकम आप जमा करते हैं, उतनी ही सरकार भी अपनी ओर से जमा करती है. योजना में 60 साल की उम्र पूरी होने के बाद हर महीने 3,000 रुपये पेंशन दी जाती है. बीच में लाभार्थी की मौत होने की स्थिति में पेंशन के तौर पर 50 फीसदी हिस्सा पति या पत्नी को दिया जाता है. श्रम और रोजगार मंत्रालय की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक, 4 मई, 2022 तक इस स्कीम से 46,64,766 लोग एनरोल थे.

 

रोजाना बस 2 रुपये जमा करने होंगे :

इस स्कीम को शुरू करने पर आपको हर माह 55 रुपए जमा करना होंगे. यानी 18 वर्ष की उम्र वाले रोजाना करीब 2 रुपये बचाकर आप सालाना 36000 रुपये की पेंशन पा सकते हैं. अगर कोई व्यक्ति 40 साल की उम्र से इस स्कीम को शुरू करेगा तो हर महीने उसे 200 रुपए जमा करना होंगे. 60 साल की उम्र पूरा होने के बाद आपको पेंशन मिलना शुरू हो जाएगी. 60 साल के बाद आपको 3000 रुपये महीना यानी 36000 रुपये साल की पेंशन मिलेगी.

यह भी पढ़ें :  PM Kisan Samman Nidhi 2022 : किसान सम्मान निधि योजना में हुआ बदलाव, नहीं किया ये काम तो बंद हो सकती है किसान सम्मान निधि.

 

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के लाभ :

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना में योजना के तहत देश के असंगठित क्षेत्र में कार्य कर रहें 42 करोड़ से अधिक श्रमिकों को लाभान्वित करने का लक्ष्य रखा गया है.

  • इस योजना में लाभार्थियों को 60 साल की उम्र के बाद हर महीने 3 हजार रुपए की पेंशन दी जाती है.
  • इस योजना के तहत लाभार्थी को पेंशन की राशि सीधे उसके बैंक खाते में ट्रांसफर की जाती है.
  • योजना में आप जितना योगदान करते हैं, सरकार भी आपके खाते में उतना ही रुपए का योगदान करती है. यानि योजना में लगने वाले प्रीमियम की राशि का आधा पैसा सरकार देती है.
  • लाभार्थी की मृत्यु के बाद उसकी पत्नी को आजीवन आधी पेंशन डेढ़ हजार रुपए मिलेगी.

 

 

प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना के लिए पात्रता/शर्तें :

प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना के लिए कुछ पात्रता और शर्तें निर्धारित की गई हैं, जो इस प्रकार से हैं :

  • आवेदक असंगठित क्षेत्रो का कामगार श्रमिक होना चाहिए.
  • असंगठित क्षेत्रो के श्रमिकों की मासिक आय 15000 रूपये से ज़ियादा नहीं होनी चाहिए.
  • आवेदक  की आयु  18 साल से 40 साल तक होनी चाहिए.
  • सबसे बड़ी शर्त आप इनकम टैक्स पेयर्स या कर दाता नहीं होना चाहिए.
  • पात्र व्यक्ति EPFO, NPS और ESIC के अंतर्गत कवर नहीं होना चाहिए
  • सब्सक्राइबर के पास मोबाइल फोन, आधार संख्या (Aadhaar Card) होना अनिवार्य है.
  • योजना के लिए बचत खाता (Savings Bank Account) भी अनिवार्य है.
यह भी पढ़ें :  PM Awas Yojana 2022: पीएम आवास योजना में मिल सकती है एक और बड़ी सुविधा, फटाफट उठाएं फायदा.

 

PMSYM Yojana 2022 (दस्तावेज़ )

इस योजना का लाभ लेने के लिए आपके पास सेविंग बैंक अकाउंट और आधार कार्ड होना जरूरी है. व्यक्ति की उम्र 18 साल से कम और 40 साल से ज्यादा नहीं होनी चाहिए. प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना में आवेदन के लिए आपको कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेजों की आवश्यकता होगी. ये इस प्रकार से हैं :

  • आवेदन करने वाले का आधार कार्ड
  • आवेदक का पहचान पत्र
  • बैंक खाता पासबुक विवरण
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • पते का सबूत- ड्राइविंग लाइसेंस, आधार कार्ड, टेलीफोन बिल, बिजली बिल, मतदाता पहचान पत्र आदि में से कोई भी एक दस्तावेज देना होता है.

 

आसानी से हो जाएगा रजिस्ट्रेशन :

इसके लिए आपको योजना के लिए कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) में पंजीकरण करवाना होगा. CSC सेंटर में पोर्टल पर श्रमिक अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. सरकार ने इस योजना के लिए वेब पोर्टल बनाया है. इन सेंटर्स के जरिए ऑनलाइन सभी जानकारी भारत सरकार को चली जाएगी.

देनी होगी ये जानकारी :

पंजीकरण के लिए आपको अपना आधार कार्ड, बचत या जनधन बैंक खाते की पासबुक, मोबाइल नंबर चाहिए होगा. इसके अलावा सहमति पत्र देना होगा जो बैंक ब्रांच में भी देना होगा जहां पर श्रमिक का बैंक खाता होगा, ताकि उसके बैंक खाते से समय से पेंशन के लिए पैसा काटा जा सके.

यह भी पढ़ें :  PM SYM Yojana : खुशखबरी ! मजदूरों को हर साल मिलेगी 36 हजार रुपये पेंशन, जानिए कैसे करें अप्लाई.

 

पीएम श्रम योगी मानधन योजना में कैसे करें आवेदन :

  • इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले योजना की वेबसाइट https://www.maandhan.in/ पर जाना होगा.
  • यहां होम पेज पर आपको क्लिक हियर टू अप्लाई नाउ पर क्लिक करना होगा.
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा। इस पेज पर आपको सेल्फ इनरोलमेंट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • फिर पेज पर आपको अपना मोबाइल नंबर भरना करना होगा.
  • इसके बाद आपको प्रोसीड पर क्लिक करना होगा. फिर आपको अपना नाम, ईमेल आइडी और कैप्चा कोड को भरकर जनरेट ओटीपी पर क्लिक करना होगा.
  • ओटिपी दर्ज करने के बाद आपको वेरिफिकेशन के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • अब आपके सामने एक आवेदन फॉर्म खुल कर आएगा। अब आपको आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी सूचनाओं को सही-सही भरना होगा.
  • अंत में सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा। इस तरह आपका पीएम श्रम योगी मानधन योजना में आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी.

 

टोल फ्री नंबर से लें जानकारी :

सरकार ने इस योजना के लिए श्रम विभाग के कार्यालय, LIC, EPFO को श्रमिक सुविधा केंद्र बनाया है. यहां जाकर श्रमिक योजना की जानकारी ले सकते हैं. सरकार ने योजना के लिए 18002676888 टोल फ्री नंबर जारी किया है. इस नंबर पर कॉल करके भी योजना की जानकारी ली जा सकती है.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page