Follow Us On Goggle News

PM Shram Yogi : मोदी सरकार की इस योजना में हर महीने 100 रुपये जमा करें, जीवन भर मिलेगी 3000 रुपये मासिक पेंशन.

इस पोस्ट को शेयर करें :

PM Shram Yogi Yojana : प्रधानमंत्री श्रम योगी योजना के मुताबिक जिन लोगों की उम्र 40 साल हो गई है, उन्हें हर महीने 200 रुपये जमा कराने होंगे. तब जाकर 3000 रुपये की पेंशन मिलेगी. इसके लिए आप अपने नजदीकी जनसेवा केंद्र या डिजिटल सेवा केंद्र में जा सकते हैं. रजिस्ट्रेशन कराने के लिए बैंक पासबुक और आधार कार्ड की जरूरत होती है.

PM Shram Yogi Yojana : मोदी सरकार ने असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों के लिए एक पेंशन स्कीम शुरू की है. इस स्कीम का नाम प्रधानमंत्री श्रम योगी मान धन योजना (PM-SYM) है. असंगठित क्षेत्र के कामगारों को भी बुढ़ापे में आर्थिक सुरक्षा मिल सके, इसके लिए सरकार ने यह योजना चलाई है.

 

पीएम श्रम योगी मान धन योजना पूरी तरह से ऐच्छिक और अपने योगदान पर आधारित पेंशन स्कीम (Pension Scheme) है. स्कीम के अंतर्गत कामगारों को कम से कम 3000 रुपये की निश्चित पेंशन मिल सकती है. पेंशन का पैसा तब दिया जाता है जब खातेदार की उम्र 60 साल पूरी हो जाती है. अगर इस पेंशनर की मृत्यु स्कीम के दौरान होती है तो उसकी पत्नी या पति को फैमिली पेंशन (Family pension) कै तौर पर आधी राशि मिलती है. फैमिली पेंशन केवल स्पाउज यानी कि पत्नी या पति को ही दी जाती है.

यह भी पढ़ें :  ये खबर पक्की है ! नितीश सरकार 12वीं पास युवाओं को दे रही है एक हज़ार रुपए प्रतिमाह | How to apply for bihar unemployment allowance Scheme.

असंगठित क्षेत्र का कोई कामकार जिसकी मासिक कमाई 15,000 रुपये या उससे कम है और उसकी उम्र 18-40 साल है तो वह पीएम श्रमिक योगी मान धन योजना के लिए पात्र माना जाएगा. इस योजना का लाभ उसी कामगार या कर्मचारी को मिलेगा जो नेशनल पेंशन सिस्टम, इंप्लॉई स्टेट इंश्योरेंस कॉरपोरेशन स्कीम या इंप्लॉई प्रोविडेंट फंड ऑर्गेनाइजेशन का मेंबर न हो. इनकम टैक्स नहीं चुकाने वाले कर्मचारी को ही मान धन योजना का लाभ दिया जाता है.

 

मानधन योजना के बारे में :

कर्मचारी के बैंक अकाउंट या जनधन अकाउंट से ऑटो डेबिट के जरिये मान धन योजना का पैसा जमा होता है. कर्मचारी जब अपना खाता खुलवाता है तो उसी समय हर महीने जमा की जाने वाली राशि निर्धारित हो जाती है. कर्मचारी को यह राशि बिना किसी रुकावट के 60 साल की उम्र तक जमा करना होता है. 60 साल बाद इसी जमा राशि के आधार पर पेंशन दी जाती है.

यह भी पढ़ें :  e-Shram Card Rules : क्या कंस्ट्रक्शन का काम करने वाले कामगार भी कर सकते हैं ई-श्रम कार्ड के लिए आवेदन? जानिए क्या है नियम.

यह योजना केंद्र सरकार की है, इसलिए आधा पैसा उसकी तरफ से जमा किया जाता है. मान लें कोई व्यक्ति हर महीने मान धन योजना में 100 रुपये जमा करता है, तो उसके खाते में 100 रुपये केंद्र सरकार के द्वारा भी जमा किया जाएगा. यह सिलसिला 60 साल की उम्र तक चलेगा. लाभार्थी और केंद्र सरकार के बीच 50-50 के आधार पर पैसे जमा किए जाते हैं.

 

PM Shram Yogi PM Shram Yogi : मोदी सरकार की इस योजना में हर महीने 100 रुपये जमा करें, जीवन भर मिलेगी 3000 रुपये मासिक पेंशन.

 

कितनी मिलेगी पेंशन :

मान लें कोई व्यक्ति 29 साल की उम्र में पीएम श्रमिक योगी मानधन योजना से जुड़ता है. वह हर महीने 100 रुपये जमा करता है और 100 रुपये केंद्र की ओर से जमा कराया जाता है. 29 साल से लेकर 60 साल तक, यानी कि 31 वर्ष तक खाते में 100-100 रुपये लाभार्थी और सरकार की तरफ से जमा कराए जाएंगे. 60 साल पूरा होने के बाद लाभार्थी को हर महीने 3000 रुपये की पेंशन मिलेगी. स्कीम की मियाद के दौरान लाभार्थी की मृत्यु हो जाती है तो उसकी पत्नी को पेंशन का आधा पैसा फैमिली पेंशन के तौर पर मिलता रहेगा.

यह भी पढ़ें :  PM Kisan Yojana : पीएम किसान योजना पर बड़ा अपडेट ! 11वीं किस्त के लिए e-KYC कराना जरूरी, जानिए तरीका.

इस योजना में कामगार, छोटे व्यापारी, दुकानदार और ऐसे बिजनेसमैन लाभ उठा सकते हैं जिनका टर्नओवर 1.5 करोड़ से कम है. जिन लोगों की उम्र 18 साल है, वे हर महीने 55 रुपये जमा करेंगे, 29 साल की उम्र वाले 100 रुपये जमा करेंगे. योजना के मुताबिक जिन लोगों की उम्र 40 साल हो गई है, उन्हें हर महीने 200 रुपये जमा कराने होंगे. इसके लिए आप अपने नजदीकी जनसेवा केंद्र या डिजिटल सेवा केंद्र में जा सकते हैं. रजिस्ट्रेशन कराने के लिए बैंक पासबुक और आधार कार्ड की जरूरत होती है.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page