PM Kisan Yojana : अब किसानों को 6000 की जगह मिलेंगे 8000 रुपए ! बजट 2023 में सरकार कर सकती है राशि बढ़ाने का ऐलान, जानिए डिटेल्स.

PM Kisan Samman Nidhi : पीएम किसान योजना के तहत किसानों को दी जाने वाली सम्मान निधि की राशि 6,000 रुपए प्रति वर्ष से बढ़ाकर सरकार 8,000 रुपए तक कर सकती है और इस बात की घोषणा बजट में की जा सकती है.

PM Kisan Yojana : प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत किसानों को वर्तमान में तीन सामान किस्तों में 6 हजार रुपए की सालाना आर्थिक सहायता राशि दी जाती है। केंद्र सरकार की ओर से जल्द ही आम बजट 2023 पेश किया जाने वाला है। वहीं इस साल के बजट में सरकार की ओर से किसानों के लिए कई बड़े ऐलान किए जाने की संभावनाएं है। इसी के साथ ही किसानों को ये भी उम्मीद है कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi ) को लेकर भी कुछ अहम घोषणाएं की जा सकती है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सरकार पीएम किसान सम्मान निधि की राशि में एक वर्ष के लिए वृद्धि कर सकती है और एक वर्ष बाद इसकी समीक्षा की जाएगी। पीएम किसान योजना के तहत किसानों को दी जाने वाली सम्मान निधि की राशि 6,000 रुपए प्रति वर्ष से बढ़ाकर सरकार 8,000 रुपए तक कर सकती है और इस बात की घोषणा बजट में की जा सकती है।

अभी किसानों को मिलते हैं 6000 रुपए ( PM Kisan Yojana ) :

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana) के तहत वर्तमान में किसानों को 6 हजार रुपए की सालाना आर्थिक सहायता राशि दी जाती है। केंद्र सरकार ने किसानों के हित में फरवरी 2019 में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम किसान) योजना की शुरुआत की थी। जिसके तहत प्रत्येक किसान के प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण (DBT) के माध्यम किसानों के बैंक खाते में तीन समान किस्तों में सालाना 6000 रुपए ट्रांसफर किए जाते हैं। योजना की शुरुआत के समय करीब 3 करोड़ किसान योजना का लाभ ले रहे थे, जो वर्तमान में बढ़कर 11 करोड़ के करीब हो गई है। एक साल में कुल 3 किस्तों के माध्यम से किसानों के खाते में 6000 रुपए की धनराशि भेजी जाती हैं। बजट 2022 में सरकार ने इस योजना के लिए 68000 करोड़ रुपए का आवंटन किया था।

यह भी पढ़े :  Mushroom ki Kheti : मशरूम की खेती के लिए सरकार देगी 8 लाख रुपए, जानिए कैसे मिलेगा योजना का लाभ.

किसान कई बार कर चुके हैं सम्मान निधि की राशि बढ़ाने की मांग :

बीज, खाद, उर्वरक और कीटनाशकों की कीमतों में बढ़ोतरी के कारण किसान लंबे समय से पीएम किसान सम्मान निधि की राशि दुगुनी करने की मांग सरकार से कर चुके हैं। इसको लेकर पिछले महीने आरएसएस से जुड़े भारतीय किसान संघ ने भी पीएम किसान सम्मान निधि की राशि को खेती की बढ़ी लागत के अनुसार बढ़ाने की मांग की थी। इससे पहले भी कई बार पीएम किसान सम्मान निधि की राशि बढ़ाने की मांग की जा चुकी है। इस सब बातों को देखते हुए उम्मीद है कि केंद्र सरकार इस बजट में पीएम किसान सम्मान निधि की राशि में बढ़ोतरी कर सकती है। मीडिया रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि अब किसानों को तीन की जगह इस योजना के तहत चार किस्तें दी जा सकती है।

सम्मान निधि की राशि बढ़ाने पर सरकार पर आएगा 22000 हजार करोड़ का अतिरिक्त भार :

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) की राशि में वृद्धि करने से सरकार पर 22000 हजार रुपए का अतिरिक्त खर्च आएगा। केंद्र सरकार के एक अधिकारी के मुताबिक ” प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की राशि में वृद्धि से खपत और ग्रामीण मांग को समर्थन मिल सकता है.” अधिकारी ने कहा कि योजना में भले ही दी जाने वाली राशि को दोगुना करने के सुझाव थे, राजस्व व्यय पर अंकुश लगाने और मुद्रास्फीति के दबाव के कारण सरकार का ध्यान वेतन वृद्धि को सीमित कर सकता है। योजना के तहत प्रति किसान 2,000 रुपए की वृद्धि करने से सरकार को करीब 22,000 करोड़ रुपए की वार्षिक अतिरिक्त लागत आएगी।

यह भी पढ़े :  Budget 2023 : बजट में आपके सपनों के घर पर क्या-क्या हुआ ऐलान, यहां जानिए हर बड़ी बात.

तीन वर्षों में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत जरूरतमंद किसानों को 2 खरब रुपए से अधिक की वित्तीय सहायता प्रदान की गई है, जो 2020 में कोरोना महामारी फैलने के कारण लॉकडाउन के समय वित्तीय संकट से निपटने के लिए किसानों के बहुत काम आई। सरकार ने वित्त वर्ष 2022-23 में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत किसानों के लिए 68,000 करोड़ रुपए आवंटित किए हैं। अंतरराष्ट्रीय खाद्य नीति अनुसंधान संस्थान की एक रिपोर्ट के अनुसार प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि ने कृषि आदानों, दैनिक उपभोग, शिक्षा, स्वास्थ्य और अन्य आकस्मिक खर्चों से निपटने के लिए किसानों की सहायता की है।

फरवरी में आ सकती है प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की 13वीं किस्त :

सरकार ने अक्टूबर में योजना की 12वीं किस्त जारी की थी जिसका लाभ देश के करोड़ों किसानों ने लिया था। साल 2023 की पहली और योजना की 13वीं किस्त सरकार द्वारा फरवरी में जारी की जा सकती हैं। हालांकि, अभी किस्त के आने की तारीख का ऐलान फिलहाल नहीं हुआ है। सभी किसानों को इंतजार है कि कब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों के खाते में 13वीं किस्त जारी करेंगे। इसमें देश के कुल 13 करोड़ किसान परिवारों को योजना का लाभ मिलना है। बता दें कि इस योजना में 13वीं किस्त का लाभ उन्हीं किसानों को  मिलेगा जिन्होंने केवाईसी की प्रक्रिया पूरी कर ली होगी।