Follow Us On Goggle News

PM kisan Yojana : किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी ! अब किसान मोबाइल से स्वीकृत करा सकेंगे केसीसी लोन, जानिए क्या है प्रक्रिया.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Digital Kisan Credit Card Scheme : डिजिटल किसान क्रेडिट कार्ड से केसीसी (digital KCC) की प्रक्रिया आसान होगी, अब किसानों को घर बैठे कृषि ऋण मिल सकेगा. जबकि इससे पहले किसानों को बैंक शाखा में जाना, भूमि स्वामित्व और अन्य दस्तावेज जमा कराना और केसीसी (PM kisan Yojana ) प्राप्त करने में अधिक समय लगना आदि कई चुनौतियां थी. लेेकिन डिजिटल केसीसी प्रक्रिया शुरू होने से किसानों की ये सभी समस्याएं दूर हो जाएगी.

 

PM kisan Yojana : देश के किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी आई है। अब किसानों को बैंक के लोन के लिए बैंक कार्यालय के चक्कर लगाने की जरूरत नहीं होगी। अब किसान घर बैठे मोबाइल के जरिये 1.60 लाख रुपए तक का कृषि ऋण आसानी से स्वीकृत करा सकेंगे। हाल ही में यूनियन बैंक ऑफ इंडिया मध्यप्रदेाश के हरदा जिले में किसान क्रेडिट कार्ड के डिजिटाइजेशन का काम शुरू किया गया है। यदि आपके पास पहले से केसीसी है तो आप बिना कोई जमानत दिए 1.60 लाख रुपए का लोन बैंक से ले सकते हैं। इसकी प्रक्रिया अब और भी आसान कर दी गई है। अब किसान मोबाइल के जरिये से घर बैठे ये इस प्रक्रिया को पूरा कर सकेंगे। 

यह भी पढ़ें :  PM Kisan Yojana : किसानों की बल्ले-बल्ले! इस दिन जारी होगी 11वीं किस्त की रकम, पीएम मोदी ने ट्वीट कर कही बड़ी बात.

 

इन किसानों ने उठाया डिजिटलाइजेशन का लाभ :

कार्यक्रम में किसान श्री शेरसिंह मौर्य को पहला डिजिटल किसान क्रेडिट कार्ड अतिथियों ने प्रदान किया। किसान क्रेडिट कार्ड ( digital KCC ) पाने वाली जिले की पहली महिला नीलम रमेश गुर्जर ने भी मंच से अपने अनुभव साझा किए और बताया कि मात्र आधा घण्टे में 1.60 लाख रुपए लोन मोबाइल के जरिये उन्हें प्राप्त हो गया। इसके लिए उन्हें मोबाइल के माध्यम से अपना आधार नंबर तथा बोई गई फसल के बारे में जानकारी भरना पड़ी और घर बैठे यह कार्य हो गया।

डिजिटल किसान क्रेडिट कार्ड ( digital KCC )  से किसानों को होंगे ये लाभ :

डिजिटल किसान क्रेडिट कार्ड से केसीसी (KCC) की प्रक्रिया आसान होगी, अब किसानों को घर बैठे कृषि ऋण मिल सकेगा। जबकि इससे पहले किसानों को बैंक शाखा में जाना, भूमि स्वामित्व और अन्य दस्तावेज जमा कराना और केसीसी प्राप्त करने में अधिक समय लगना आदि कई चुनौतियां थी। लेेकिन डिजिटल केसीसी ( digital KCC ) प्रक्रिया शुरू होने से किसानों की ये सभी समस्याएं दूर हो जाएगी। डिजिटल केसीसी से किसानों को जो लाभ होंगे, वे इस प्रकार से हैं

  • डिजिटल केसीसी से कृषि ऋण लेने की प्रक्रिया आसान होगी।
  • किसानों बैंक की किसी शाखा में जाने की आवश्यकता नहीं है।
  • किसानों कोई दस्तावेज जमा करने की आवश्यकता नहीं है।
  • कृषि भूमि सत्यापन ऑनलाइन किया जाएगा। 
  • डिजिटल केसीसी से लोन की मंजूरी और वितरण प्रक्रिया कुछ घंटों में पूरी हो जाती है।
यह भी पढ़ें :  LED Bulb Price: सिर्फ 10 रुपये में मिल रहा है 7 और 12 वॉट का LED बल्ब, तीन साल की गारंटी के साथ…जानिए इस सरकारी योजना का कैसे उठाएं लाभ.

केसीसी ( digital KCC ) से किसान कितना ले सकते हैं लोन :

किसानों को सस्ता ऋण उपलब्ध कराने के उद्देश्य से किसान क्रेडिट कार्ड योजना (Kisan Credit Card Scheme) शुरू की गई है। केसीसी के जरिये किसान 1.60 लाख रुपए का लोन बिना जमानत के ले सकते हैं। वहीं केसीसी से किसान 3 लाख रुपए का ऋण ले सकते हैं। अब तो पशुपालकों और मछलीपालकों को भी केसीसी की सुविधा दी जा रही है। ये लोग केसीसी से अधिकतम 2 लाख रुपए का लोन ले सकते हैं। 

केसीसी से लोन लेने पर कितना चुकाना होता है ब्याज :

जैसा कि आपको ऊपर बताया गया है कि केसीसी से किसान अधिकतम 3 लाख रुपए का लोन प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना के तहत बैंक द्वारा 7 प्रतिशत की दर से ब्याज वसूला जाता है। यदि आप लिया गया ऋण समय पर चुका देते हैं तो आपको 4 प्रतिशत ही ब्याज देना होगा। इस तरह आपको तीन प्रतिशत छूट का लाभ प्राप्त हो जाएगा। 

 

किसान कैसे कर सकते हैं केसीसी के लिए ऑनलाइन आवेदन :

जिन किसानों के पास अभी तक केसीसी कार्ड ( digital KCC ) नहीं है और वे इसे बनवाना चाहते हैं, लेकिन उन्हें नहीं पता की इसे कैसे बनवाएं, तो बता दें कि इसके लिए ऑनलाइन अप्लाई करके आप अपना केसीसी कार्ड बनवा सकते हैं। इसके लिए किसान ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं। इसकी प्रक्रिया इस प्रकार से है-

  • सबसे पहले जिस बैंक से केसीसी बनवाना हो इसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • यहां होम पेज पर अब सर्विसेज में किसान क्रेडिट कार्ड का विकल्प चुनें।
  • नए पेज पर आपको फॉर्म भरना होगा और उसमें पूछी गई सभी जानकारी सही भरनी होगी।
  • इसके बाद आपको रजिस्ट्रेशन नंबर मिलेगा।
  • यदि आप पात्र हैं, तो बैंक 3-4 कार्य दिनों के अंदर आगे प्रक्रिया के लिए आपसे संपर्क करेगा। 
यह भी पढ़ें :  CSC in Every Panchayat : बिहार के प्रत्येक पंचायत में खुलेगा ग्राहक सेवा केंद्र, जानिए क्या है प्रक्रिया.

केसीसी बनवाने के लिए किन दस्तावेजों की होती है जरूरत :

केसीसी बनवाने के लिए किसानों को जिन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी, वे इस प्रकार से हैं

  • आवेदन करने वाले किसान का आधार कार्ड
  • किसान का पैन कार्ड
  • खेती की जमीन के कागजात/बी-1/खाता खतौनी
  • बैंक खाता विवरण, इसके लिए पासबुक की कॉपी
  • किसान का आधार से लिंक मोबाइल नंबर
  • किसान का पासपोर्ट साइज फोटो  

इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page