Follow Us On Goggle News

Old Pension Scheme: हड़ताल के कारण क्या रेलवे लागू करेगा पुरानी पेंशन योजना ?

इस पोस्ट को शेयर करें :

Old Pension Scheme: ऑल इंडिया स्टेशन मास्टर एसोसिएशन के बैनर तले विभिन्न समस्याओं एवं मांगों को लेकर 31 मई को देश भर के स्टेशन मास्टर सामूहिक अवकाश पर रहेंगे। रेलवे में कार्यरत देशभर के तकरीबन 35000 स्टेशन मास्टरों ने 31 मई को एक दिन के सामूहिक अवकाश यानी हड़ताल पर जाने का निर्णय लिया है। यह बातें रविवार को आल इंडिया स्टेशन मास्टर एसोसिएशन के हावड़ा मंडल के सचिव कुंदन कुमार व संयुक्त सचिव रंजीत चौधरी ने कहीं।

 

एसोशिएशन के संयुक्त सचिव रंजीत चौधरी ने बताया कि आल इंडिया स्टेशन मास्टर एसोसिएशन के बैनर तले स्टेशन मास्टर अपनी पांच सूत्री लंबित मांगों को लेकर 31 मई को देशभर के लगभग 35000 स्टेशन मास्टर सामूहिक अवकाश पर रहेंगे। एसोसिएशन के हावड़ा मंडल के सचिव ने कहा कि स्टेशन मास्टर लंबित विभिन्न मांगों को लेकर आल इंडिया स्टेशन मास्टर एसोसिएशन पिछले कई वर्षो से शांतिपूर्ण आंदोलन करता आ रहा है।

यह भी पढ़ें :  Bihar Solar Light Yojana: मुखिया और पंचायत सचिव की निगरानी में लगेगा सोलर लाइट.

इसके बावजूद रेल प्रशासन की ओर से मांगें पूरी करने में आजतक कोई ठोस कदम नहीं उठाया है। इसलिए बाध्य होकर हड़ताल के लिए कदम उठाना पड़ा। उन्होंने बताया कि हावड़ा मंडल के लगभग 1000 स्टेशन मास्टर इस आंदोलन के समर्थन में 31 मई को सामूहिक अवकाश पर जाएंगे।

 

स्टेशन मास्टर एसोसिएशन के पदाधिकारियों का कहना है कि यह निर्णय कोई अचानक लिया गया फैसला नहीं है। यह लंबे संघर्ष के बाद लिया गया है। काफी समय से रेल प्रशासन से मांग हो रही थी। रेल प्रशासन ने उनकी मांगों को नहीं माना। अपनी मांगों को मनवाने के लिए उन्हें अब हड़ताल का रास्ता अपनाना पड़ रहा है।

 

क्या-क्या है मांगें: Old Pension Scheme

  • -रात्रि ड्यूटी भत्ता सीलिंग 43600 रुपये को तत्काल प्रभाव से समाप्त कर सभी एसएम को रात्री ड्यूटी भत्ता दिया जाए।
  • -स्टेशन मास्टर कैडर में खाली पदों को शीघ्र भरा जाए।
  • -एमएसीपी का लाभ 16 फरवरी 2018 के बजाय एक जनवरी 2016 से दिया जाए।
  • -स्टेशन मास्टर संवर्ग को पुनः पुनर्गठित कर पदनाम परिवर्तन करते हुए इसका लाभ दिया जाए।
  • -स्टेशन मास्टरों को संरक्षा तथा तनाव भत्ता दिया जाए।
  • -पदनाम परिवर्तन के साथ कैडर का वर्गीकरण करने
  • -रेलवे का निजीकरण एवं निगमीकरण बंद करने
  • -नई पेंशन स्कीम बंद करके पुरानी पेंशन स्कीम लागू करने सहित अन्य मांग शामिल हैं।
यह भी पढ़ें :  Ration Card : राशन कार्ड में तुरंत अपडेट करें अपना मोबाइल नंबर, वरना नहीं मिलेगा राशन, ये है पूरी प्रक्रिया.

 

 


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page