Follow Us On Goggle News

Kisan Credit Card: अब केवल तीन दस्तावेज दीजिए, एक पेज का फॉर्म भरना होगा और मिल जाएगा 3 लाख रुपये का लोन

इस पोस्ट को शेयर करें :

Kisan Credit Card: खेती-किसानी को आगे बढ़ाने के लिए मोदी सरकार ने बहुत आसान कर दिया है किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) बनवाना. जानिए कौन-कौन से दस्तावेज देने होंगे, कौन है इसे बनवाने के लिए पात्र और कितना लगेगा ब्याज.

 

Kisan Credit Card: मोदी सरकार ने अब किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) बनवाना बहुत आसान कर दिया है. ताकि किसानों को सस्ते रेट पर खेती-किसानी के लिए पैसा मिल सके. वो साहूकारों के चंगुल में न फसें. अब अगर आप पीएम किसान स्कीम का फायदा ले रहे हैं तो इसे बनवाना और भी आसान है. क्योंकि सरकार ने पहले ही आधार (Aadhaar), बैंक अकाउंट नंबर और लैंड रिकॉर्ड को वेरिफाई किया हुआ है. अब आपको केसीसी लेने के लिए सिर्फ तीन दस्तावेज देने होंगे और महज एक पेज का ही फार्म भरना होगा. आवेदन पत्र पूरा है तो उसे स्वीकार करने के सिर्फ दो सप्ताह के भीतर संबंधित बैंक को आपका किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) बनाकर देना होगा. ऐसा न होने पर आवेदक किसान बैंक अधिकारी के खिलाफ शिकायत कर सकता है.

यह भी पढ़ें :  PM Kisan Yojana : आपके खाते में भी आए हैं पीएम क‍िसान न‍िध‍ि के पैसे? सरकार दे रही एक और बड़ा फायदा.

 

आवेदन पत्र के साथ जरूरी दस्तावेजों के रूप में आपको सिर्फ पहचान पत्र, अड्रेस प्रूफ और खेती होने का रिकॉर्ड ही देना होगा. इसके अलावा दो पासपोर्ट साइज फोटो लगेगी. एक कागज पर यह बयान करना होगा कि आपका किसी और बैंक में कोई लोन बाकी नहीं है. सरकार ने बैंक अधिकारियों को गांवों में कैंप लगाकर किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के आदेश दिए हैं. अगर आपके गांव में कैंप नहीं लगा तो फटाफट पीएम किसान योजना (PM Kisan) की वेबसाइट के फार्मर कॉर्नर से केसीसी का फार्म निकालिए. उसे भरिए और तीन जरूरी दस्तावेज लगाकर बैंक को दे दीजिए.

केसीसी के लिए जरूरी दस्तावेज

आईडी प्रूफ के रूप में ड्राइविंग लाइसेंस, आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड और पासपोर्ट में से किसी एक की कॉपी देनी होगी.
अड्रेस प्रूफ के तौर पर ड्राइविंग लाइसेंस और आधार कार्ड में से कोई एक देना होगा.
आप किसान हैं इसे साबित करने के लिए रेवेन्यू रिकॉर्ड देना होगा. यह सर्टिफाइड होना चाहिए.
इसके अलावा विधिवत भरा हुआ आवेदन पत्र लगेगा
किसी और बैंक में कर्जदार न होने का शपथ पत्र देना होगा.

यह भी पढ़ें :  PM kisan Yojana : किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी ! पीएम मोदी ने लांच की एक और योजना, देश के करोड़ों किसानों को मिलेगा फायदा.

कौन ले सकता है केसीसी, कहां होगा आवेदन

केंद्रीय कृषि मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि खेती-किसानी, पशुपालन (Animal Husbandry) और मछलीपालन से जुड़ा कोई भी व्यक्ति केसीसी का फायदा ले सकता है. सामूहिक खेती, पट्टेदार, बटाईदार और स्वयं सहायता समूह भी लाभ ले सकते हैं. खेती-किसानी के लिए 3 लाख रुपये मिलेंगे. जबकि मछलीपालन और पशुपालन के लिए 2 लाख रुपये. सभी सरकारी, निजी, सहकारी और क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक इसे बना सकते हैं.

1.60 रुपये के लोन पर गारंटी की जरूरत नहीं

केसीसी के जरिए अगर आप 3 लाख रुपये का लोन लेते हैं तो जमीन की गारंटी देनी होगी. लेकिन अगर सिर्फ 1.60 रुपये का लोन लेते हैं तो इतनी रकम पर गारंटी की कोई जरूरत नहीं होगी. तीन लाख रुपये के कृषि कर्ज (Agri Loan) की ब्याज दर 9 परसेंट है. सरकार इसमें 2 फीसदी छूट देती है. अगर आप समय से पैसा लौटा रहे हैं तो 3 प्रतिशत की और छूट मिलती है. कुल मिलाकर समय पर पैसा लौटाने वालों को सिर्फ 4 परसेंट ब्याज देना होता है. सरकार चाहती है कि पीएम किसान स्कीम के जितने भी लाभार्थी हैं उन सभी को किसान क्रेडिट कार्ड का फायदा मिले.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page