Follow Us On Goggle News

जेपी सेनानियों को अब हर महीने मिलेंगे 15 हजार रुपये, जानिए क्या है जेपी सेनानी सम्मान योजना | JP Senani Samman Yojana.

इस पोस्ट को शेयर करें :

खास बातें : 
● 2009-10 में योजना की शुरुआत के बाद इसकी राशि में पहले भी बदलाव हो चुका है.
● बिहार की नीतीश कुमार सरकार ने जेपी सेनानियों की पेंशन बढ़ाने का ऐलान किया है.

 

JP Senani Samman Yojana: जेपी सेनानी सम्मान योजना (JP Senani Samman Yojana) खासतौर पर उन लोगों के लिए शुरू की गई है, जिन्होंने जेपी आंदोलन को सफल बनाने में अपना योगदान दिया था. 1974 के ऐतिहासिक जेपी आंदोलन के लिए बिहार एक तरह से सेंटर था. इस दौरान कई लोगों को जेल में ठूंसा गया था.

JP Senani Samman Yoajna: बिहार से उठकर देशभर में फैलने वाली 45 साल पहले हुई एक क्रांति आज भी दिलों में जिंदा है. लोकनायक जय प्रकाश नारायण के नेतृत्व में जो आंदोलन उठ खड़ा हुआ तो उसने सत्ता से निरंकुशता को उखाड़ फेंका. तब उस दौर में जय प्रकाश यानी जेपी के पीछे जो लोग चल पड़े थे उन्हें आज जेपी सेनानी कहा जाता है.

यह भी पढ़ें :  Bihar Labour Card : 50 रुपये में बनवाएं लेबर कार्ड ! होंगे लाखों के फायदे, जानिए कार्ड बनवाने की आसान प्रक्रिया.

इन्हीं जेपी सेनानियों के सम्मान में जेपी सेनानी सम्मान योजना (JP Senani Samman Yojana) शुरू की गई थी. बिहार देश का पहला राज्य है जिसने जिसने 2009-10 में जेपी सेनानियों के लिए सम्मान पेंशन शुरू की थी.

 

जेपी आंदोलन का सेंटर था बिहार : 

जेपी सेनानी सम्मान योजना (JP Senani Samman Yojana) खासतौर पर उन लोगों के लिए शुरू की गई है, जिन्होंने जेपी आंदोलन को सफल बनाने में अपना योगदान दिया था. बिहार 1974 के ऐतिहासिक जेपी आंदोलन का एक तरह से सेंटर था. इस दौरान कई लोगों को जेल में ठूंसा गया था.

जेल भरने की ये प्रक्रिया तकरीबन डेढ़ साल तक चली थी, जिसमें किसी को 1 या 2 महीने और छह महीनों से लेकर साल भर तक का वक्त जेल में बिताना पड़ा था.

JP Senani Samman Yojna-2

 

 

अभी तक मिलते थे इतने रुपये : 

2009-10 में योजना की शुरुआत करने के बाद इसकी राशि में पहले भी बदलाव हो चुका है. अभी तक इसमें 1 से 6 महीने तक का समय जेल में बिताने वाले सेनानियों को पांच हजार रुपये पेंशन और 6 महीने से अधिक या सालभर तक जेल में बिताने वालों को 10 हजार रुपये बतौर पेंशन मासिक दिए जाते थे. अभी हाल ही में बिहार की नीतीश कुमार सरकार ने जेपी सेनानियों की पेंशन बढ़ाने का ऐलान किया है. सीएम ने जेपी की जयंती के मौके पर ऐसा ऐलान किया है.

यह भी पढ़ें :  Papaya Farming : पपीते की खेती से होगी लाखों की कमाई, सरकार दे रही है 75 प्रतिशत सब्सिडी.

 

सीएम नीतीश ने की है घोषणा : 

जेपी सेनानी सम्मान पेंशन योजना की दोनों श्रेणियों के कुल 2681 सुपात्रों की पेंशन राशि में वृद्धि का ऐलान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किया है. नई घोषणा के मुताबिक अब पांच हजार रुपये मासिक पाने वालों को 7.5 हजार रुपये और 10 हजार पाने वालों को 15 हजार रुपये मासिक मिलेंगे.

जेपी आंदोलन में बिहा के युवाओं ने सबसे ज्यादा बड़ी भूमिका निभायी. इनके योगदान को राजकीय प्रतिष्ठा देने के लिए एनडीए सरकार ने पहले साल पेंशन मद में 1.31 करोड़ रुपये खर्च किये थे वहीं 2020-21 में 23.90 करोड़ खर्च किये गए. सम्मान पेंशन राशि में सरकार ने छह साल बाद दूसरी बार वृद्धि की है. अब तक इस योजना पर कुल 193.77 करोड़ रुपये खर्च हुए.

 


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page