Follow Us On Goggle News

Good News : दिवाली से पहले CM नीतीश कुमार ने किसानों को दिया बड़ा तोहफा, मंत्रिपरिषद की बैठक में लिए कई निर्णय.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Good News : किसानों के लिए एक बड़ी राहत की खबर है. इस साल बाढ़ में फसलों की हुई क्षति के मुआवजे के लिए सरकार ने 550 करोड़ रुपये जारी किए हैं.वहीं, कोरोना से मरने वालों के परिजनों को 50 हजार रुपये दिए जाएंगे.

Good News : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की अध्यक्षता में सोमवार को हुई मंत्रिपरिषद की बैठक में 12 एजेंडों पर मुहर लगी है. मंत्रिपरिषद की इस महत्वपूर्ण बैठक में कई अहम फैसले लिए गए हैं. किसानों के साथ-साथ बिहार सरकार ने कोरोना काल में जान गंवाने वालों के लिए भी बड़ा एलान किया है. किसानों के लिए एक बड़ी ( CM Nitish gave a big gift to the farmers ) राहत की खबर है कि इस साल बाढ़ में फसलों की हुई क्षति के मुआवजे के लिए सरकार ने 550 करोड़ रुपये जारी किए हैं. इसे किसानों के लिए दिवाली से पहले नीतीश कुमार का तोहफा कहा जा रहा है.

यह भी पढ़ें :  LPG Cylinder Subsidy : रसोई गैस सिलेंडर पर सब्सिडी अब किसको मिलेगी? सरकार ने साफ की तस्वीर

मंत्रिपरिषद की बैठक में निर्णय लिया गया है कि कोरोना से मरने वालों के परिजनों को 50 हजार रुपये दिए जाएंगे. इसके भुगतान के लिए सरकार ने 50 करोड़ की राशि का आवंटन आपदा प्रबंधन विभाग को किया है. दलहन और तिलहन की मिनी किट योजना के कार्यान्वयन और वित्तीय वर्ष 2021-22 में 50 करोड़ 61 लाख 82 हजार रुपये की निकासी और व्यय की स्वीकृति दी गई है.

इसके साथ ही प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत वित्तीय वर्ष 2021-22 के अंतर्गत 87 करोड़ 26 लाख 84000 की लागत पर योजना का कार्यान्वयन की स्वीकृति के साथ निकासी और व्यय की स्वीकृति दी गई है. बिहार कृषि विभागीय उद्यान कोटि-7 लिपिकीय नियमावली 2021 की स्वीकृति दी गई है.

बिहार कृषि अधीनस्थ सेवा कोटि-7 के अंतर्गत चतुर्थवर्गीय पद परिचारी भर्ती नियमावली 2021 की स्वीकृति दी गई है. नगर विकास एवं आवास विभाग के अधीन निर्मित जलापूर्ति योजनाओं के संचालन रख रखाव और अनुश्रवण अनुदेश की स्वीकृति दी गई है.

यह भी पढ़ें :  Bihar Crime : मानवाधिकार आयोग ने खुशी अपहरण कांड में मुजफ्फरपुर SSP को जारी किया नोटिस, मांगा जवाब.

12 अक्टूबर तक करना था कृषि क्षति का आकलन : बता दें कि मुख्यमंत्री द्वारा कृषि क्षति का आकलन 12 अक्टूबर तक पूरा करने के लिए निर्दश दिया गया था. आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से इसे 11 अक्टूबर तक ही जिलों से प्रतिवेदन ले लिया गया और किसानों के हित में सोमवार को मंत्रिपरिषद की ओर से कृषि इनपुट अनुदान के संदर्भ में बड़ा फैसला लिया गया.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page