Follow Us On Goggle News

Free Solar Pump : किसानों को मिलेगा सोलर पंप का तोहफा, किसानों को मुफ्त बिजली का लाभ देने के लिए लगाए जाएंगे 15 हजार पंप.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Free Solar Pump Yojana  : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में पांच साल यानी अपने पूरे कार्यकाल में एक लाख सोलर पंप लगवाने का ऐलान पहले ही कर दिया था. जिसे पूरा करने के लिए विभाग तैयारी में जुट गया है. अब जल्द ही किसानों को फ्री बिजली सोलर पंप का लाभ मिल सकेगा.

 

Free Solar Pump Yojana for Farmers : किसानों के लिए सरकार की ओर से कुसुम योजना के तहत सोलर पंप लगाए जा रहे हैंं। इससे किसानों को फ्री बिजली मिल सकेगी और इससे वे बिना रूकावट फसलों की सिंचाई कर सकेंगे। इसी क्रम में उत्तरप्रदेश में इस 15 हजार सोलर पंप लगाने का लक्ष्य रखा गया है। कृषि विभाग ने आदेश जारी करते हुए अधिकारियों को इस लक्ष्य को पूरा करने को कहा है। इससे राज्य के किसानों को लाभ होगा। उनको सिंचाई कार्य के लिए फ्री बिजली मिल सकेगी जिससे उनका बिजली पर होने वाला खर्च कम होगा।

 

कृषि विभाग ने की तैयारियां पूरी, किसानों को ऐसे मिलेगा लाभ :

उत्तर प्रदेश के कृषि विभाग ने इस वर्ष 15 हजार सोलर पंप लगाने की तैयारी अपनी तरफ से पूरी कर ली है। हालांकि 15 हजार सोलर पंप का लक्ष्य सरकार द्वारा पिछले साल ही तय किया गया था, लेकिन महामारी के चलते यह लक्ष्य पूरा नहीं किया जा सका था। अब इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए कृषि विभाग ने आदेश जारी किया है। यहीं नहीं पीएम कुसुम योजना 2024-25 तक संचालित करने की स्वीकृति भी दे दी है। बता देें कि प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा व उत्थान महाभियान (पीएम कुसुम) योजना के तहत किसानों को खेत में सोलर पंप लगवाने पर सब्सिडी दी जाती है। सब्सिडी से किसान आसानी से सोलर पंप लगवा सकेंगे और मुफ्त बिजली का लाभ उठा सकेंगे। बता दें कि इस योजना के तहत सोलर पंपों लगवाने पर 30 प्रतिशत का भुगतान केंद्र सरकार करेगी तथा 30 प्रतिशत राज्य सरकार और बाकी का भुगतान लाभार्थी किसानों को खुद करना होगा। 

यह भी पढ़ें :  PM Kisan Yojana Rules : एक परिवार में कितने लोग ले सकते हैं पीएम किसान योजना का लाभ, जानिए क्या है नियम.

 

सोलर पंप पर किसान को कितनी मिलेगी सब्सिडी :

सोलर पंप योजना के तहत कृषि सोलर पंप 2 हॉर्स पावर तक की स्थापना के लिए पात्र किसानों को 43200 रुपए की सब्सिडी दी जाएगी। इसके साथ ही डीसी सोलर पंप जिनकी 2 हॉर्सपावर से ज्यादा क्षमता है, उनके लिए पात्र किसानों को सरकार द्वारा 40500 रुपए की सब्सिडी दी जाएगी। डीसी सोलर पंप के साथ ही ऐसी सोलर पंप जिनकी क्षमता 2 हॉर्स पावर तक है। उनके लिए राज्य सरकार की ओर से 37800 रुपए तक सब्सिडी दी जाएगी। साथ ही एसी सोलर पंप जिनकी क्षमता 2 हॉर्स पावर से अधिक है। उनके लिए किसानों को 32400 रुपए तक की सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

 

प्रदेश सरकार ने किया था एक लाख सोलर पंप लगवाने का ऐलान :

बता दें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में पांच साल यानी अपने पूरे कार्यकाल में एक लाख सोलर पंप लगवाने का ऐलान पहले ही कर दिया था। जिसे पूरा करने के लिए विभाग तैयारी में जुट गया है। अब जल्द ही किसानों को फ्री बिजली सोलर पंप का लाभ मिल सकेगा। 

यह भी पढ़ें :  PM Awas Yojana : पीएम आवास योजना (PMAY ) से पूरा होगा आपके घर का सपना, इन 6 स्टेप में करें आवेदन.

 

सोलर पंप लगवाने के लिए किसानों को कहां करानी होगी बुकिंग :

अपर मुख्य सचिव कृषि डा. देवेश चतुर्वेदी के मुताबिक, पंजीकृत किसान कृषि विभाग के वेबसाइट upagriculture.com पर जाकर सोलर पंप के लिए बुकिंग कर सकते हैं। इसमें विभिन्न क्षमता के सोलर पंपों की स्थापना के लिए लाभार्थियों का चयन टोकन प्रक्रिया के माध्यम से किया जाएगा।

 

किसानों के चयन के लिए कोई मापदंड या पात्रता अनिवार्य नहीं :

कुसुम योजना के तहत किसानों के चयन के लिए कोई मापदंड या पात्रता नहीं रखी गई है। योजना में आवेदन करने वाले किसानों का चयन पहले आओ पहले पाओ पर होगा। इस योजना के तहत जिलावार व क्षमतावार आवंटित लक्ष्य के 200 प्रतिशत तक बुकिंग की जाएगी। 

 

सोलर पंप लगवाने के लिए ऑनलाइन होगी सत्यापन की प्रक्रिया

पीएम कुसुम योजना के तहत सोलर पंप लगवाने के लिए किसान को ऑनलाइन आवेदन करना होगा। आवेदन करने के बाद किसानों का सत्यापन किया जाएगा। किसानों को अधिक से अधिक लाभ प्रदान करने के लिए सत्यापन की प्रक्रिया हो सरल बना दिया गया है। अब जिला स्तरीय कमेटी को सत्यापन करके विवरण पोर्टल पर अपलोड करना होगा ताकि उस विवरण को कोई भी देख सके। इससे सत्यापन की प्रक्रिया में आसानी होगी और इसमें पारदर्शिता बनी रहेगी। बता दें कि पहले सत्यापन की प्रक्रिया में काफी समय लगता था जिससे किसानों को नुकसान होता था। 

यह भी पढ़ें :  Bihar News : नीतीश सरकार बड़ा फैसला, घटिया अनाज वितरण करने पर नपेंगे राशन दुकनदार और अधिकारी.

 

सोलर पंप लगवाने से किसानों को होंगे ये लाभ :

सोलर पंप लगने से किसान के लिए सिंचाई कार्य आसान होगा। किसान इच्छानुसार कभी भी सिंचाई कार्य कर सकेगा। उसकी बिजली पर निर्भरता कम होगी। इससे उसका बिजली बिल कम होगा।

  • किसान कम लागत पर सिंचाई कार्य कर पाएंगे। उसकी डीजल की लागत कम होगी। 
  • किसान अपनी कृषि कार्य के अतिरिक्त बिजली का उत्पादन करके ग्रिड को बेच सकेंगे जिससे उन्हें अतिरिक्त आय होगी। 
  • सोलर प्लांट के नीचे किसान सब्जियां भी उगा सकेंगे जिससे उन्हें लाभ होगा।
  • सोलर पंप लगवाने के लिए सरकार से सब्सिडी दी जाएगी जिससे कम लागत पर वे पंप की स्थापना कर पाएंगे। 
  • सोलर पंप योजना के तहत सरकार द्वारा 10 हजार गांव को कवर करने का लक्ष्य रखा गया है।
  • मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना 2022 के अंतर्गत स्थापित किए गए सौर ऊर्जा पंप सेटों का करीब 7 वर्ष तक का निशुल्क बीमा कंपनी द्वारा प्रदान किया जाएगा। 

इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page