Follow Us On Goggle News

E-Passport Seva : जानिए पुराने पासपोर्ट का क्या होगा और नया ई- पासपोर्ड कैसे काम करेगा?

इस पोस्ट को शेयर करें :

E-Passport Seva : नया ई- पासपोर्ड (E-Passports) पुराने पासपोर्ट की तरह ही काम करेगा, लेकिन इसमें एक स्मॉल चिपसेट लगी हुई नजर आएगी. इस इलेक्ट्रिक चिपसेट के अंदर यूजर्स को डाटा होगा.

 

E-Passport Seva : एडवांस होती तकनीक के बीच में अब पासपोर्ट भी ई-चिपसेट के साथ दस्तक देगा. इसको लेकर विदेश मंत्री एस जयशंकर ने लेटेस्ट जानकारी दी है, उन्होंने बताया है कि ई पासपोर्ट इस साल के आखिर तक जारी हो सकते हैं. उन्होंने आगे बताया है कि भारत सरकार विदेश यात्रा करने वाले लोगों का एक्सपीरियंस बेहतर करना चाहती है. अब सवाल आता है कि आखिर ये ई-पासपोर्ट क्या है और पुराने पासपोर्ट (Passport) का क्या होगा. इतना ही नहीं ये इलेक्ट्रिक पासपोर्ट कैसे करेगा.

 

ई-पासपोर्ट की बात करने से पहले बता देते हैं कि ऐसा करने वाले हम पहले नहीं हैं बल्कि 100 से भी अधिक देश पहले से ही ई-पासपोर्ट देते हैं. इसमें आयरलैंड, जिम्बावे, पाकिस्तान, नेपाल, बांग्लादेश जैसे देश पहले ही ई-पासपोर्ट मुहैया कराते हैं. इसकी मदद से देश अपने नागरिक का डाटा अंतरराष्ट्रीय सिविल एविएशन ऑर्गनाइजेशन के लिए जारी करती है.

यह भी पढ़ें :  Bihar Solar Light Yojana: मुखिया और पंचायत सचिव की निगरानी में लगेगा सोलर लाइट.

आखिर क्या है ई पासपोर्ट? (What is an e-passport?)

E-Passport के बारे में बताते हैं कि यह नॉर्मल फिजिकल पेपर वाले पासपोर्ट की तरह ही काम करता है. इलेक्ट्रिक पासपोर्ट में एक छोटी इलेक्ट्रोनिक चिपसेट होती है, जो आपको ड्राइवर लाइसेंस की तरह भी नजर आ सकता है. पासपोर्ट के अंदर लगाई गई चिपसेट में पोसपोर्ट होल्डर्स का सभी जरूरी डाटा होगा, जैसे नाम, डेट ऑफ बर्थ, पता और ब्लड ग्रुप आदि. इस प्रकार के पासपोर्ट में रेडियो फ्रीक्वेंसी आईडेंटीफिकेशन (RFID Chip) चिप का इस्तेमाल किया जा सकता है. इसकी मदद से संबंधित अथॉरिटी आपकी जानकारी को तुरंत वैरिफाई कर सकेगी. इस ई-पासपोर्ट को लाने का उद्देश्य फर्ज पासपोर्ट के सर्कुलेशन को रोकना है. साथ ही डाटा टैंपरिंग को भी रोकना है.

कौन बनाएगा पासपोर्ट? (Who will make e-passports?)

भारत में टेक जगत की दिग्गज कंपनी टाटा कंसलटेंसी सर्विस (टीसीएस) ई पासपोर्ट प्रोग्राम पर काम कर रही है और इस सर्विस को इस साल के आखिर तक जारी कर दिया गया है. इसकी जानकारी खुद सरकार दे चुकी है. टीसीएस ने बताया है कि वह विदेश मंत्रालय के साथ एक न्यू कमां एंड कंट्रोल सेंटर तैयार कर रही हैं. यह न्यू डाटा सेंटर्स प्रोजेक्ट से जुड़ी जरूरी सामान को यहां रखेंगे.

यह भी पढ़ें :  e-Passport Yojana : मोदी सरकार का बड़ा फैसला ! अब घर बैठे बनेगा ई-पासपोर्ट, जानिए कैसे काम करता है ई-पासपोर्ट?

कब जारी होगा ई-पासपोर्ट? (When will e-passports roll out?)

जैसा कि हम पहले ही बता चुके हैं कि विदेश मंत्री एस जयशंकर ने शुक्रवार को अपने बयान में कहा कि इस साल के आखिर तक ई-पासपोर्ट को जारी कर दिया जाएगा.

 

बिना चिप वाले पासपोर्ट का क्या होगा? (Will existing passport holders’ need to upgrade?)

अभी तक मौजूदा पासपोर्ट होल्डर्स के लिए सरकार का कोई ऐसा बयान नहीं आया है, जिसमें वर्तमान पासपोर्ट होल्डर्स को अपग्रेड करने के लिए कहा गया हो. अभी इसके बारे में क्लियरिटी चिपसेट वाले पासपोर्ट लॉन्च होने के बाद होगी.

 

कैसे नजर आएगा नया ई-पासपोर्ट? (How will e-passports look like?)

अन्य देशों की तरह भारत में तैयार होने वाला ई-पासपोर्ट एक दम नॉर्मल पासपोर्ट की तरह ही होगा, जिसके अंदर चिपसेट को इंस्टॉल किया जाएगा. इसे भी फिजिकल पासपोर्ट की तरह अंतरराष्ट्रीय उड़ान के दौरान लेकर जाना होगा.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page