Follow Us On Goggle News

Bihar Solar Light Yojana : जुलाई से पंचायतों में लगेगी सोलर स्ट्रीट लाइट, इनकों मिलेगा टेंडर.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Bihar Solar Light Yojana: बिहार सरकार की 7 निश्चय पार्ट-2 में स्वच्छ गांव समृद्ध गांव योजना के तहत गांव-गली अब रोशन होंगे। सीएम सोलर स्ट्रीट लाइट योजना से गांवों में सोलर लाइट लगनी है। इसके लिए जिला पंचायती राज विभाग ने कार्ययोजना तैयार की है।

 

Bihar Solar Light Yojana: सूबे के पांच जिलों के एक-एक पंचायत में सोलर स्ट्रीट लाइट पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर लगेगी। इन पंचायतों में जुलाई में ही लाइट लगाने का काम होगा। इसको लेकर पंचायती राज विभाग ने बिहार रिन्यूएबल एनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी (ब्रेडा) को पंचायतों की सूची भेज दी है।

इन पंचायतों में पहले लाइट लगेगी, जिसके बाद राज्य के सभी 8067 पंचायतों में कार्य शुरू होगा। पूर्वी चंपारण के बंजरिया, भोजपुर के जगदीशपुर, नालंदा के हरनौत, मुंगेर के तारापुर और खगड़िया के परबत्ता प्रखंड की एक-एक ग्राम पंचायत में पायलट प्रोजेक्ट के तहत लाइट लगायी जाएंगी। मालूम हो कि मुख्यमंत्री ग्रामीण सोलर स्ट्रीट लाइट योजना के अंतर्गत राज्य के सभी पंचायतों के कुल एक लाख 11 हजार ग्रामीण वार्डों में दस-दस लाइटें लगनी हैं।

यह भी पढ़ें :  Bihar News : मार्च से जगमगाएंगे सभी वार्ड, सूबे के सभी गांव में स्ट्रीट लाइट लगाने का प्लान तैयार.

इसके लिए एजेंसियों का चयन ब्रेडा के द्वारा कर लिया गया है। इसी दौरान विभाग का निर्णय है कि पहले विभिन्न जिलों के पांच पंचायतों में सोलर स्ट्रीट लाइट योजना का डेमो किया जाएगा। इस योजना को दो वर्षों में पूरे बिहार में किया जाना है। शहरों की तर्ज पर गांवों के चौराहों और रास्तों पर रोशनी रहे, इसी मकसद से यह योजना सात निश्चय-2 के अंतर्गत पूरी करनी है।

बिजली के पोल पर इन स्ट्रीट लाइट को लगाया जाएगा : बिजली के पोल पर इन स्ट्रीट लाइट को लगाया जाएगा। इसके लिए बिजली पोल का सर्वे ग्राम पंचायतों की मदद से पहले ही कर लिया गया है। एक प्रखंड में किसी एक ही एजेंसी को स्ट्रीट लाइट लगाने की जिम्मेदारी दी जाएगी। उस प्रखंड के सभी पंचायतों में वही एजेंसी काम करेगी। स्ट्रीट लाइट स्थापित करने के बाद पांच सालों तक उसका रख-रखाव भी संबंधित एजेंसी की ही जिम्मेदारी होगी।


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page