Follow Us On Goggle News

नए साल में आयेगी बड़ी खुशखबरी! बिहार के बेटियों को मिलने वाले हैं 50 हजार रुपये | Mukhyamantri Kanya Utthan Yojana

इस पोस्ट को शेयर करें :

Mukhyamantri Kanya Utthan Yojana: नए साल पर बिहार की नीतीश सरकार ‘मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना’ के लिए प्रोत्साहन राशियां बांटेगी. जल्द ही इंटर पास छात्राओं के अकाउंट में 25000 से लेकर 50000 तक की बड़ी रकम आ सकती है.

Mukhyamantri Kanya Utthan Yojana: बिहार की बेटियों के लिए बड़ी खुशखबरी है. नए साल पर नीतीश सरकार ने प्रदेश की लाखों छात्राओं को नए साल में तोहफा देने का ऐलान किया है. जल्द ही उनके खाते में 25000 से लेकर 50000 तक की बड़ी रकम आ सकती है. दरअसल, बिहार सरकार जल्द ही ‘मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना’ (Mukhyamantri Kanya Utthan Yojana) के लिए प्रोत्साहन राशियां बांटेगी.

इंटर पास छात्राओं को मिलेगी प्रोत्‍साहन राशि :

इस योजना में अविवाहित इंटर पास छात्राएं और ग्रेजुएट छात्राएं दोनों ही शामिल हैं. इंटर पास अविवाहित छात्राओं को 25,000 रुपये और ग्रेजुएशन करने पर 50,000 रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी.मुख्‍यमंत्री कन्‍या उत्‍थान योजना के तहत प्रदेश सरकार ने 631 करोड़ रुपये की राशि आवंटित कर दी है. यह राशि वित्‍त 2021-22 के अंतर्गत वितरित की जाएगी. इस अवधि में राज्‍य सरकार से मान्‍यता प्राप्‍त बोर्ड से इंटर की परीक्षा पास करने वाली छात्राओं को ही योजना का लाभ मिलेगा.

यह भी पढ़ें :  PM Kisan Yojana 2021 : अब किसानों को 6000 की जगह मिलेंगे 36000 रुपये, बस करना होगा यह काम.

 

मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना के फायदे :

मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना के तहत राज्य की बालिकाओं को उसके जन्म से लेकर स्नातक तक की पढ़ाई तक आर्थिक सहायता मिलती है। यह रकम अलग—अलग किस्तों में दी जाएगी। लड़की के जन्म पर सरकार दो हजार रुपये खाते में ट्रांसफर करती है। वहीं, एक वर्ष की आयु होने और आधार कार्ड बनवाने के बाद एक हजार रुपये दो साल तक मिलेंगे। 2 वर्ष की उम्र के बाद दो हजार रुपये दिए जाएंगे। 12वीं पास करने के बाद 10,000 और स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद 25,000 रुपये मिलेंगे। ऐसे मिलाकर एक लड़की को कुल 51,100 की राशि मिलती है।

 

फरवरी में ही हो चुकी है घोषणा :

बता दें, बिहार सरकार ने फरवरी में ही इंटर पास करने वाली छात्राओं को प्रोत्‍साहन राशि के तौर पर 25 हजार रुपये देने की घोषणा की थी, लेकिन कोरोना महामारी के कारण फंड का समय पर आवंटन नहीं हो सका था. अब राज्य सरकार ने नए साल के मौके पर छात्राओं को दोहरी खुशी देने की बात कही है.

यह भी पढ़ें :  मुर्गी पालन का बिजनेस शुरू करें और हर महीने लाखों कमाए | Poultry Farming Business 2021.

1.6 करोड़ छात्राओं को मिलेगा लाभ :

जानकारी के मुताबिक, सीएम की इस योजना में डीबीटी यानी डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से उपलब्ध कराया जाएगा. राज्य में बाल विवाह पर रोकने और छात्राओं को उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से बिहार सरकार यह योजना चला रही है. सरकार के अनुसार, इस स्कीम से राज्य की करीब 1.6 करोड़ छात्राओं को फायदा मिलेगा.

 

योजना के लिए पात्रता :

इस योजना का लाभ लेने के लिए बालिका बिहार निवासी होनी चाहिए। प्राथमिक या माध्यमिक स्तर की स्कूल या 12 वीं कक्षा में अध्ययनरत सभी छात्राएं, योजना के लिए पात्र हैं। इस योजना में आर्थिक रूप से कमजोर छात्राओं को प्राथमिकता दी जाएगी। सरकारी क्षेत्र में काम करने वाले माता-पिता की बेटियों के लिए यह योजना लागू नहीं होगी। एक परिवार के केवल दो बालिकाओं को इस योजना का लाभ मिलेगा।

कैसे करें आवेदन :

इस योजना के आवेदन के लिए आपको आंगनवाड़ी केंद्र पर जाना होगा। यहां आपको आवेदन पत्र प्राप्त करने के बाद उसमें सभी जानकारी भर कर जरूरी दस्तावेजों के साथ आंगनवाड़ी सेविका के पास जमा करवाना होगा।


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page