Follow Us On Goggle News

PM Jan Dhan Yojana : पीएम जन-धन योजना के लाभार्थियों के लिए बड़ी खबर ! बस एक मिस कॉल से जानें अपना बैलेंस, ऐसे चेक करें स्टेटस.

इस पोस्ट को शेयर करें :

PM Jan Dhan Yojana 2022 : अगर आप भी जन-धन खाता वाले हैं तो आपके लिए जरूरी खबर है. अब आप अपने जन-धन खाते का बैलेंस आसानी से मिस्ड कॉल के जरिए या PFMS पोर्टल के जरिये चेक कर सकते हैं. आइये जानते हैं इन दोनों का पूरा प्रोसेस.

 

PM Jan Dhan Yojana 2022: प्रधानमंत्री जन-धन योजना (Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana) के लाभार्थियों के लिए काम की खबर है. प्रधानमंत्री जन-धन योजना (PMJDY) के तहत देश के गरीबों का खाता जीरो बैलेंस पर बैंक, पोस्ट ऑफिस और राष्ट्रीयकृत बैंको में खोला जाता है. इस योजना के तहत ग्राहकों को कई बड़ी सुविधाएं दी जाती हैं. अगर आप भी अपने खाते का बैलेंस चेक (Jan Dhan Bank Account) करना चाहते हैं तो आप घर बैठे बस एक मिस्ड कॉल (Missed Call) के जरिए इसकी जानकारी ले सकते हैं. आइए जानते हैं इसकी पूरी प्रक्रिया.

 

 

ऐसे पता करें अपना बैलेंस :

आप अपने जन-धन खाते का बैलेंस दो तरीकों से पता लगा सकते हैं. इसमें पहला तरीका है मिस्ड कॉल के जरिए और दूसरा तरीका PFMS पोर्टल के जरिये. यानी आप घर बैठे इसे मिनटों में अपना स्टेटस चेक कर सकते हैं. आइये जानते हैं इन दोनों का पूरा प्रोसेस.

 

PFMS पोर्टल के जरिए :

  • PFMS पोर्टल से बैलेंस जानने के लिए आप सबसे पहले इस लिंक https://pfms.nic.in/NewDefaultHome.aspx# पर जाएं.
  • अब यहां आप ‘Know Your Payment’ पर क्लिक करें.
  • इसके बाद आप अपना अकाउंट नंबर एंटर करें.
  • अब आपको यहां दो बार अकाउंट नंबर डालना होगा.
  • इसके बाद आप दी गये कैप्चा कोड को भरें.
  • इसके बाद आपके खाते का बैलेंस आपके सामने स्क्रीन पर आ जाएगा.

 

मिस्ड कॉल के जरिए चेक करें स्टेटस :

अगर आप मिस्ड कॉल के जरिए बैलेंस चेक करना चाहते हैं तो भी जान सकते हैं. इसके तहत अगर आपका स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में जन धन खाता है तो आप मिस्ड कॉल के जरिए बैलेंस पता लगा सकते हैं. इसके लिए आप 18004253800 या फिर 1800112211 नंबर पर मिस्ड कॉल करें. ग्राहक ध्यान दें, आपको अपना रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से ही इस पर मिस्ड कॉल करना है. यानी बैंक के नियम के अनुसार, जिस नंबर से अपने रजिस्ट्रेशन किया है उसी नंबर से आपको मिस्ड कॉल देना होगा.

यह भी पढ़ें :  Sarkari Yojana 2021 : इस सरकारी योजना के तहत 5,000 रुपये तक की मासिक पेंशन प्राप्त करें, जानिये पात्रता, लाभ और नियम.

 

क्या है पीएम जनधन खाता ?

पीएम जनधन खाता योजना की शुरुआत 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योजना की थी. अब तक इस योजना में करीब 38 करोड़ से अधिक जनधन खाते खोले जा चुके हैं. सरकारी बैंकों के अलावा कई निजी बैंक भी अपनी शाखाओं में पीएम जनधन खाता खोलने की अनुमति देते हैं. आरबीआई के नियमों के मुताबिक यदि किसी व्यक्ति के पास जरूरी दस्तावेज नहीं हैं तो भी वह कम जमा और निकासी की सीमा के साथ जनधन खाता खोल सकता है.

 

जनधन खाता खोलने से क्या-क्या मिलते हैं लाभ

  • जनधन खाता खोलने से खाता धारक को 2 लाख रुपए तक का दुर्घटना बीमा दिया जाता है.
  • जनधन खाताधारकों को 30,000 रुपए का जीवन बीमा कवर भी मिलता है.
  • जनधन खाते में आप महीने में 10 हजार रुपए तक निकाल सकते हैं.
  • इस योजना के तहत खाता धारक अपने जनधन खाते में अधिकतम 1 लाख रुपए तक जमा कर सकते हैं.
  • जनधन खाता धारकों को बैंक मुफ्त मोबाइल बैंकिंग की सुविधा देते हैं जिसके जरिये खाता धारक आसानी से अपने जनधन खाते की शेष राशि जांच कर सकते हैं.
  • जनधन खाता धारकों को बैंक की ओर से एक रुपे डेबिट कार्ड भी मिलता है, जिसमें 10,000 रुपए तक की ओवरड्राफ्ट सुविधा प्रदान की जाती है.

 

जनधन खाते में सबसे पहले आता है सरकारी योजनाओं का पैसा :

  • जनधन खाता धारक को सभी सरकारी योजनाओं का लाभ मिलता है। यही कारण है कि सबसे पहले सरकारी योजनाओं का जनधन खाते में ही पैसा ट्रांसफर किया जाता है.
  • जनधन खाते में ही सबसे पहले पीएम किसान सम्मान निधि जैसी लाभकारी सरकारी योजनाओं का लाभ प्रदान किया जाता है.
  • जनधन खाताधारक पीएम किसान और श्रम योगी मानधन योजना जैसी प्रत्यक्ष लाभ योजनाओं के लिए आवेदन करने के पात्र हैं. 
  • महिला खाताधारकों को उनके जनधन खातों में उज्ज्वला योजना के तहत एलपीजी सब्सिडी और रिफिल शुल्क का सीधा लाभ मिलता है.
यह भी पढ़ें :  PM Kisan Yojana : इस तारीख को आएगी PM किसान की 11वीं किस्त ! अगर स्टेटस में लिखा है ये तो पक्का आएगा पैसा.

 

पीएम जनधन खाता खोलने के लिए किन दस्तावेजों की होगी आवश्यकता :

पीएम जनधन खाता खोलने के लिए आपको कुछ दस्तावेजों की जरूरत होगी जो इस प्रकार से हैं :

  • यदि आधार कार्ड/आधार संख्या उपलब्ध है तो कोई अन्य दस्तावेज आवश्यक नहीं है। यदि पता बदल गया है तो वर्तमान पते का स्वप्रमाणन पर्याप्त है.
  • यदि आधार कार्ड उपलब्ध नहीं है तो निम्नलिखित सरकारी रूप से वैध दस्तावेजों (ओवीडी) में से किसी एक की आवश्यकता होगी.
  • जनधन खाते के लिए आवेदन करने वाले व्यक्ति मतदाता पहचान पत्र
  • आवेदन करने वाले व्यक्ति का ड्राईविंग लाइसेंस
  • आवेदन करने वाले का पैन कार्ड
  • आवेदन करन वाले का पासपोर्ट साइज फोटो तथा नरेगा कार्ड। यदि इन दस्तावेजों में आपका पता भी मौजूद है तो ये पहचान तथा पते का प्रमाण दोनों का काम कर सकता है.

 

यदि किसी व्यक्ति के पास उपरोक्त बताए गए वैध सरकारी कागजात नहीं हैं, लेकिन इसे बैंक द्वारा कम जोखिम की श्रेणी में वर्गीकृत किया जाता है तो वह निम्नलिखित में से कोई एक कागजात जमा करके ये खाता खुलवा सकता है. यह इस प्रका से है :

  • केंद्र/राज्य सरकार के विभाग, सांविधिक/विनियामकीय प्राधिकारियों, सार्वजनिक क्षेत्रके उपक्रम, अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों और लोक वित्तीय संस्थानों द्वारा जारी आवेदक के फोटो वाले पहचान पत्र
  • उक्त व्यक्ति के विधिवत सत्यापित फोटोग्राफ के साथ राजपत्रित अधिकारी द्वारा जारी किया गया पत्र होना जरूरी है.

 

कैसे खोलें जन धन योजना खाता/जनधन खाता खोलने का तरीका :

  • जनधन खाता खोलने के लिए आप ऊपर बताएं गए बैंक से आवेदन प्राप्त कर सकते हैं. इसके अलावा ये पीएमजेडीवाई की अधिकारिक वेबसाइट पर भी उपलब्ध है। ये दो भाषाओं अंग्रेजी और हिंदी में है.
  • इस फॉर्म को सही-सही भरें और मांगे गए आवश्यक दस्तावेज इसके साथ लगाएं.
  • इसके बाद अपने निकटतम बैंक शाखा में जमा करा दें। आपका जनधन खाता खोल दिया जाएगा.
यह भी पढ़ें :  PM Shadi Shagun Yojana: बेटियों को मोदी सरकार का तोहफा! शादी के हर लड़की को मिलेगा 51 हजार रुपये, यहाँ करें आवेदन.

 

जिनके पास कोई वैध दस्तावेज नहीं है वे खाता कैसे खुलवाएं :

जिन व्यक्तियों के पास कोई भी आधिकारिक वैध दस्तावेज नहीं हैं, वे बैंक में लघु खाते खोल सकते हैं. लघु खाता स्वयं द्वारा सत्यापित फोटोग्राफ के आधार पर और बैंक के अधिकारी की उपस्थिति में हस्ताक्षर कर या अंगूठे का निशान लगाकर खोला जा सकता है. ऐसे खातों की सकल जमा एक वर्ष में एक लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए. वहीं सकल आहरण एक महीने में 10 हजार रुपए से अधिक नहीं होना चाहिए. इसी के साथ इस प्रकार के खातों में शेष राशि किसी भी समय 50 हजार रुपए से अधिक नहीं होनी चाहिए. ये लघु खाते सामान्यत: 12 महीनों की अवधिके लिए वैध होंगे. इसके बाद ऐसे खातों को और 12 महीनों के लिए जारी रखने की अनुमति होगी. यदि खाता धारक एक दस्तावेज प्रस्तुत करता है जो यह दर्शाता हो कि उसने लघु खाता खोलने के बारह महीनों के अंदर किसी अधिकारिक वैध दस्तावेज के लिए आवेदन किया है. यह जानकारी भारतीय रिजर्व बैंक यानि आबीआई ने अपनी दिनांक 26.08.2014 की  प्रेस विज्ञपति के माध्यम से स्पष्ट की है.

इन बैंकों में खुलवाया जा सकता है जनधन खाता :

जनधन खाता किसी भी सरकारी बैंक में खुलवाया जा सकता है. इसके अलावा कई प्राइवेट बैंक भी जनधन खाता खोलने लगे हैं. आपकी सुविधा के लिए हम देश के प्रमुख बैंकों की सूची दे रहे हैं जो जनधन खाता खोलते हैं :

  • एचडीएफसी बैंक
  • ऐक्सिस बैंक
  • आईसीआईसीआई बैंक
  • यस बैंक
  • फेडरल बैंक
  • कोटक महिंद्रा बैंक
  • कर्नाटक बैंक
  • इंडसइंड बैंक
  • आईएनजी वैश्य बैंक
  • धनलक्ष्मी बैंक

इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page