Follow Us On Goggle News

Ration Card : सरकार ने फ्री राशन योजना में क‍िया बड़ा बदलाव ! इसी महीने लागू होगा न‍ियम, जानिए पूरा डिटेल.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Big change in free ration scheme : यूपी में केंद्र सरकार की तर्ज पर फ्री राशन योजना को शुरू क‍िया गया था. अब सरकार ने इसे बंद करने का न‍िर्णय ल‍िया है. राज्‍य के सभी ज‍िला पूर्त‍ि अध‍िकार‍ियों ने इस संबंध में आदेश दे द‍िया है.

 

Ration Card Update : अगर आप उत्‍तर प्रदेश में रहते हैं और सरकार की ‘मुफ्त राशन योजना’ का लाभ लेते हैं तो यह अपडेट आपको जरूर पता होना चाह‍िए. साल 2020 में कोव‍िड महामारी (Covid-19) के दौरान यूपी की योगी सरकार ने राशन कार्ड धारकों के लिए केंद्र सरकार की तर्ज पर फ्री राशन योजना (Free ration scheme) को शुरू क‍िया था. अब सरकार ने इसे बंद करने का न‍िर्णय ल‍िया है. राज्‍य के सभी ज‍िला पूर्त‍ि अध‍िकार‍ियों ने इस संबंध में आदेश दे द‍िया है.

गेहूं-चावल के ल‍िए करना होगा भुगतान :

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (Pradhanmantri Garib Kalyan Yojana) के अंतर्गत म‍िलने वाला मुफ्त राशन स‍ितंबर तक म‍िलेगा. कुछ मीड‍िया र‍िपोर्ट में इसे आगे बढ़ाने की बात कही जा रही है. लेक‍िन अब यूपी में योगी सरकार की मुफ्त राशन योजना बंद होने के बाद कार्ड धारकों को गेहूं-चावल व अन्‍य सामग्री के ल‍िए भुगतान करना होगा.

यह भी पढ़ें :  नल-जल योजना शिकायत एप लांच : गड़बडी को लेकर इस एप से दस दिन में दूर होगी समस्या. Nal - Jal Yojana Complaint App Launched

 

स‍ितंबर महीने से ही लागू हो पाएगा न‍ियम :

कार्ड धारकों को गेहूं के ल‍िए 2 रुपये प्रति किलो और चावल के ल‍िए 3 रुपये प्रति किलो की दर से भुगतान करना होगा. जुलाई से यह बदलाव लागू क‍िया गया है. यूपी में राशन व‍ितरण दो महीने की देरी से चल रहा है. ऐसे में स‍ितंबर महीने के राशन के बदले लाभार्थ‍ियों को भुगतान करना होगा.

 

15 करोड़ लोगों पर पड़ेगा असर :

योगी सरकार ने कोविड महामारी के दौरान शुरू की गई मुफ्त राशन योजना को पहले मार्च 2022 तक बढ़ाया था. मार्च में सत्‍ता में वापसी के बाद इसे तीन महीने के लिए और बढ़ाया गया था. फ‍िलहाल यूपी में राशन कार्डधारकों की संख्या 3.59 करोड़ है. इसमें गृहस्थ राशन कार्ड धारक 3.18 करोड़ और अंत्योदय कार्ड धारक 40.92 लाख हैं. दोनों तरह के राशनकार्ड पर कुल आश्रित 14.94 करोड़ हैं.

 

अभी तक पात्र गृहस्थी कार्ड धारकों को 3 किलो चावल और 2 किलो गेहूं द‍िया जाता है. वहीं, अंत्योदय कार्ड धारकों को 14 किलो गेहूं और 21 किलो चावल द‍िया जाता है. इस राशन को सरकार कोव‍िड से अब तक मुफ्त दे रही थी. लेक‍िन अब गेहूं के ल‍िए 2 रुपये प्रति किलो और चावल के ल‍िए 3 रुपये प्रति किलो का भुगतान करना होगा.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page