Follow Us On Goggle News

Atal Kalyan Yojana : बेरोजगारी भत्ता चाहिए ? फटाफट कराएं रजिस्ट्रेशन, ये रही प्रक्रिया; जानिए कैसे मिलेगा लाभ.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Atal Kalyan Yojana : इस योजना की मदद से औद्योगिक कर्मचारियों को बेरोजगारी अलाउंस दिया जाता है. ESIC ने इस योजना को 30 जून, 2022 तक बढ़ा दिया है.
खास बातें : 
 कोरोना काल में नौकरी गंवाने वालों के खाते में सरकार भेज रही पैसे.
 फटाफट कराएं इस योजना में रजिस्ट्रेशन.
 ESIC ने इस योजना को 30 जून, 2022 तक बढ़ा दिया.

Atal Kalyan Yojana : कोरोना काल में कइयों की नौकरी चली गई है. सरकार बेरोजगारों (Unemployment) के लिए सरकार बेरोजगारी भत्ता (unemployment allowance) देती है. बेरोजगारों को भत्ता देने के लिए सरकार ने ‘अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना’ (Atal Beemit Vyakti Kalyan Yojana) नाम से एक स्कीम शुरू की है. इस योजना के तहत 50 हजार से ज्यादा लोगों लाभान्वित हुए हैं. कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ESIC) इस स्कीम को चलाता है.

कोरोना महामारी को देखते हुए सरकार ने ‘अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना’ को 30 जून 2022 तक बढ़ा दिया है. इससे पहले योजना 30 जून 2021 तक थी.अब ये 1 जुलाई 2021 से 30 जून 2022 तक वैलिड है.

क्या है ‘अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना’? : ‘अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना’ (Atal Beemit Vyakti Kalyan Yojana) के तहत नौकरी छूटने पर बेरोजगार लोगों को आर्थिक मदद के लिए भत्ता दिया जाता है. बेरोजगार व्यक्ति 3 महीने के लिए इस भत्ते का फायदा उठा सकता है. 3 महीने के लिए वह औसत सैलरी का 50% क्लेम कर सकता है. बेरोजगार होने के 30 दिन बाद इस योजना से जुड़कर क्लेम किया जा सकता है.

यह भी पढ़ें :  Sarkari Yojana 2022 : सीएम नितीश ने बेटियों को दी बड़ी सौगात, ग्रेजुएट को 50 हजार तो इंटर पास को मिलेंगे 25 हजार, ऐसे करें आवेदन.

दरअसल अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना (Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana) के तहत रोजगार खोने वाले ऑर्गेनाइज्ड सेक्टर (Organized Sector Employees) के कर्मचारियों को सरकार की ओर से फाइनेंशियली मदद मिलती है. बता दें इसका फायदा उन्हीं कर्मचारियों को मिलता है जो ESI स्कीम के तहत कवर हैं.

ये एक तरह से बेरोजगारी भत्ता (Unemployment allowance) होता है. यानी उनकी मंथली सैलरी में से ESI कॉन्ट्रिब्यूशन डिडक्शन होता है. नए फैसले के बाद अब इस स्कीम की मदद से जो लोग बेरोजगार होंगे, उन्हें सरकार अधिकतम 90 दिन यानी 3 महीने तक फाइनेंशियली राहत देगी.

Atal Beemit Vyakti Kalyan Yojana-2

अब तक 50 हजार लोग उठा चुके हैं इस स्कीम का फायदा : कोरोना काल में कई लोगों ने अपनी नौकरी गंवा दी थी, जिसके चलते बेरोजगारी का आंकड़ा दिन पर दिन बढ़ता चला गया था. लेकिन सरकार की अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना का फायदा अब तक 50,000 से ज्यादा लोग ले चुके हैं. बता दें इस योजना का फायदा बीमित व्यक्तियों को 3 महीने के लिए 50 फीसदी वेतन पर बेरोजगारी अलाउंस देकर मिलेगा. यानी की जिन लोगों ने किसी कारणवश अपनी नौकरी गंवा दी हो.

 

बता दें जिन लोगों ने अपनी नौकरी गंवाई है और बीमा ले रखा है, वो अपनी पिछली नौकरी की तरफ से मिले सर्टिफिकेट के बजाय सीधे ESIC ब्रांच ऑफिस में क्लेम जमा कर सकते हैं. वहीं इसकी पेमेंट सीधे ग्राहक के बैंक अकाउंट में की जाती है. श्रम मंत्रालय के तहत दो सबसे बड़े सोशल सिक्योरिटी बॉडी में से एक ESIC की बोर्ड बैठक में ये फैसला लिया गया.

यह भी पढ़ें :  Bihar Caste Census: नीतीश कुमार के पत्र का पीएम मोदी ने दिया जवाब, जानें कब जातीय जनगणना पर बातचीत के लिए होगी मुलाकात.

ऐसे उठाएं योजना का लाभ : इस योजना का लाभ लेने के लिए ESIC से जुड़े कर्मचारी ESIC की किसी भी ब्रांच में जाकर इसके लिए अप्लाई कर सकते हैं. इसके बाद ESIC की तरफ से आवेदन की पुष्टि की जाएगी और इसके सही होने पर संबंधित कर्मचारी के खाते में रकम भेज दी जाएगी.

Atal Beemit Vyakti Kalyan Yojana-1

कौन ले सकता है योजना का फायदा? :

1. इस योजना का लाभ ऐसे प्राइवेट सेक्टर (आर्गनाइज्ड सेक्टर) मे काम करने वाले नौकरीपेशा लोग बेरोजगार होने पर ले सकते हैं जिनका कंपनी हर महीने PF/ESI सैलरी से काटती है.
2. ESI का फायदा निजी कंपनियों, फैक्ट्रियों और कारखानों में काम करने वाले कर्मचारियों को मिलता है. इसके लिए ESI कार्ड बनता है.
3. कर्मचारी इस कार्ड या फिर कंपनी से लाए गए दस्तावेज के आधार पर स्कीम का फायदा ले सकते हैं. ESI का लाभ उन कर्मचारियों को उपलब्ध है, जिनकी मासिक आय 21 हजार रुपए या इससे कम है.

यह भी पढ़ें :  Sukanya Samriddhi Yojana: मोदी सरकार की इस स्कीम पर पाएं 30 सितंबर तक दो गुना मुनाफा, PNB दे रहा है सुविधा.

1. इस योजना का लाभ ऐसे प्राइवेट सेक्टर (आर्गनाइज्ड सेक्टर) मे काम करने वाले नौकरीपेशा लोग बेरोजगार होने पर ले सकते हैं जिनका कंपनी हर महीने PF/ESI सैलरी से काटती है.
2. ESI का फायदा निजी कंपनियों, फैक्ट्रियों और कारखानों में काम करने वाले कर्मचारियों को मिलता है. इसके लिए ESI कार्ड बनता है.
3. कर्मचारी इस कार्ड या फिर कंपनी से लाए गए दस्तावेज के आधार पर स्कीम का फायदा ले सकते हैं. ESI का लाभ उन कर्मचारियों को उपलब्ध है, जिनकी मासिक आय 21 हजार रुपए या इससे कम है.

ऐसे करें रजिस्ट्रेशन :
1. योजना का फायदा लेने के लिए आप सबसे पहले ESIC की बेवसाइट पर अटल बीमित व्‍यक्ति कल्‍याण योजना का फॉर्म डाउनलोड करें. https://www.esic.nic.in/
2. इस लिंक से करें फॉर्म डाउनलोड  click here
3. अब फॉर्म भरकर कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ESIC) की नजदीकी ब्रांच में जमा करें.
4. इसके बाद, फॉर्म के साथ 20 रुपए का नॉन-ज्‍यूडिशियल स्टैंप पेपर पर नोटरी का एफिडेविड भी लगेगा.
5. इसमें AB-1 से लेकर AB-4 फॉर्म जमा करवाया जाएगा.
6. गलत आचरण के कारण नौकरी जाने पर नहीं मिलेगा फायदा.
7. उन लोगों को स्‍कीम का फायदा नहीं मिलेगा जिन्‍हें गलत आचरण की वजह से कंपनी से निकाला गया है. इसके अलावा आपराधिक मामला दर्ज होने या स्वेच्छा से रिटायरमेंट (VRS) लेने वाले कर्मचारी भी योजना का लाभ नहीं ले सकेंगे.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page