Follow Us On Goggle News

5G In India: Jio पूरे भारत में इस दिन लॉन्च कर सकती है 5G सर्विस, आकाश अंबानी ने दिया संकेत.

इस पोस्ट को शेयर करें :

5G In India: आकाश अंबानी की तरफ से मीले संकेत के अनुसार Jio अपनी 5G सर्विस पूरे देश में 15 अगस्त तक जारी कर सकती है. इसको लेकर उन्होंने कहा है कि वो आजादी का अमृत महोत्सव पूरे भारत में 5G रोलआउट के साथ मनाएंगे. 5G स्पेक्ट्रम नीलामी प्रक्रिया में सबसे आधिक स्पेक्ट्रम Reliance Jio ने हासिल किया. और अब वह पूरे देश में 5G सर्विस रोलआउट करने के संकेत दे रही हैं.

 

5G In India: हाल ही में 5G का ऑक्शन खत्म हुआ है. अब Reliance Jio पूरे देश में 5G रोलआउट करने की तैयारी में है. कंपनी 5G प्लान्स और ट्रायल्स को लेकर ज्यादा कुछ जानकारी शेयर नहीं करती थी. जबकि दूसरी टेलीकॉम कंपनियां जैसे Vodafone Idea (Vi)और Bharti Airtel को लेकर जानकारी सामने आती रहती थी.

 

अब Reliance Jio की ओर से हिंट किया गया है कि इसकी 5G सर्विस पूरे देश में 15 अगस्त को जारी हो सकती है. इसको लेकर रिलायंस जियो के चेयरमैन आकाश अंबानी ने इशारा किया है. उन्होंने कहा है कि वो आजादी का अमृत महोत्सव पूरे भारत में 5G रोलआउट के साथ मनाएंगे.

यह भी पढ़ें :  शादी के बाद कैसे बदलें आधार कार्ड में अपना नाम और पता? जानिए क्या है तरीका | Aadhar Card Update

आकाश अंबानी के मुताबिक, Jio यूजर्स को वर्ल्ड क्लास, अफोर्डेबल 5G और 5G-एनेबल्ड सर्विस देगा. आपको बता दें कि कंपनी ने स्पेक्ट्रम नीलामी के दौरान इतना स्पेक्ट्रम खरीद लिया है कि वो 5G सर्विस को देश में बड़े पैमाने पर लॉन्च कर सकती है.

इस टेलीकॉम कंपनी ने इस स्पेक्ट्रम नीलामी में 88,078 करोड़ रुपये ज्यादा खर्च किया है. इससे इसके पास ऐसे एयरवेव्स भी हैं जो दूसरी टेलीकॉम कंपनियों के पास नहीं है. जियो एकमात्र टेलीकॉम कंपनी है जिसके पास अभी 700 MHz एयरवेव्स मौजूद है. इससे इसको बाकी टेलीकॉम कंपनियां से फायदा मिलेगा.

अब आकाश अंबानी ने 5G लॉन्च को लेकर काफी क्लियर बोला है. लेकिन, ये देखना दिलचस्प होगा कि क्या जियो इसको एग्जीक्यूट कर पाएगा. ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि भारत के पास अभी कोई भी 5G नेटवर्क नहीं है.

अभी तक जो भी 5G नेटवर्क्स थे उनको ट्रायल के लिए थे जिसके लिए डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकम्युनिकेशन (DoT) ने स्पेक्ट्रम दिया था. इसको लेकर हमें ज्यादा जानकारी के लिए इंतजार करना होगा. यूजर्स को इसके लिए 5G SIM की भी जरूरत होगी. इसके अलावा अगर ये ऐसा करने में कामयाब होता है तो इसे बाकी टेलीकॉम कंपनियों से ज्यादा फायदा मिलेगा.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page