Follow Us On Goggle News

RBI New Rules : UPI से कैश विड्रॉल सर्विस शुरू होने से बंद हो जाएगा डेबिट कार्ड? जानिए क्या है RBI की तैयारी.

इस पोस्ट को शेयर करें :

RBI New Rules : यूपीआई (UPI) से भले पैसे निकाले जाएंगे, लेकिन उससे एटीएम कार्ड बंद नहीं होगा. एटीएम कार्ड या डेबिट कार्ड केवल पैसे निकालने के लिए नहीं होता बल्कि उसके साथ कई अन्य सुविधाएं मिलती हैं. उससे ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरह के पेमेंट किए जा सकते हैं.

 

RBI New Rules : रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने कार्डलेस कैश विड्रॉल की नई व्यवस्था शुरू की है. यह नई व्यवस्था यूपीआई के जरिये चलेगी. कार्डलेस कैश विड्रॉल पहले भी होता था, लेकिन सभी बैंकों में नहीं. सभी एटीएम भी इस तरह की निकासी की सुविधा नहीं देते थे. नई व्यवस्था में आपको किसी कार्ड की भी जरूरत नहीं होगी क्योंकि यूपीआई (UPI) के माध्यम से एटीएम से नकद निकासी (Cash Withdrawal) की जाएगी. आप किसी भी बैंक के ग्राहक हों, किसी भी दूसरे एटीएम से यूपीआई से पैसे निकाल सकेंगे. बैंकिंग सिस्टम में सुरक्षा का खयाल रखते हुए यूपीआई से कैश विड्रॉल की सुविधा दी गई है.

यह भी पढ़ें :  Aadhar Card Update : बच्चों के Aadhar Card में समय पर कराएं ये जरूरी अपडेट, वर्ना हो जाएगा इनएक्टिव.

 

यूपीआई से कैश विड्रॉल सुविधा शुरू होने से कार्ड से जुड़े फ्रॉड पर रोक लगेगी. यूपीआई की इस नई सर्विस में ग्राहक बिना एटीएम या डेबिट कार्ड के पैसे निकाल सकेंगे. इसलिए कार्ड क्लोनिंग या स्कीमिंग का खतरा खत्म हो जाएगा. कई बार एटीएम मशीनों में कार्ड का डेटा कॉपी करने के लिए डिवाइस लगाने की खबरें आती हैं. यूपीआई से कैश विड्रॉल पर ये सभी डर खत्म हो जाएंगे.

कैसे निकलेंगे यूपीआई से पैसे :

यूपीआई से होने वाले कार्डलेस विड्रॉल में जब कोई ग्राहक एटीएम में जाएगा और पैसे निकालने के लिए प्रोसेस शुरू करेगा तो उसके सामने क्यूआर कोड का ऑप्शन आएगा. इसे ओके करने के बाद एटीएम पर एक क्यूकार कोड जनरेट होगा जिसे अपने मोबाइल फोन से स्कैन करना होगा. स्कैन करने के बाद यूपीआई पिन दर्ज करनी होगी और अमाउंट भी दर्ज करना होगा. पिन डालते ही एटीएम से पैसे निकलेंगे. इसमें कही भी एटीएम या डेबिट कार्ड की जरूरत नहीं पड़ेगी.

यह भी पढ़ें :  Vivo Y33s 5G स्मार्टफोन शानदार डिजाइन और पावरफुल प्रोसेसर के साथ हुआ लॉन्च, जानें कीमत और खूबियां.

क्यूआर कोड करना होगा स्कैन :

अभी तक लोग यूपीआई पेमेंट ऐप के माध्यम से रुपये पैसे का लेनदेन करते रहे हैं. क्यूआर कोड स्कैन करने के बाद पेमेंट करने की आदत लोगों को लगी हुई है. इसलिए यूपीआई के नए सिस्टम में सिर्फ नया बदलाव यही होगा कि उससे स्कैन कर अब एटीएम से भी पैसे निकाले जा सकेंगे. आपके पास कार्ड हो या न हो, इसका असर एटीएम से कैश निकालने पर नहीं होगा. दूसरे बैंक के एटीएम से भी कैश निकाला जा सकेगा. मोबाइल फोन के यूपीआई पेमेंट ऐप से दूसरे बैंक के एटीएम से पैसे निकाले जाएंगे. अभी यह सुविधा पूरी तरह से स्मार्टफोन के लिए होगी. फीचर फोन के लिए अभी यह सुविधा तैयार की जानी है.

चलता रहेगा डेबिट कार्ड :

ऐसे में एक सवाल यह उठता है कि क्या यूपीआई से कैश विड्रॉल शुरू होने पर एटीएम या डेबिट कार्ड का चलन खत्म हो जाएगा? ऐसा नहीं है. दरअसल ग्राहकों को एटीएम से पैसे निकालने के कई विकल्प मिलते हैं जिनमें एक यूपीआई भी जुड़ गया है. यूपीआई से भले पैसे निकाले जाएंगे, लेकिन उससे एटीएम कार्ड बंद नहीं होगा. एटीएम कार्ड या डेबिट कार्ड केवल पैसे निकालने के लिए नहीं होता बल्कि उसके साथ कई अन्य सुविधाएं मिलती हैं. उससे ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरह के पेमेंट किए जा सकते हैं.

यह भी पढ़ें :  JioPhone 5G: धमाल मचाने वाला है Jio, लेकर आ रहा JioPhone 5G, कीमत और फीचर्स जान उड़ जाएंगे होश.

पीओएस टर्मिनल हो या ई-कॉमर्स पेमेंट, पहले की तुलना में डेबिट कार्ड से पेमेंट बढ़ते जा रहे हैं. इसलिए यह कहना सही नहीं होगा कि यूपीआई से कैश विड्रॉल शुरू होने से कार्ड का उपयोग खत्म हो जाएगा. ग्राहकों को बल्कि एक और नई सुविधा मिल गई है कि वे या तो कार्ड से पैसे निकालें या यूपीआई से. दोनों अपनी जगह पर काम करेंगे. हालांकि सुरक्षा के नजरिये से यूपीआई से कैश विड्रॉल अधिक सही और सुरक्षित रहेगा.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page