Follow Us On Goggle News

Mobile Recharge Price Hike: फिर महंगा हुआ मोबाइल रिचार्ज, अब इस कंपनी ने महंगे किए अपने प्लान्स.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Mobile Recharge Price Hike: देश में हाल ही में प्राइवेट टेलीकॉम कंपनी एयरटेल, जिओ एवं वोडाफोन आइडिया ने अपने रिचार्ज प्लान महंगे कर दिए हैं. जिसके बाद देश भर के करोड़ों मोबाइल उपभोगताओं ने सरकारी टेलीकॉम कंपनी बीएसएनएल के ओर रुख किया था. लेकिन, अब बीएसएनएल ने भी अपने ग्राहकों को बड़ा झटका दे दिया है. सरकारी टेलीकॉम कंपनी बीएसएनएल ने हाल ही में अपने रिचार्ज प्लान महंगी करने शुरू कर दिए हैं.

कंपनी ने हाल में ही अपने कुछ प्लान्स की कीमत में इजाफा किया था. सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी ने कुछ प्लान्स की कीमत बढ़ाई है, जबकि कुछ के बेनिफिट्स को कम कर दिया है.

पिछले हफ्ते कंपनी ने 99 रुपये, 118 रुपये और 319 रुपये के रिचार्ज प्लान के बेनिफिट्स को कम किया था. ब्रांड ने 999 रुपये और 1499 रुपये के रिचार्ज प्लान के साथ भी ऐसा ही किया है. BSNL ने 1498 रुपये के रिचार्ज प्लान की कीमत बढ़ा दी है. अब यह प्लान 1515 रुपये में आता है. आइए जानते हैं कंपनी ने क्या क्या बदलाव किया है.

यह भी पढ़ें :  Petrol Diesel Price Hike: 12 रुपये महंगा होगा पेट्रोल-डीजल!

BSNL का 999 रुपये का रिचार्ज प्लान: Mobile Recharge Price Hike

999 रुपये का BSNL रिचार्ज प्लान पहले 240 दिनों की वैलिडिटी के साथ आता था. 1 जुलाई 2022 के बाद कंपनी ने प्लान की वैलिडिटी को घटाकर 200 दिन कर दिया है. यानी इस प्लान की एवरेज वैल्यू 4.16 रुपये से बढ़कर 4.99 रुपये हो गई है. इस प्लान में कंज्यूमर्स को सिर्फ वॉयस कॉलिंग बेनिफिट्स मिलता है. इसमें SMS और डेटा बेनिफिट्स नहीं मिलेंगे. साथ ही यूजर्स को दो महीनों के लिए पर्सनल रिंग बैक ट्यून भी मिलेगी.

1499 रुपये का BSNL प्लान: Mobile Recharge Price Hike

इस प्लान में यूजर्स को अनलिमिटेड वॉयस कॉलिंग के साथ 100 SMS डेली और 24GB डेटा मिलता है. इसमें कंपनी ने कोई बदलाव नहीं किया है. ब्रांड ने प्लान की वैलिडिटी को 365 दिनों से घटाकर 336 दिन कर दिया है. यानी इस प्लान की डेली कॉस्ट 4.10 रुपये से बढ़कर 4.46 रुपये हो गई है.

यह भी पढ़ें :  Masked Aadhaar क्या है ? और कैसे बचाता है हमें धोखाधड़ी से, जानिए डाउनलोड करने का आसान तरीका.

इसमें आपको कोई बड़ा बदलाव नहीं दिखेगा, लेकिन किसी प्लान की वैलिडिटी कम करना इनडायरेक्ट प्राइस हाइक होता है. कंपनी ने पिछले साल अपने प्लान्स की कीमत नहीं बढ़ाई थी, लेकिन अब धीरे-धीरे इनमें इजाफा किया जा रहा है.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page