Follow Us On Goggle News

BIS Care App के जरिए घर बैठे चेक कर सकते हैं सोने की शुद्धता, यहां जानिए क्या है तरीका.

इस पोस्ट को शेयर करें :

How to check Gold Purity : अगर आपको अपने गोल्ड पर शक है और उसकी शुद्धता की जांच करना चाहते हैं तो आप BIS Care App के जरिए घर बैठे ही अपने सोने की शुद्धता जांच सकते हैं.

 

BIS Care App : देशभर में मंगलवार, 3 मई को अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya) मनाई जाएगी. अक्षय तृतीया के दिन सोना, चांदी या हीरे खरीदना काफी शुभ माना जाता है. हालांकि, अधिकतर लोग इस शुभ मौके पर सोना खरीदना ही ज्यादा पसंद करते हैं. अक्षय तृतीया के दिन ग्राहकों को लुभाने के लिए सिर्फ बड़े स्टोर्स ही नहीं बल्कि छोटे व्यापारी भी सोने-चांदी की खरीद पर जबरदस्त ऑफर्स देते हैं. यही वजह है कि जो लोग अक्षय तृतीया के दिन गोल्ड-सिल्वर नहीं भी खरीदते हैं, वे इन ऑफर्स से आकर्षित होकर शॉपिंग कर ही लेते हैं.

 

अगर आप भी अक्षय तृतीया के मौके पर सोने की खरीदारी करने जा रहे हैं या हाल-फिलहाल में सोना खरीदकर लाए हैं तो आप घर बैठे एक मोबाइल ऐप के जरिए उसकी शुद्धता की जांच कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें :  PAN-Aadhaar link : क्या आपका PAN आधार कार्ड से लिंक है? इन-ऑपरेटिव हो जाने पर जानिए 5 बड़े नुकसान.

 

BIS Care App के जरिए घर बैठे चेक कर सकते हैं सोने की शुद्धता :

हमारे देश में अक्षय तृतीया से कुछ दिन पहले ही गोल्ड और सिल्वर की शॉपिंग शुरू हो जाती है. लेकिन खरीदारी के इस सीजन में सोने की शुद्धता का पता लगाना भी बहुत जरूरी है. दरअसल, अक्षय तृतीया के मौके पर दुकानों पर जबरदस्त भीड़ होती है. ऐसे में लोगों के पास उसकी जांच करने का पर्याप्त समय नहीं होता है और धोखेबाज दुकानदार ऐसे मौकों का ही फायदा उठाकर ग्राहकों को मिलावटी या नकली सोना बेच देते हैं. ऐसे में अगर आपको अपने गोल्ड पर शक है और उसकी शुद्धता की जांच करना चाहते हैं तो आप BIS Care App के जरिए अपने सोने की शुद्धता जांच सकते हैं.

 

HUID कोड से मालूम चल जाएगा कितना शुद्ध है सोना :

सोने की शुद्धता जांचने से पहले आपको ये जानना बहुत जरूरी है कि भारत सरकार ने ज्वैलरी पर हॉलमार्क के नियमों में संशोधन किया था, जो देशभर में 1 जुलाई 2021 से लागू कर दिया गया था. नए नियम के तहत एक ज्वैलरी में हॉलमार्किंग के कुल 3 निशान रहेंगे, जो पहले 4 से 5 तक हुआ करते थे. 3 निशानों में BIS हॉलमार्क, प्यॉरिटी ग्रेड और 6 अंकों का एक अल्फान्यूमरिक कोड शामिल है. 6 अंकों के इस अल्फान्यूमरिक कोड को HUID कहा जाता है, जिसमें अल्फाबेट्स के साथ-साथ डिजिट भी शामिल रहता है. नए नियमों के मुताबिक देश में बनने वाले सोने की प्रत्येक ज्वैलरी को एक यूनीक HUID कोड दिया जाता है, जो आपकी ज्वैलरी की शुद्धता जांचने में मदद करता है.

यह भी पढ़ें :  5G Network : अगले साल से इन शहरों में शुरू होगी 5जी सेवा, दूरसंचार विभाग ने दी जानकारी.

 

gold hallmarking BIS Care App के जरिए घर बैठे चेक कर सकते हैं सोने की शुद्धता, यहां जानिए क्या है तरीका.

 

BIS Care App का इस्तेमाल कैसे करें :

  • अपने मोबाइल फोन के ऐप स्टोर में जाकर BIS Care App डाउनलोड करें और जरूरी जानकारी भरकर लॉग-इन करें.
  • ऐप में लॉग-इन करने के बाद ‘verify HUID’ पर क्लिक करें. अब ऐप में एक नया पेज खुलेगा जहां आपसे 6 अंकों का अल्फान्यूमरिक कोड भरने के लिए कहा जाएगा.
  • अब आपको उस बॉक्स में अपनी ज्वैलरी पर लिखे 6 अंकों के अल्फान्यूमरिक कोड को डालना है. बता दें कि आपकी ज्वैलरी पर लिखे नंबर का आखिरी 6 अंक HUID होता है, जिसमें अंग्रेजी के अक्षर और कुछ नंबर भी शामिल होते हैं.
  • आप इस बॉक्स में जैसे ही 6 अंकों का अल्फान्यूमरिक कोड डालकर सब्मिट करेंगे, आपके सामने आपकी ज्वैलरी की पूरी डिटेल्स आ जाएंगी.

BIS Care App की एक खास बात ये भी है कि अगर आप अपनी ज्वैलरी की शुद्धता को लेकर संतुष्ट नहीं है तो इस ऐप के जरिए ही शिकायत भी दर्ज करा सकते हैं. मान लीजिए आपने एक दुकान से 24 कैरेट का एक गोल्ड कॉइन खरीदा है. लेकिन जब आपने उसकी शुद्धता जांची तो मालूम चला कि वह 22 कैरेट का ही है. ऐसे में आप BIS Care App के Complaints पर क्लिक करके अपनी शिकायत भी दर्ज करा सकते हैं.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page