Follow Us On Goggle News

Call Recording Apps: गूगल ने लिए बड़ा एक्शन: मई से पूरी तरह बंद हो जाएगी कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Call Recording Apps: अगर आप कॉल रिकॉर्ड करने के लिए किसी थर्ड-पार्टी ऐप की मदद लेते हैं, तो शायद कुछ दिन बाद आप ऐसा ना कर पाएंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि गूगल की नई पॉलिसी, एंड्रॉइड स्मार्टफोन पर थर्ड-पार्टी कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स पर शिकंजा कसने वाली है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, 11 मई से ऐप डेवलपर थर्ड पार्टी ऐप के जरिए कॉल रिकॉर्डिंग फीचर नहीं दे पाएंगे।

कंपनी ने हाल ही में अपनी प्ले स्टोर पॉलिसी में कुछ बदलाव किए हैं और इनमें से एक का उद्देश्य एंड्रॉइड पर कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स को बंद करना है। नई पॉलिसी के अनुसार, ऐप्स को अब प्ले स्टोर पर कॉल रिकॉर्डिंग के लिए एक्सेसिबिलिटी एपीआई का उपयोग करने की अनुमति नहीं है।

एंड्रॉइड स्मार्टफोन यूजर्स के लिए इसका क्या मतलब है: Call Recording Apps

इसका मतलब यह है कि एंड्रॉइड स्मार्टफोन यूजर्स जो बिना बिल्ट-इन कॉल रिकॉर्डर के स्मार्टफोन का उपयोग कर रहे हैं, वे 11 मई के बाद कॉल रिकॉर्ड नहीं कर पाएंगे। हालांकि, पॉलिसी में नए बदलाव, जो पहले Reddit यूजर्स NLL ऐप्स द्वारा देखे गए, केवल थर्ड-पार्टी कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स को प्रभावित करते हैं।

यह भी पढ़ें :  Driving License : ड्राइविंग लाइसेंस रिन्यू कराने की डेडलाइन आगे बढ़ी, अब इस तारीख तक नहीं कटेगा चालान.

 

पहले की तरह काम करेगा इन-बिल्ट कॉल रिकॉर्डिंग ऑप्शन: Call Recording Apps

नेटिव कॉल रिकॉर्डिंग फीचर अभी भी हमेशा की तरह काम करेगा। इसलिए यदि किसी यूजर्स के स्मार्टफोन में एक बिल्ट-इन कॉल रिकॉर्डिंग विकल्प है, तो वह इसका उपयोग करना जारी रख सकता है। इसका मतलब है कि वे कॉल रिकॉर्ड कर सकते हैं, लेकिन किसी थर्ड-पार्टी ऐप के साथ नहीं। कॉल रिकॉर्डिंग की पेशकश करने वाले फोन शाओमी, कुछ सैमसंग और गूगल पिक्सेल फोन हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि सिस्टम ऐप्स को कोई भी परमिशन मिल सकती है क्योंकि वे फोन में पहले से इंस्टॉल आते हैं।

 

सर्च दिग्गज कुछ समय से एंड्रॉइड डिवाइस पर कॉल रिकॉर्डिंग को रोकने के लिए काम कर रहा है। इसने एंड्रॉइड 6 पर रियलटाइम कॉल रिकॉर्डिंग तक पहुंच को ब्लॉक कर दिया और एंड्रॉइड 10 पर माइक्रोफोन पर कॉल रिकॉर्डिंग को प्रतिबंधित कर दिया।

हालांकि, कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स ने एंड्रॉइड 10 और बाद के वर्जन पर कॉल रिकॉर्ड करने के लिए एक्सेसिबिलिटी सर्विस का उपयोग करना शुरू कर दिया। गूगल ने अपने डेवलपर सेमिनार में पॉलिसी चेंज को भी स्पष्ट किया है। प्रेजेंटर ने वेबिनार के दौरान गूगल प्ले पॉलिसी अपडेट को समझाया- “यदि ऐप फोन पर डिफ़ॉल्ट डायलर है और प्री-लोडेड भी है, तो आने वाली ऑडियो स्ट्रीम तक पहुंच प्राप्त करने के लिए एक्सेसिबिलिटी क्षमता की आवश्यकता नहीं है, और इसलिए, उल्लंघन नहीं होगा।”


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page