Follow Us On Goggle News

India Nepal Train: अब ट्रेन से होगी नेपाल यात्रा! इस दिन शुरू होगी बिहार-नेपाल ट्रेन यात्रा.

इस पोस्ट को शेयर करें :

India Nepal Train: रविवार को एनएफ रेलवे कटिहार मंडल के डीआरएम कर्नल एसके चौधरी ने अधिकारियों के साथ फारबिसगंज-सहरसा निर्माणाधीन रेल खंड एवं बथनाहा-विराटनगर इंडो नेपाल निर्माणाधीन रेल खंड का निरीक्षण किये । निरीक्षण के दौरान ही डीआरएम ने कई मामलों पर अधिकारियों से बातचीत की तथा ट्रेन चालू होने के सवाल पर मंथन किया। India Nepal Train

वही फारबिसगंज रेलवे स्टेशन का भी औचक निरीक्षण किया एवं कई कमरों की तलाशी ली । इस दौरान फारबिसगंज रेलवे स्टेशन में एक वीआईपी रूम चालू होने की बात कही एवं कमरों को खंगाला गया । कमरों को सुविधा से सुसज्जित करने के निर्देश दिए गए। इसके साथ ही बिजली विभाग कार्यालय, कंट्रोल रूम, पार्सल रूम सहित कई कमरों का औचक निरीक्षण किए । डीआरएम ने सबसे पहले बथनाहा से बिराटनगर तक चलने वाली इंडो-नेपाल रेल प्रोजेक्ट का जायजा लिया एवं कई आवश्यक चीजों को खंगाला । India Nepal Train

यह भी पढ़ें :  दिल्ली - मुंबई से बिहार आने के लिए अभी भी मिल रहा हैं टिकट, पढ़ें फुल शेड्यूल. | Train Between Delhi - Mumbai to Bihar

इसके बाद फारबिसगंज रेलवे स्टेशन पर फारबिसगंज— सहरसा के बीच निर्माणाधीन बड़ी रेल लाइन की भी समीक्षा की। एनएफ रेलवे द्वारा तैयार किये जा रहे ईसी रेलवे का रेलवे स्टेशन का बारीकी से निरीक्षण किया एवं कार्यों की गुणवत्ता की भी जांच की। बाद में फारबिसगंज स्टेशन अधीक्षक के कार्यालय में डीआरएम ने मीडिया से कहा कि आगामी जुलाई तक फारबिसगंज— सहरसा रेल लाइन सहित बथनाहा से विराटनगर चलने वाली इंडो नेपाल रेल प्रोजेक्ट के चालू होने की पूरी संभावना है। डीआरएम ने कहा कि नेपाल में कुछ भूमि अधिग्रहण का मामला फंसा हुआ है लेकिन बथनाहा से नेपाल कस्टम यार्ड तक रेल लाइन बन के तैयार है एवं इसका कई बार जांच भी की जा चुकी है। India Nepal Train

आगामी जुलाई तक बथनाहा से नेपाल स्थित कस्टम यार्ड तक ट्रेनों को चलाई जाएगी। कहा कि निर्माणाधीन रेल खंड के काम में काफी तेजी लाया जा रहा है और आगामी जुलाई तक रेल लाइन पूरा होने एवं ट्रेन आवागमन की पूरी संभावना है। एक सवाल के जवाब में डीआरएम ने कहा की मीरगंज पूल का सेफ्टी एप्रूवल नहीं मिल पाया है क्योंकि सेफ्टी अप्रूवल सिविल एविएशन का मामला है और जब तक सेफ्टी में संशय रहेगा तब तक एनओसी मिलना मुश्किल है। क्योंकि पुल को 50 से 100 साल तक के आयु का आकलन किया जाता है । India Nepal Train

यह भी पढ़ें :  Railway Big Alert: रेलवे का बड़ा फैसला, ट्रेनों के टाइम टेबल में होगा बदलाव, कई ट्रेनें हो जाएंगी बंद.

संतुष्टि मिलने के बाद ही एनओसी मिलेगा। वही डीआरएम ने फारबिसगंज रेलवे स्टेशन पर सीसीटीवी कैमरा लगाने के संकेत दिए तथा वीआईपी के लिए कमरे को सुसज्जित करने की बात कही। डीआरएम ने अतिक्रमण को भी जारी रखने तथा इसे रेगुलर प्रक्रिया होने की बात कहते हुए इसके प्रति आश्वस्त किया कि कोविड—की स्थिति सामान्य हो गई है, इसलिए जोगबनी से कोलकाता चलने वाली चित्तपुर एक्सप्रेस एवं आनंद विहार दिल्ली चलने वाली सीमांचल एक्सप्रेस में अब चादर कंबल सहित अन्य चीजें उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है । India Nepal Train

उन्होंने यह भी कहा कि सीमांचल ट्रेन में फिलहाल 22 बोगी चल रही है जो अच्छी बात है। फारबिसगंज रेलवे स्टेशन परिसर में पार्किंग की व्यवस्था सुदृढ़ करने के लिए टेंडर की प्रक्रिया जारी है। जल्द ही इसे पूरा कर लिया जाएगा। फारबिसगंज स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या एक की दयनीय स्थिति एवं खण्डरनुमा हालात पर डीआरएम ने अपनी स्वीकृति नहीं जताई और न ही बारीकी से प्लेटफार्म को खंगालने का काम किया। डीआरएम के साथ सीनियर डीसीएम अमर मोहन ठाकुर, सीनियर डीएनसी एस कामयी, आईओडब्ल्यू चंद्रशेखर प्रसाद, सीनियर डीएसओ आरके झा,डीएन 2 जेपी दास, जेई इलेक्ट्रिक एसके मुर्मू, आरपीएफ प्रभारी उमेश प्रसाद सिंह, स्टेशन अधीक्षक मनोज झा, डीआर यूसीसी सदस्य विनोद सरावगी, रविंद्र कुमार सहित स्थानीय लोग शामिल थे। India Nepal Train

यह भी पढ़ें :  Janata-Upasana Express: दोबारा शुरू होगा जनता-उपासना एक्सप्रेस, जानिए कब से चलेंगी ट्रेनें.

 

Input: livehindustan.com


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page