Follow Us On Goggle News

Bihar Politics: तेजप्रताप की नाराजगी पर तेजस्वी का बड़ा बयान, कहा- जब सबकुछ हम हैं तो दिक्कत क्या?

इस पोस्ट को शेयर करें :

आकाश यादव को हटाए जाने के बाद तेजप्रताप ने ट्वीट किया था जिससे उनकी नाराजगी झलकी थी. उन्होंने कहा था कि जो हुआ वो आरजेडी के संविधान के खिलाफ हुआ है.

 

बिहार छात्र आरजेडी के अध्यक्ष पद से आकाश यादव को हटाए जाने के बाद लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव नाराज चल रहे हैं. नाराजगी को लेकर उनके छोटे भाई तेजस्वी यादव ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि नाराजगी जैसी कोई बात नहीं है. पार्टी में जब हम हैं और राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं तो सब कुछ ठीक है. तेजप्रताप यादव की ओर से ट्वीट पर तेजस्वी जवाब दे रहे थे.

गौरतलब हो कि आरजेडी प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह बुधवार को कई दिनों के बाद पार्टी कार्यालय पहुंचे. कार्यालय पहुंचते ही उन्होंने पार्टी के संबंध में बड़ा फैसला किया. उन्होंने पार्टी के युवा विंग की जिम्मेदारी गगन कुमार को सौंप दी. इससे पहले युवा विंग के अध्यक्ष आकाश यादव थे. इस दौरान नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव भी उनके साथ थे.

यह भी पढ़ें :  Viral Video : बेतिया में भीड़ ने नाबालिग को पोल से बांधकर दमभर पीटा...इससे भी मन नहीं भरा तो मुंडवा दिया सिर.

 

तेजप्रताप यादव ने दिलाया पार्टी का संविधान : आकाश यादव को हटाए जाने के बाद तेजप्रताप ने ट्वीट कर लिखा, “प्रवासी सलाहकार से सलाह लेने में अध्यक्ष जी ये भूल गए की पार्टी संविधान से चलती है और आरजेडी का संविधान कहता है कि बिना नोटिस दिए आप पार्टी के किसी पदाधिकारी को पदमुक्त नहीं कर सकते. आज जो हुआ वो आरजेडी के संविधान के खिलाफ हुआ.”

तेजप्रताप के इस ट्वीट पर जेडीयू नेता नीरज कुमार ने चुटकी भी ली. कहा, “हम प्रवासी कहते थे, तो मिर्ची लगती थी. अब तो प्रवासी सलाहकार कहा गया. पार्टी को पारिवारिक संपत्ति समझने वालों का आंतरिक कलह सबके सामने आ गया. जगदानंद सिंह को पार्टी संविधान का आईना दिखाया गया.”

यह भी पढ़ें :  Corona Update : बिहार से कोरोना को लेकर बड़ी खबर ! CM हाउस में 30 से अधिक सुरक्षाकर्मी पॉजिटिव, कई स्टाफ भी हुए संक्रमित.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page