Follow Us On Goggle News

CBI Raid : सीबीआइ की छापेमारी के दौरान राबड़ी आवास पर RJD कार्यकर्ताओं का हंगामा.

इस पोस्ट को शेयर करें :

CBI Raid  : सीबीआइ की छापेमारी के दौरान राबड़ी आवास पर RJD कार्यकर्ताओं ने किया हंगामा, राजद नेताओं का कहना है कि सीबीआइ की टीम ने राबड़ी देवी और तेजप्रताप यादव को अपशब्‍द कहे हैं. पुलिस ने किसी तरह सीबीआइ अधिकारी को बाहर निकाला.

 

CBI Raid : बिहार के पूर्व सीएम और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के पटना स्थित राबड़ी आवास पर करीब 13 घंटे तक चली छापेमारी अब खत्म हो गई है। छापेमारी के बाद सीबीआई के अधिकारी राबड़ी आवास के बाहर निकले तो पहले से मौजूद राजद कार्यकर्ताओं ने सीबीआई की गाड़ी पर हमला बोल दिया। राबड़ी आवास से बाहर निकलते ही आरजेडी कार्यकर्ताओं ने जमकर सीबीआई के खिलाफ नारेबाजी की। पुलिस बल ने मुश्किल से सीबीआई अधिकारियों को बचाते हुए गाड़ी के अंदर बिठाया। इस पर कार्यकर्ताओं ने सीबीआई अधिकारियों के गाड़ी पर जमकर हाथ और घूंसे चलाएं। इस दौरान पुलिस के तमाम बड़े अधिकारी भागते नजर आए।

 

 

 

सीबीआई की टीम को सुरक्षित निकालने के लिए कई थानों की पुलिस को मौके पर बुलाया गया है। सचिवालय थाना एएसपी काम्या मिश्रा मौके पर पहुंची और सीबीआई की टीम को सुरक्षित निकालने के लिए राबड़ी आवास के अंदर दाखिल हो गई। पुलिस ने सीबीआई के वकील के साथ सभी अधिकारियों को बाहर निकाल लिया है। हालांकि सीबीआई के वकील के साथ धक्का-मुक्की करने की बात सामने आ रही है। बताया जाता है कि जब उन्हें पुलिस की टीम बाहर निकाल रही तो राजद कार्यकर्ताओं ने हाथ पकड़ के खींच लिया। इस दौरान आरजेडी कार्यकर्ताओं ने ‘चोर है, चोर है’ के नारे लगाए।

यह भी पढ़ें :  CBI Raid : बड़ी खबर ! राबड़ी आवास सहित लालू यादव के 17 ठिकानों पर सीबीआई का छापा, भ्रष्टाचार के मामले में हो रही है पूछताछ.

 

लालू के साथ ही राबड़ी और बेटियों के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज :

मामला राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के रेल मंत्री रहते नौकरी के बदले जमीन लेने से जुड़ा है। इसी को लेकर सीबीआई की टीम ने कई जगहों पर छापेमारी की है। सीबीआई ने लालू यादव और उनकी पत्नी राबड़ी देवी (Rabri Devi), दो बेटियों और अज्ञात लोग सेवकों और निजी व्यक्तियों सहित 15 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। इनमें लालू की दो बेटियों मीसा यादव और हेमा यादव का नाम है। हेमा यादव का नाम पहली बार किसी मामले में सामने आया है। 

 

राबड़ी आवास पर RJD कार्यकर्ताओं का हंगामा :

जानकारी के अनुसार शुक्रवार की शाम छापेमारी के दौरान राजद कार्यकर्ता आक्रोशित हो गए और राबड़ी आवास के बाहर सीबीआइ का पुतला फूंक दिया। इसके बाद आवास के बाहर सुरक्षा कड़ी करते हुए बीएसएपी फोर्स को तैनात कर दिया गया।

 

यह भी पढ़ें :  Bihar Politics : पुराने रंग में लौट रहे हैं लालू, शरद यादव से मुलाकात, चिराग का किया समर्थन, नीतीश कुमार पर संभल कर बोले .

तेज प्रताप यादव ने की कार्यकर्ताओं ने शांति बनाए रखने की अपील :

इस बीच शाम करीब छह बजे राजद नेता शक्ति यादव ने कहा कि राबड़ी देवी और लालू के बड़े बेटे व विधायक तेजप्रताप को सीबीआइ की टीम ने अपशब्‍द कहे हैं। इतना सुनते ही मौके पर मौजूद राजद विधायक और बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उग्र हो गए। सभी राबड़ी आवास के गेट पर पहुंच गए और दरवाजा पीटने लगे। सीबीआइ के खिलाफ नारे लगा रहे कार्यकर्ताओं को देखकर तेजप्रताप को घर के बाहर आना पड़ा। गेट के ऊपर से तेजप्रताप ने राजद कार्यकर्ताओं को संबोधित किया और कहा कि शांति बनाए रखें।

 

मामले को देखते हुए सीबीआइ की अनुमति पर अब्दुल बारी सिद्दिकी को आवास के अंदर दा​खिल किया गया। सूचना मिलने पर कुछ ही देर में वि​धि-व्यवस्था बनाए रखने के लिए सचिवालय एएसपी काम्या मिश्रा पहुंचीं। एएसपी के साथ ही बड़ी संख्या में पुलिस बल राबड़ी आवास के बाहर तैनात कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें :  UKSSSC Recruitment 2021 : उत्तराखंड फॉरेस्ट गार्ड के पद पर आवेदन की आखिरी तारीख नजदीक, जल्द करें अप्लाई.

 

रेलवे में नौकरी के बदले दान करवाई जमीन :

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने लालू के कई ठिकानों पर सीबीआई छापेमारी को लेकर कहा, ‘जब लालू रेल मंत्री थे तब उन्होंने दर्जनों लोगों से ग्रुप डी की नौकरी के बदले किसी और के नाम अपनी जमीन दान करने को कहा। 5-6 साल बाद इसे खुद को गिफ्ट करवा लिया। यह उनके काम करने का तरीका था।’

 

राजद लोगों के हक-हुकूक के लिए बिना डरे लड़ता रहेगा :

राजद ने ट्वीट कर कहा, ‘तानाशाही हुकूमतें चाहे हम पर कितना भी दबाव बनाएं, राष्ट्रीय जनता दल लोगों के हक-हुकूक के लिए बिना डरे, बिना झुके, लड़ता आया है और लड़ता रहेगा…. जनता की इसी आवाज से एनडीए थर-थर कांपती है।’


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page