Follow Us On Goggle News

Bihar Politics : तो क्या बीजेपी आरसीपी सिंह को भेजेगी राज्यसभा? गठबंधन को लेकर उठ रहे सवाल.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Bihar Rajya Sabha Election 2022 : लंबे समय तक चले वाद-विवाद और कई फॉर्मूले पर चर्चा के बाद जेडीयू कोटे से केवल एक नेता आरसीपी सिंह को मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री के तौर पर शामिल किया गया था.

 

Bihar Politics : भारतीय राजनीति में भाजपा के सबसे पुराने सहयोगियों में से एक नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू के साथ गठबंधन के भविष्य को लेकर कई तरह के सवाल उठ रहे हैं. इस बार यह पूरा मसला जेडीयू कोटे से मोदी सरकार में मंत्री बने आरसीपी सिंह की राज्यसभा में वापसी के सवाल के साथ शुरू हुआ और अभी तक इस विवाद का कोई समाधान निकल भी नहीं पाया था कि जातीय जनगणना (Caste Census) को लेकर नीतीश कुमार द्वारा उठाए गए कदम ने भाजपा के सामने एक और परेशानी खड़ी कर दी है. 

 

सिर्फ 1 को राज्यसभा भेज सकती है JDU :

यह भी पढ़ें :  Pappu Yadav Released : पप्पू यादव को मिली बड़ी राहत, 32 साल पुराने अपहरण मामले कोर्ट ने किया बाइज्जत बरी.

दरअसल, लंबे समय तक चले वाद-विवाद और कई फॉर्मूले पर चर्चा के बाद जेडीयू कोटे से केवल एक नेता आरसीपी सिंह को मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री के तौर पर शामिल किया गया था. लेकिन अब राज्यसभा का उनका कार्यकाल जुलाई 2022 में समाप्त होने जा रहा है. मंत्री बने रहने के लिए उनका सांसद बने रहना जरूरी है लेकिन विधायकों की संख्या के आधार पर जेडीयू सिर्फ एक उम्मीदवार को ही जीता सकती है लेकिन उस सीट को लेकर भी कई दावेदारों के नाम सामने आ रहे हैं.

 

आरसीपी का कट सकता है पत्ता :

बताया जा रहा है कि कई मुद्दों पर भाजपा का साथ देने के कारण नीतीश कुमार (Nitish Kumar) उनसे नाराज हैं और इस बार उनका राज्यसभा का टिकट कट सकता है. जाहिर तौर पर अगर भाजपा ने उनकी मदद नहीं की तो उन्हें मोदी मंत्रिमंडल से इस्तीफा देना पड़ सकता है. 

 

नीतीश ने साफ नहीं की तस्वीर :

यह भी पढ़ें :  Lalu Family Controversy : तेज प्रताप की पीठ क्यों सहला रहे सुशील मोदी? कभी मिट्टी घोटाले में घसीटा था.

हालांकि राजनीति के चतुर खिलाड़ी माने जाने वाले नीतीश कुमार ने अभी तक अपनी मंशा साफ नहीं की है, लेकिन उनके करीबी एवं जेडीयू के वर्तमान राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह और केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह के बयानों से यह साफ-साफ नजर आ रहा है कि जेडीयू में सब कुछ ठीक-ठाक नहीं चल रहा है.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page