Follow Us On Goggle News

Earthquake : अरुणाचल प्रदेश में फिर कांपी धरती, कई बार महसूस किए गए भूकंप के झटके, रिक्टर स्केल पर 4.4 मापी गई तीव्रता.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Earthquake : अरुणचल प्रदेश में कई बार भूकंप के झटके महसूस किए जा चुके हैं. आज के भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 4.4 मापी गई है. इस बीच राहत की बात यह है कि अभी तक किसी भी प्रकार के नुकसान की कोई खबर सामने नहीं आई है

Earthquake : अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) के बसर में आज सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी (NCS) ने बताया कि भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 4.4 मापी गई है. इस बीच राहत की बात यह है कि अभी तक किसी भी प्रकार के नुकसान की कोई खबर सामने नहीं आई है. हालांकि एक अक्टूबर के बाद यह दूसरा मौका है जब जिले में भूकंप आया है.

इससे पहले 2 अक्टूबर को भी जिले में 4.1 तीव्रता का भूकंप ( Earthquake ) आया था. भूकंप विज्ञान के लिए राष्ट्रीय केंद्र (National Center for Seismology) ने भूकंप की जानकारी देते हुए कहा कि भूकंप सुबह 10 बजकर 15 मिनट पर आया था.

यह भी पढ़ें :  Geomagnetic Storm 2021 : आज किसी भी समय धरती से टकरा सकता है जियोमैग्नेटिक तूफान, कई देशों में ब्लैकआउट का खतरा!

मालूम हो कि इससे पहले भी अरुणचल प्रदेश में कई बार भूकंप के झटके ( Earthquake ) महसूस किए जा चुके हैं. इससे पहले 19 सितंबर 2021 को प्रदेश में कंपन किए गए थे. इस दौरान रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.4 मापी गई थी. 19 सितंबर को आने वाला भूकंप दोपहर के 3 बजकर 6 मिनट पर आया था. हालांकि, इस दौरान किसी भी जानमाल के नुकसान की कोई सूचना नहीं आई थी.

क्यों आता है भूकंप ( Earthquake ) ?

पृथ्वी कई लेयर में बंटी होती है और जमीन के नीचे कई तरह की प्लेट होती है. ये प्लेट्स आपस में फंसी रहती हैं, लेकिन कभी-कभी ये प्लेट्स खिसक जाती है, जिस वजह से भूकंप आता है. कई बार इससे ज्यादा कंपन हो जाता है और इसकी तीव्रता बढ़ जाती है. भारत में धरती के भीतर की परतों में होने वाली भोगौलिक हलचल के आधार पर कुछ जोन तय किए गए हैं और कुछ जगह यह ज्यादा होती है तो कुछ जगह कम.

यह भी पढ़ें :  CBSE 10th Result 2021 Direct Link : जारी हुआ सीबीएसई 10वीं का रिजल्ट, ये रहा डायरेक्ट लिंक.

इन संभावनाओं के आधार पर भारत को 5 जोन बांटा गया है, जो बताता है कि भारत में कहां सबसे ज्यादा भूकंप आने का खतरा रहता है. इसमें जोन-5 में सबसे ज्यादा भूकंप आने की संभावना रहती है और 4 में उससे कम, 3 उससे कम होती है.

भूकंप ( Earthquake ) आने पर क्या करें, क्या न करें?

1. जैसे ही आपको भूकंप के झटके महसूस हों, वैसे ही आप किसी मजबूत टेबल के नीचे बैठ जाएं और कस कर पकड़ लें.
2. जब तक झटके जारी रहें या आप सुनिश्चित न कर लें कि आप सुरक्षित ढंग से बाहर निकल सकते हैं, तब तक एक ही जगह बैठे रहें.
3. अगर आप ऊंची इमारत में रहते हैं तो खिड़की से दूर रहें.
4. अगर आप बिस्‍तर पर हैं तो वहीं रहें और उसे कसकर पकड़ लें. अपने सिर पर तकिया रख लें.
5. अगर आप बाहर हैं तो किसी खाली स्‍थान पर चले जाएं… यानी बिल्डिंग, मकान, पेड़, बिजली के खंभों से दूर.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page