Bihar Politics : जदयू नेता उपेंद्र कुशवाहा ने खबरों को बताया अफवाह, कहा – ‘BJP में नहीं होंगे शामिल’.

JDU leader Upendra Kushwaha :  उपेंद्र कुशवाहा ने खुद को लेकर बयान दिया है. दरअसल उन्हें लेकर अटकलें लगाई जा रही थीं कि वो जल्द ही BJP में शामिल हो सकते हैं. हालांकि उपेंद्र कुशवाहा ने इन सभी खबरों को (Bihar Politics) अफवाह बताया. वे बोले- मैं JDU में हूं, JDU कमजोर हो रहा है, लेकिन मैं इसे मजबूत करने के लिए काम करता रहूंगा.

 

Bihar Politics : जदयू नेता उपेंद्र कुशवाहा को लेकर पिछले कुछ दिनों से अटकलें लगाई जा रही थीं कि वो भाजपा में शामिल हो सकते हैं. इन अटकलों को खारिज करते हुए कुशवाहा ने खुद सभी सवालों के जवाब दिए हैं. JDU राष्ट्रीय संसदीय बोर्ड प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने इसे अफवाह मात्र बताया.

उन्होंने कहा, भाजपा नेता से मिलने का वास्तव में मतलब यह नहीं है कि मैं भाजपा में शामिल होने जा रहा हूं. ये निराधार अफवाहें हैं. मैं उनसे अस्पताल में मिला, इसका राजनीतिकरण करने की जरूरत नहीं है. मैं जद (यू) में हूं, जद (यू) कमजोर हो रहा है, लेकिन मैं इसे मजबूत करने के लिए काम करता रहूंगा.

नीतीश कुमार ने दिया था बयान :

उपेंद्र कुशवाहा के बीजेपी में शामिल होने की अटकलों के बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बीते दिन ही बयान दिया था. उनके बयान से साफ जाहिर हो रहा था कि कुशवाहा के पार्टी छोड़ने से भी JDU पर खास फर्क नहीं पड़ने वाला है. नीतीश कुमार ने कहा था कि वह तो पहले भी दो तीन बार जेडीयू छोड़कर चले गए हैं और वापस आए हैं. नीतीश कुमार ने आगे कहा कि वह उपेंद्र कुशवाहा से जल्द ही इस बारे में बातचीत करेंगे. उपेंद्र कुशवाहा गुरुवार से दिल्ली के एम्स में भर्ती है जहां पर वह अपना रूटीन मेडिकल चेकअप करवा रहे हैं.

 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए 

यहाँ क्लिक करें.

यह भी पढ़े :  Tejashwi Yadav : 'बजट से नहीं कोई उम्मीद, विशेष राज्य का दर्जा तो नहीं मिला, कम से कम स्पेशल पैकेज मिले'.

नीतीश कुमार ने कहा, ‘उपेंद्र कुशवाहा से कह दीजिए कि हम से बात कर लें. वह तो दो तीन बार पार्टी छोड़कर गए हैं और फिर आए हैं. उनकी क्या इच्छा है, हमको तो नहीं मालूम है. नीतीश कुमार ने आगे कहा, अभी तो उनकी तबीयत खराब है ऐसा हमें पता चला है. हम उनके हालचाल ले लेंगे. अगर बीजेपी से नजदीकी की कोई बात है तो हमको उसके बारे में ज्यादा कुछ नहीं पता. जब वह स्वस्थ हो जाएंगे तो उनसे हम पूछ लेंगे क्या मामला है.

कैसे हुआ अफवाहों का बाजार गर्म?

गौरतलब है कि JDU नेता उपेंद्र कुशवाहा फिलहाल रूटीन चेकअप के लिए दिल्ली के एम्स में भर्ती हैं. उनसे मिलने के लिए बीजेपी के 3 नेता अस्पताल पहुंचे, इस मुलाकात से बिहार का सियासी पारा चढ़ने लगा. बीजेपी नेताओं के कुशवाहा से मिलने के बाद अटकलों का बाजार गर्म हो गया कि उपेंद्र कुशवाहा जल्द ही नीतीश कुमार और जेडीयू का साथ छोड़कर बीजेपी या एनडीए में शामिल हो सकते हैं.

जेडीयू से नाराज उपेंद्र कुशवाहा :

दरअसल उपेंद्र कुशवाहा की नाराजगी की खबरें तो तभी से आ रही हैं जब बिहार में महागठबंधन की सरकार बनने के बाद कुशवाहा को कोई मंत्री पद नहीं मिला था. कुशवाहा को उम्मीद थी की कैबिनेट विस्तार में उन्हें डिप्टी सीएम बनाया जाएगा, लेकिन नीतीश कुमार ने साफ कर दिया कि कोई दूसरा डिप्टी सीएम नहीं होगा जिससे उपेंद्र कुशवाहा के अरमानों पर पानी फिर गया.

भाजपा ने भी दिए थे स्वागत के संदेश :

उल्लेखनीय है कि उपेंद्र कुशवाहा से मिलने पूर्व विधायक प्रेम रंजन पटेल, संजय सिंह टाइगर और योगेंद्र पासवान दिल्ली के एम्स पहुंचे थे. इनमें से प्रेम रंजन पटेल ने जैसे ही सोशल मीडिया पर कुशवाहा से मिलने की तस्वीर शेयर की लोग ये कयास लगाने लगे की कुशवाहा अब जल्द ही बीजेपी का दामन थाम लेंगे. बीजेपी ने भी ऐसे संकेत दिए थे कि अगर कुशवाहा पार्टी में आना चाहें तो उनका स्वागत है. हालांकि आज खुद उपेंद्र कुशवाहा ने इन मुलाकातों को सामान्य बताया और पार्टी छोड़ने की खबरों को अटकलें बताया.