Follow Us On Goggle News

Traffic New Rule : अब ट्रैफिक पुलिस नहीं रोक सकेगी आपकी कार और न कर सकेगी चेकिंग, जान लीजिए नया नियम.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Traffic New Rule for vehicle checking : अब ट्रैफिक पुलिस जबरन आपकी गाड़ी न रोक सकेगी. नए नियम के अनुसार, ट्रैफिक पुलिस वाले गाड़ियों की चेकिंग नहीं करेंगे, वो किसी गाड़ी को तभी रोकेंगे जब उससे ट्रैफिक की रफ्तार पर कोई फर्क पड़ रहा हो.

 

Traffic New Rule : कार चलने वालों के लिए बड़ी राहत की खबर है. अब ट्रैफिक पुलिस आपको बेवजह रोककर परेशान नहीं कर सकेगी, और न ही आपका चाललं काट सकेगी. अब ट्रैफिक पुलिस आपकी गाड़ी की बेवजह चेकिंग भी नहीं कर सकेगी. दरअसल, कुछ समय पहले इस बारे में एक सर्कुलर ट्रैफिक डिपार्टमेंट को जारी किया है. इसके अनुसार, अब आपकी गाड़ी बिना वजह नहीं रोकी जाएगी. आइये जानते हैं लेटेस्ट अपडेट.

अब ट्रैफिक पुलिस जबरन आपकी गाड़ी न रोक सकेगी. नए नियम के अनुसार, ट्रैफिक पुलिस वाले गाड़ियों की चेकिंग नहीं करेंगे, खासतौर पर जहां चेक नाका हो, वो सिर्फ ट्रैफिक की मॉनिटरिंग करेंगे और इस पर फोकस करेंगे कि ट्रैफिक सामान्य रूप से चले. वो किसी गाड़ी को तभी रोकेंगे जब उससे ट्रैफिक की रफ्तार पर कोई फर्क पड़ रहा हो.

यह भी पढ़ें :  Kanpur Metro Rail : पीएम मोदी कानपुर मेट्रो का आज करेंगे उद्घाटन, IIT के दीक्षांत समारोह में भी होंगे शामिल.

 

 

सभी यातायात पुलिस को गाड़ियों की जांच करने से रोकने के लिए कहा गया है क्योंकि सड़कों पर ट्रैफिक बढ़ रहा है, उन्हें ट्रैफिक की आवाजाही पर निगरानी रखने को प्राथमिकता देने के लिए भी कहा गया है. सर्कुलर में ये कहा गया है कि अगर मोटर चालक यातायात नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं, तो उन्हें यातायात पुलिस मोटर वाहन अधिनियम के प्रावधानों के तहत आरोपित कर सकती है. 

यातायात पुलिस और स्थानीय पुलिसकर्मियों की ओर से संयुक्त नाकाबंदी के दौरान यातायात पुलिस केवल यातायात उल्लंघन के खिलाफ कार्रवाई करेगी और वाहनों की जांच नहीं करेगी. अगर इन निर्देशों को सख्ती से लागू नहीं किया जाता है, तो संबंधित यातायात चौकी के वरिष्ठ निरीक्षक को जिम्मेदार ठहराया जाएगा.

 

 

दरअसल, अक्सर देखा गया है कि ट्रैफिक पुलिस सिर्फ संदेह के आधार पर कहीं भी गाड़ियों को रोककर उनके बूट और गाड़ी के अंदर की जांच करने लग जाते हैं. जिससे उस सड़क पर ट्रैफिक प्रभावित होता है. 

यह भी पढ़ें :  LPG Gas Cylinder Price : देशभर आज से लागू हुआ एलपीजी गैस सिलेंडर के नए दाम, यहाँ देखें लिस्ट.

यातायात पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि यातायात पुलिस को संदेह के आधार पर वाहनों के बूट की जांच नहीं करनी चाहिए और न ही उन्हें रोकना चाहिए. उन्होंने कहा कि हमारे जवान पहले की तरह यातायात अपराधों के खिलाफ चालान जारी रखेंगे और यातायात उल्लंघन करने वालों को रोकेंगे. 


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page