Follow Us On Goggle News

Sahara India Payment: सहारा इंडिया का 10 करोड़ का चेक हुआ बाउंस, न‍िवेशकों के सामने आई नई मुसीबत.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Sahara India Payment: छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव सहारा इंडिया के अंतर्गत संचालित विभिन्न संस्थाओं में जिले के कई निवेशकों ने करोड़ों रुपए जमा कराए हैं पर रकम की वापसी नहीं हो रही थी। मामले में शिकायत आने पर कोतवाली पुलिस ने चार डायरेक्टरों पर एफआईआर दर्ज की थी। इन चारों डायरेक्टरों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था पर रकम वापसी की शर्त पर इन आरोपियों को जमानत मिल गई। बताया गया कि प्रशासन को जारी किए गए 10 करोड़ रुपए का चेक बाउंस हो गया है। इससे निवेशकों की परेशानी बढ़ गई है।

कलेक्टर डोमन सिंह का कहना है कि चेक बाउंस होने के मामले में नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए अफसरों को बैंक से डिटेल लेने कहा गया है। सहारा इंडिया के चार डायरेक्टरों को कोतवाली पुलिस ने 31 मई को न्यायालय में पेश किया था। आरोपियों की ओर से रकम वापसी के साथ ही चेक देकर शपथ पत्र भी दिया था।

यह भी पढ़ें :  Sahara India Case: आख़िरकार बुधवार को हाई कोर्ट में हाज़िर होंगे सहारा के मालिक सुब्रत राय, बताना होगा कब देंगे लोगों के पैसे.

एफआईआर की जगह पत्र लिखे हैं, जबाव का इंतजार: Sahara India Payment

जांच टीम में शामिल अफसरों का कहना है कि चेक बाउंस होने पर कंपनी को पत्र लिखकर जवाब मांगा गया है। हैरत की बात यह है कि चेक बाउंस होने के बाद प्रशासन की ओर से तत्काल एफआईआर नहीं कराई गई बल्कि कंपनी के जवाब का इंतजार किया जा रहा है। कलेक्टर डोमन सिंह ने बताया कि चेक बाउंस मामले में नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

रकम वापसी के लिए अफसरों की टीम बनाई: Sahara India Payment

रकम वापसी के लिए टीम का गठन भी किया हे। इस टीम में एडीएम सीएल मारकंडे, एसडीएम अरूण वर्मा, सीएसपी गौरव राय सहित अन्य अफसर इसमें शामिल किए गए हैं। बताया गया कि आरोपी डायरेक्टरों की ओर से मामला सामने आने के बाद प्रशासन के खाते में 15 करोड़ रुपए डालने की बात कही थी पर केवल 5 करोड़ रुपए ही खाते में डाले गए।

यह भी पढ़ें :  Sahara India Refund: नौ प्रतिशत ब्याज के साथ सहारा इंडिया लौटाएगा उपभोक्ता का पैसा.

लखनऊ से की गई थी आरोपियों को गिरफ्तारी: Sahara India Payment

सहारा से जुड़ी कंपनी सहारियन यूनिवर्सल मल्टीपरपरस सोसायटी के आरोपी मोहम्मद खालिद, शैलेष मोहन सहाय को लखनऊ से गिरफ्तार किया गया था। सहारा क्रेडिट कॉरपोरेटिव सोसाइटी लिमिटेड के लालजी वर्मा को गिरफ्तार किया गया। चेक के साथ शपथ पत्र जमा कराए जाने से रकम वापसी के लिए आवेदन भी मंगाए गए हैं।


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page