Follow Us On Goggle News

Sahara India Chief Subrata Roy: फिर जेल जायेंगे सहारा प्रमुख सुब्रत रॉय, सुब्रत रॉय समेत दस लोगों पर केस कर्ज.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Sahara India Chief Subrata Roy: देश की सबसे बड़ी कंपनियों में शुमार रही सहारा इंडिया में देश के करोड़ों लोगो ने निवेश किया था, परन्तु कंपनी के कामकाज में पारदर्शिता ना होने और वित्तीय अनियमितता के कारण लोगो के पैसे फँस गए हैं। सहारा इंडिया के चेयरमैन सुब्रत राय सहारा समेत सहारा इंडिया के दस अधिकारियों के खिलाफ उत्तर प्रदेश के मेरठ ज़िले के ब्रहमपुरी थाने में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया है।

Sahara India Chief Subrata Roy: सहारा इंडिया के चेयरमैन सुब्रत राय सहारा समेत सहारा इंडिया के दस अधिकारियों के खिलाफ उत्तर प्रदेश के मेरठ ज़िले के ब्रहमपुरी थाने में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया है। आरोप है कि 25 लाख पांच हजार की रकम निवेश की गई थी। समय पुरा होने के बाद रकम वापस नहीं लौटाई गई है। अफसरों से इस मामले में शिकायत की गई। उसके बाद भी कोई संज्ञान नहीं लिया गया था।

यह भी पढ़ें :  Sahara India Refund: सहारा इंडिया में फंसे पैसों सुप्रीम कोर्ट ने दिया बड़ा आदेश.

 

Sahara India Chief Subrata Roy समय पूरा होने पर भी नहीं मिली रकम:

ब्रहमपुरी के इंद्रानगर निवासी राजेश्वरी गोयल ने 2014 में सहारा इंडिया में 25 लाख पांच हजार की रकम निवेश की थी। राजेश्वरी के बेटे नितिन गोयल ने बताया कि रकम निवेश करने के समय कंपनी ने बताया था कि पांच साल तक रकम पर 25 हजार रुपये बतौर ब्याज के रूप में किश्त मिलेगी।पांच साल का समय पूरा होने के बाद 25 लाख पांच हजार की रकम वापस कर दी जाएगी। रकम जमा करने के बाद कंपनी की तरफ से प्रत्येक माह 25 हजार की रकम भेज दी गई। यह रकम पांच साल यानि 2019 तक भेजी गई। समय पूरा होने के बाद भी निवेश की गई रकम वापस नहीं दी गई।उसके बाद कंपनी के अफसरों को मामले की शिकायत की गई। उसके बाद भी रकम वापस नहीं की गई।

Sahara India Chief Subrata Roy शि‍कायत के बावजूद मुकदमा दर्ज नहीं किया:

लगातार 2019 से पुलिस अफसरों को शिकायत करते आ रहे है। उसके बाद भी मुकदमा दर्ज नहीं किया गया। एसएसपी रोहित सिंह सजवाण को भी राजेश्वरी की तरफ से मामले की शिकायत की गई। एसएसपी ने ब्रहमपुरी थाने को मुकदमे के आदेश किए।

यह भी पढ़ें :  Sahara India Refund: सहारा इंडिया में जमा पैसे के भुगतान को लेकर हाईकोर्ट ने तय की सुनवाई की तारीख.

कप्तान के आदेश पर सहारा इंडिया के चेयरमैन सुब्रत राय निवासी सहारा प्रमुख क्रेडिट कोपरेटिव सोसाइटी लि. समेत सहारा इंडिया के अधिकारी डीके श्रीवास्तव, ओपी श्रीवास्तव, एसएच हैदर, प्रशांत वर्मा, एनबी सिंह, साहब चतुर्वेदी, सर्वेश पांडेय, डीसी तिवारी और जितेंद्र उर्फ जेके श्रीवास्तव के खिलाफ आईपीसी की धारा 420, 406, 34 के तहत मामला दर्ज किया है। एसएसपी रोहित सजवाण सहारा निवेशक पिछले काफी दिनों से परेशान थे। पीडि़त की तहरीर पर मेरठ में पहली एफआईआर दर्ज कर ली गई है। प्रदेश के अन्य जनपदों में एफआइआर पहले हो चुकी है।


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page