Follow Us On Goggle News

Rajasthan CM : सचिन पायलट बन सकते हैं राजस्थान के नए मुख्यमंत्री, राहुल गाँधी और अशोक गहलोत के बयान से मिल रहे संकेत.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Congress President Election : राजस्थान के मुख्यमंत्री पद ( Rajasthan CM ) की दावेदारी का दम भरने वाले सचिन पायलट के लिए बड़ी राहत भरी खबर है. आगे जो भी हो संभावित मुकाबला अशोक गहलोत और शशि थरूर के बीच माना जा रहा है, जबकि सुरेश पचौरी ने भी बुधवार को मुकुल वासनिक और पवन बंसल के अलावा सोनिया गांधी से भी मुलाकात की है.

 

Rajasthan CM :  कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव का बिगुल बज गया है। वरिष्ठ नेता शशि थरूर और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ( CM Ashok Gehlot ) के उम्‍मीदवार के तौर पर उतरने के संकेतों के बाद इस बात की पुख्‍ता संभावना है कि 22 साल बाद कांग्रेस के अध्‍यक्ष ( Congress President Election) का चयन चुनाव के जरिये होगा। इस बीच राहुल गांधी की ओर से संकेत दिया गया है कि पार्टी उदयपुर घोषणापत्र पर आगे बढ़ते हुए ‘एक व्‍यक्ति, एक पद’ के फॉर्मूले पर आगे बढ़ेगी।

यह भी पढ़ें :  LPG Gas Subsidy: रसोई गैस सिलेंडर पर फिर शुरू हुई सब्सिडी! जून महीने में खाते में आये इतने रुपये, ऐसे करें चेक.

 

एक टीवी न्यूज चैनलों के मुताबिक कांग्रेस नेतृत्व सचिन पायलट ( Sachin Pilot ) को राजस्थान का सीएम बनाना चाहता है। वहीं ndtv.com की एक रिपोर्ट के मुताबिक पायलट को “राजस्थान के मुख्यमंत्री के रूप में पदभार संभालने के लिए गांधी परिवार का आशीर्वाद है”. सुत्रों के अनुसार गहलोत ने भी स्पष्ट कर दिया है कि वह सीएम पद से इस्तीफा देने के लिए तैयार हैं।

 

गहलोत के बयान से भी मिल रहे संकेत :

गहलोत ने भी पार्टी हाईकमान के संकेतों के सुर में सुर मिलाया है। समाचार एजेंसी पीटीआइ की रिपोर्ट के मुताबिक गहलोत का कहना है कि पार्टी का जो फैसला होगा, उसे वह स्‍वीकार करेंगे। गहलोत सोनिया गांधी के विश्‍वास पात्र माने जाते हैं। अशोक गहलोत ने बुधवार को सोनिया गांधी से मुलाकात की थी। सूत्रों की मानें तो अशोक गहलोत (Rajasthan CM) लगातार पार्टी के शीर्ष नेताओं के संपर्क में बने हुए हैं। संकेत साफ हैं कि गहलोत अध्‍यक्ष पद ( Congress President Election) के चुनाव में उम्‍मीदवार के तौर पर उतर सकते हैं।

यह भी पढ़ें :  LPG Gas Subsidy: रसोई गैस सिलेंडर पर फिर शुरू हुई सब्सिडी! जून महीने में खाते में आये इतने रुपये, ऐसे करें चेक.

राहुल ने किया बड़ा इशारा :

दरअसल राहुल गांधी ने साफ कर दिया है कि जो भी कांग्रेस का अध्यक्ष बने, उसे यह याद रखना होगा कि वह एक विचारधारा और भारत की दृष्टि का प्रतिनिधित्व करेगा। समाचार एजेंसी एएनआइ की रिपोर्ट के मुताबिक राहुल ने कहा- हमने उदयपुर में जो फैसला किया था, वह कांग्रेस की प्रतिबद्धता है। राहुल ने उम्मीद जताई कि पार्टी के अध्यक्ष पद को लेकर भी यह प्रतिबद्धता बरकरार रहेगी। सनद रहे कांग्रेस ने बीते दिनों उदयपुर में आयोजित बैठक में एक व्यक्ति, एक पद के फॉर्मूले को लेकर एक घोषणा पत्र जारी किया था।

..30 सितंबर तक इंतजार करिए :

कांग्रेस अध्‍यक्ष पद के लिए होने वाले चुनाव को लेकर नित नई अटकलें सामने आ रही हैं। कुछ रिपोर्टों में कांग्रेस के दिग्‍गज नेता एवं गांधी परिवार के विश्‍वासपात्र दिग्विजय सिंह के एंट्री मारने की बातें भी कही जा रही हैं। हालांकि समाचार एजेंसी एएनआइ ने इस बाबत जब दिग्विजय सिंह से सवाल किया तो उन्‍होंने ठोस जवाब न देकर केवल इतना कहा कि लोगों को 30 सितंबर तक इंतजार करना चाहिए। दिग्विजय सिंह पार्टी आलाकमान से मिलने दिल्‍ली पहुंचे हैं।

यह भी पढ़ें :  LPG Gas Subsidy: रसोई गैस सिलेंडर पर फिर शुरू हुई सब्सिडी! खाते में आये इतने रुपये, ऐसे करें चेक.

‘एक व्‍यक्ति, एक पद’ के फॉमूले पर कांग्रेस :

कुल मिलाकर इतना स्‍पष्‍ट हो गया है कि कांग्रेस अब ‘एक व्‍यक्ति, एक पद’ के फॉमूले पर आगे बढ़ेगी। समाचार एजेंसी आइएएनएस ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि उक्‍त संकेत राजस्थान के मुख्यमंत्री पद की दावेदारी का दम भरने वाले सचिन पायलट के लिए बड़ी राहत के रूप में आया है। आगे जो भी हो संभावित मुकाबला अशोक गहलोत और शशि थरूर के बीच माना जा रहा है, जबकि सुरेश पचौरी ने भी बुधवार को मुकुल वासनिक और पवन बंसल के अलावा सोनिया गांधी से भी मुलाकात की है।

 


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page