Follow Us On Goggle News

Corona Lockdown Alert: देशभर में 24 घंटे में मिले 3,324 नए कोरोना मरीज, क्या फिर लगेगा लॉकडाउन?

इस पोस्ट को शेयर करें :

Corona Lockdown Alert: देशभर में कोरोनावायरस संक्रमण के दैनिक मामलों की संख्या तीन हजार के पार बनी हुई है. भारत में बीते 24 घंटों में 3 हजार 324 नए मामले मिले हैं. इस दौरान 40 मरीजों की मौत हुई है. नए आंकड़ों को मिलाकर देश में कुल संक्रमितों की संख्या 4 करोड़ 30 लाख 79 हजार 188 पर पहुंच गई है. वहीं, अब तक कोविड-19 से 5 लाख 23 हजार 843 मरीज जान गंवा चुके हैं. फिलहाल, देश में 19 हजार 92 कोविड संक्रमितों का इलाज जारी है.

देश में पिछले 24 घंटों में कुल 2 हजार 876 मरीज ठीक भी हुए हैं, जिससे देश भर में कुल ठीक होने वालों की संख्या 4 करोड़ 25 लाख 36 हजार 253 हो गई है. देश में पिछले 24 घंटे में 4 लाख 96 हजार 640 सैंपल की जांच की गई.

कुल नए मामलों के 83.54 फीसदी पांच राज्यों से… Corona Lockdown Alert

देश में पिछले 24 घंटे में मिले कोरोना के नए मामलों में से 83.54 प्रतिशत केस दिल्ली, हरियाणा, केरल, उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र से सामने आए हैं. अकेले दिल्ली 45.73% नए मामलों के लिए जिम्मेदार है.

यह भी पढ़ें :  Corona Virus Alert: देशभर में फिर बढ़ने लगी कोरोना की रफ्तार.

देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 40 मरीजों की मौत भी हुई, जिससे मरने वालों की कुल संख्या बढ़कर 5 लाख 23 हजार 843 हो गई है. वहीं, भारत का रिकवरी रेट अब 98.74% है.

देश में पिछले 24 घंटों में कुल 2 हजार 876 मरीज ठीक भी हुए हैं, जिससे देश भर में कुल ठीक होने वालों की संख्या 4 करोड़ 25 लाख 36 हजार 253 हो गई है. देश में पिछले 24 घंटे में 4 लाख 96 हजार 640 सैंपल की जांच की गई.

 

क्या दिल्ली में लगेगा लॉकडाउन? Corona Lockdown Alert

दिल्ली में कोरोना की संक्रमण दर लगातार बढ़ रही है. बीच में ये 8 फीसदी के करीब पहुंच गई थी और अभी भी कुछ दिन से ये 4.5 फीसदी के ऊपर बनी हुई है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मुताबिक, 5 फीसदी से ऊपर की संक्रमण दर ‘चिंताजनक’ होती है.

संक्रमण दर के बढ़ने और कोरोना के मामलों में उछाल आने के बाद लॉकडाउन की चर्चाएं भी शुरू हो गईं हैं. लोगों और कारोबारियों को लॉकडाउन लगने का डर सताने लगा है. हालांकि, सरकार की ओर से अभी लॉकडाउन की कोई बात नहीं कही गई है. स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन का कहना है कि स्थिति गंभीर नहीं है, क्योंकि वैक्सीनेशन और नैचुरल इम्युनिटी के कारण संक्रमितों को अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत नहीं पड़ रही है.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page