Follow Us On Goggle News

EPFO Interest Rates Hike: पीएफ के ब्याज पर केंद्रीय मंत्री ने संसद में दी बड़ी जानकारी.

इस पोस्ट को शेयर करें :

EPFO Interest Rates Hike: नवरात्रि (Navratri) पर नौकरीपेशा लोगों को बड़ी खुशखबरी मिल सकती है. दरअसल, त्योहारी सीजन में उम्मीद है कि सरकार प्रोविडेंट फंड (PF) खाते में ब्याज का पैसा डाल सकती है. पीएफ अकाउंट होल्डर्स (PF Account Holders) को उनकी जमा राशि पर 8.1 फीसदी की दर से ब्याज (Interest) मिलेगा.

EPFO Interest Rates Hike: पीएफ अकाउंट होल्डर्स (PF Account Holders) खाते में जमा पैसे पर मिलने वाले ब्याज का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं. हालांकि, कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) की ओर से ऐसी कोई इस मामले में आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है कि पैसा कब तक आएगा, लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि सरकार त्योहार पर तोहफा दे सकती है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इस बात की पूरी संभावना बनती दिख रही है कि सरकार नवरात्रि पर्व के दौरान देश के करोड़ों पीएफ खातों में ब्याज का पैसा (PF Interest Money) ट्रांसफर कर सकती है.

यह भी पढ़ें :  Old Pension Scheme: राजस्थान, छत्तीसगढ़ और झारखंड के बाद पूरे देश में लागू हो जाएगी पुरानी पेंशन योजना!

श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री रामेश्वर तेली ने सदन में वित्त वर्ष 2021-2022 के लिए कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) जमा पर मिलने वाली ब्याज दर में किसी तरह का बदलाव नहीं करने की बात कही है. श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री रामेश्वर तेली ने एक सवाल के लिखित जवाब में राज्यसभा को यह बड़ी जानकारी दी है.

EPFO Interest Rates Hike सरकार ने दी जानकारी :

दरअसल, सदन में रामेश्वर तेली से ये सवाल पूछा गया था कि क्या सरकार कर्मचारी भविष्य निधि जमा राशि पर ब्याज की दर को बढ़ाने पर पुनर्विचार कर रही है? इस पर लिखित जवाब देते हुए उन्होंने स्पष्ट किया कि ब्याज दर पर पुनर्विचार करने का कोई प्रस्ताव नहीं है.यानी पीएफ खाते पर मिलने वाली ब्याज दर में कोई बढ़ोतरी नहीं होने जा रही है.

EPFO Interest Rates Hike छोटी बचत योजनाओं से ज्यादा ब्याज :

श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री रामेश्वर तेली ने यह भी कहा कि ईपीएफ की ब्याज दर अन्य तुलनीय योजनाओं जैसे सामान्य भविष्य निधि (7.10 प्रतिशत), वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (7.40 प्रतिशत) और सुकन्या समृद्धि खाता योजना (7.60 प्रतिशत) से अधिक है. यानी रामेश्वर तेली के अनुसार छोटी बचत योजनाओं से पीएफ पर मिलने वाला ब्याज आज भी ज्यादा है, ऐसे में ब्याज दर बढ़ोतरी पात्र सरकार कोई विचार नहीं करेगी. आपको बता दें कि ईपीएफ पर ब्याज दर 8.10 प्रतिशत देने को मंजूरी मिली है.

यह भी पढ़ें :  Aadhaar Card Link: जल्दी निपटा लें आधार से जुड़ा यह जरूरी काम, तभी मिलेगा सरकारी नौकरी में आरक्षण का फायदा

EPFO Interest Rates Hike मंत्री ने कही ये बात :

रामेश्वर तेली ने कहा है कि पीएफ पर मिलने वाला ब्याज दर ईपीएफ द्वारा अपने निवेश से प्राप्त आय पर निर्भरे है और ऐसी आय को केवल ईपीएफ योजना, 1952 के अनुसार ही वितरित किया जाता है.रामेश्वर तेली ने यह भी कहा कि सीबीटी और ईपीएफ ने 2021-22 की खातिर 8.10 प्रतिशत ब्याज दर की सिफारिश की थी जिसे सरकार द्वारा मंजूर कर लिया गया है, यानी इस बार पीएफ पर 8.10 की दर से ही ब्याज मिलेगा.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page