Budget 2023: सीनियर सिटिजन सेविंग स्कीम और सुकन्या समृद्धि जैसी योजनाओं पर सरकार कर सकती है बड़ा ऐलान

Budget 2023: एक्सपर्ट्स का कहना है कि आज भी SCSS और SSY जैसी स्कीम लोगों के बीच बहुत लोकप्रिय हैं। लेकिन, इन स्कीम में कुछ बदलाव करने की जरूरत है। खासकर लॉक-इन पीरियड घटाने की जरूरत है। इससे कम इनकम वाले लोग भी इनमें निवेश करने में दिलचस्पी दिखा सकते हैं

Budget 2023: सीनियर सिटीजन सेविंग्स स्कीम (SCSS) और सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) पर सरकार का फोकस बढ़ने की उम्मीद है। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने अपनी रिपोर्ट में यह अनुमान जताया है। एसएसवाई के लिए सरकार रजिस्ट्रेशन बढ़ाने पर जोर दे सकती है। एससीएसएस और एसएसवाई स्मॉल सेविंग्स स्कीम हैं, जो इनवेस्टर्स के बीच बहुत लोकप्रिय हैं। एससीएसएस 60 साल और इससे ज्यादा उम्र के लोगों के लिए उपलब्ध है। एसएसवाई लड़कियों के लिए है। लीगल गार्जियन या नेचुरल गार्जियन लड़की के नाम से SSY अकाउंट खोल सकता है। लड़की के जन्म से लेकर 10 साल की उम्र तक अकाउंट ओपन किया जा सकता है। हाल में सरकार ने जनवरी-मार्च तिमाही के लिए स्मॉल-सेविंग्स स्कीम के इंटरेस्ट रेट्स को 1.1 फीसदी तक बढ़ाया था। हालांकि, सुकन्या समृद्धि के लिए इंटरेस्ट रेट नहीं बढ़ाया गया था।

अभी SCSS का इंटरेस्ट रेट 8 फीसदी है, जबकि SSY का 7.6 फीसदी है। इनवेस्टमेंट के ये दोनों ऑप्शंस बहुत लोकप्रिय हैं। लेकिन इनमें लॉक-इन पीरियड काफी ज्यादा है। इस वजह से कई बार जरूरत पड़ने पर पैसा नहीं मिल पाता है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि सरकार को इस बारें में कुछ बदलाव करने की जरूरत है। एससीएसएस का मैच्योरिटी पीरियड 5 साल है। अकाउंट मैच्योर करने पर इसे और पांच साल के लिए बढ़ाया जा सकता है। लेकिन, ऐसा मैच्योरिटी के एक साल के अंदर होता है। इसके लिए अप्लिकेशन देना होगा। 21 साल पूरे होने के बाद SSY अकाउंट को बंद किया जा सकता है।

यह भी पढ़े :  Bank Privatisation : सरकारी बैंकों को लेकर हुआ बड़ा फैसला, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने किया ऐलान!

250 रुपये के न्यूनतम निवेश से ओपन हो सकता है SSY अकाउंट

250 रुपये के न्यूनतम निवेश से सुकन्या समृद्धि स्कीम में अकाउंट ओपन किया जा सकता है। एक फाइनेंशियल ईयर में इसमें मैक्सिमम 1.50 लाख रुपये का निवेश किया जा सकता है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि एसएसवाई पर सरकार को फोकस बढ़ाना चाहिए। यह कम आय वर्ग के लोगों के लिए अपनी बेटियों के भविष्य के लिए अच्छा फंड तैयार करने का मौका देता है। इस स्कीम से तैयार फंड का इस्तेमाल बेटियों की शिक्षा से लेकर शादी तक के लिए किया जा सकता है। इस स्कीम में निवेश पर टैक्स बेनेफिट भी है।