Follow Us On Goggle News

Hindi Diwas 2022 : 14 सितंबर को ही क्यों मनाया जाता है हिन्दी दिवस? जानिए क्यों खास है ये तारीख.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Hindi Diwas 14 September 2022 : आज यानि 14 सितंबर को पूरा देश हिन्दी दिवस 2022 मना रहा है. हिन्दी दिवस 14 सितंबर को ही क्यों मनाया जाता है? इस तारीख में ऐसा क्या खास है? पढ़िए इन सारे सवालों के जवाब.

Hindi Diwas 2022 : देश भर में आज हिंदी दिवस मनाया जा रहा है. भारत में 14 सितंबर को हर साल हिंदी दिवस मनाया जाता है, जबकि विश्व हिंदी दिवस 10 जनवरी को मनाया जाता है. भारत समेत दुनिया के कुछ हिस्सों में भी इस दिन हिन्दी सम्मान में कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं. लेकिन इन सबके लिए 14 September ही क्यों? हम हर साल 14 सितंबर को ही Hindi Diwas क्यों मनाते हैं? इस तारीख में ऐसा क्या खास छिपा है? आखिर हमारे इतिहास में इस तारीख को ऐसा क्या हुआ था? आज के मौके पर जान लीजिए इन सभी सवालों के जवाब. साथ ही हिन्दी से जुड़े कुछ और फैक्ट्स भी.

यह भी पढ़ें :  Lalit Narayan Mithila University : ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के 80 हज़ार छात्रों के लिए आई खुशखबरी.

 

महात्मा गांधी ने कहा था- ‘हिन्दी के बिना मैं गूंगा हूं.’ वहीं, बाल गंगाधर तिलक ने कहा था- ‘मैं उन लोगों में से हूं जो चाहते हैं और जिनका विचार है कि हिन्दी ही भारत की राष्ट्रभाषा हो सकती है.’ हालांकि हिन्दी आज भी भारत की राजभाषा ही है, राष्ट्रभाषा नहीं.

 

Hindi Diwas 14 सितंबर को क्यों मनाया जाता है?

हिन्दी के लिए 14 सितंबर की तारीख बेहद खास है. इसके दो अहम कारण हैं. इसका जवाब देते हुए सबसे पहला नाम आता है व्योहार राजेंद्र सिंह का. इतिहास बताता है कि Beohar Rajendra Simha ने कुछ अन्य लोगों जैसे- हजारी प्रसाद द्विवेदी, काका कालेलकर, मैथिली शरण गुप्त और सेठ गोविंद दास के साथ मिलकर हिन्दी के लिए लड़ाई लड़ी थी. इनकी कोशिशों के कारण ही हिन्दी को भारत में आधिकारिक भाषा का दर्जा मिल सका.

जब भारत का संविधान तैयार हो रहा था, तो हमारी संविधान सभा ने 14 सितंबर 1949 को ही हिन्दी को देश की आधिकारिक भाषा यानी Official Language के रूप में अपनाया. कारण- 14 सितंबर को ही व्योहार राजेंद्र सिंह का जन्मदिन भी होता है. पहली बार हिन्दी दिवस आज से 69 साल पहले 1953 में मनाया गया था.

यह भी पढ़ें :  BHU UET PET Admit Card 2021: बीएचयू एंट्रेंस एग्जाम का एडमिट कार्ड जारी, यहां डायरेक्ट लिंक से करें डाउनलोड.

 

भारत में कितने लोग हिन्दी बोलते हैं?

भारत में हिन्दी मुख्य रूप से उत्तर, पश्चिम के राज्यों में बोली जाती है. जब 2011 में जनगणना की गई थी, तो पता चला कि भारत में 43.63 फीसदी लोग हिन्दीभाषी हैं. एक ऐसे देश में जहां 700 तरह की भाषाएं और बोलियां बोली जाती हैं, जहां के संविधान में 22 भाषाओं को आधिकारिक भाषा की लिस्ट में जोड़ा गया हो, वहां के लिए ये बड़ी बात है. Indian Constitution की पहली आधिकारिक भाषा हिन्दी और दूसरी अंग्रेजी है.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page