Follow Us On Goggle News

DU Admission fee Hikes : दिल्ली यूनिवर्सिटी ने यूजी कोर्स में एडमिशन की फीस बढ़ाई, अगले सेशन से होगा लागू.

इस पोस्ट को शेयर करें :

DU UG Admission fee Hikes : दिल्ली विश्वविद्यालय शिक्षक एसोसिएशन (डूटा) के एक पदाधिकारी ने अनुमान व्यक्त किया कि हर विद्यार्थी के लिए सालाना फीस में करीब 1000 रुपये की वृद्धि होगी. बढ़ी हुई फीस नए सत्र से लागू किया जाएगा.

 

DU Admission fee Hikes : दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) ने 2022-23 से यूजी पाठ्यक्रमों के लिए शुल्क बढ़ाने का फैसला किया है. डीयू ने शुल्क ढांचे में विश्वविद्यालय सुविधाएं, सेवा प्रभार, आर्थिक रूप से कमजोर तबका सहयोग निधि एवं विश्वविद्यालय छात्र कल्याण कोष जैसे नए खंड जोड़े हैं. इसके अलावा इसने विश्वविद्यालय विकास निधि के तहत शुल्क 600 रुपये से बढ़ाकर 900 रुपये कर दिया है. दिल्ली विश्वविद्यालय शिक्षक एसोसिएशन (डूटा) के एक पदाधिकारी ने अनुमान व्यक्त किया कि हर विद्यार्थी के लिए सालाना फीस में करीब 1000 रुपये की वृद्धि होगी. हालांकि विश्वविद्यालय ने कहा कि यह वृद्धि उतनी नहीं होगी.

यह भी पढ़ें :  JEE Main 2021 Result : जेईई मेन के चौथे सेशन का रिजल्ट हुआ जारी, 44 छात्रों को मिले 100 परसेंटाइल.

 

 

नए शुल्क को नए सेशन से लागू किया जाएगा :

डीयू ने 26 जुलाई को जारी एक अधिसूचना में कहा कि यह कवायद विश्वविद्यालय के विभिन्न महाविद्यालयों में प्रवेश के लिए शुल्क को तर्कसंगत बनाने तथा विभिन्न व्यय मदों में एकरूपता सुनिश्चित करने लिए की गई है. इसने कहा कि नए शुल्क को अकादमिक सत्र 2022-23 से लागू किया जाएगा. विश्वविद्यालय के अनुसार, ट्यूशन फीस और दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ निधि में कोई बदलाव नहीं किया गया है.

 

न्यूनतम फीस बढाई गई है :

वैसे फीस के कुछ हिस्सों जैसे कॉलेज छात्र कल्याण फंड, कॉलेज विकास निधि आदि का अभी महाविद्यालयों द्वारा निर्धारण किया बाकी है. डीयू के एक अधिकारी ने कहा कि आर्थिक रूप से कमजोर तबका सहयोग विश्वविद्यालय निधि को शुल्क में जोड़ा गया है, और उसके लिए हर विद्यार्थी को 100 रुपये देने होंगे.हमने अभी इसका आयोजन किया है, कोई बड़ा बदलाव नहीं है.

 

UDF को 600 से बढाकर 900 कर दिया गया है :

DUTA के कार्यकारी आनंद प्रकाश ने कहा कि विश्वविद्यालय पहले विश्वविद्यालय विकास कोष के लिए 600 रुपये लेता था, अब उन्होंने राशि बढ़ाकर 900 रुपये कर दी है. इसके अलावा, नए खंड जोड़े गए हैं. शुल्क न्यूनतम 1,000 रुपये बढ़ जाएगा .विश्वविद्यालय वृद्धि के बाद, कॉलेज भी शुल्क का पुनर्गठन करेगा और इससे शुल्क में और वृद्धि होगी. नए सेशन से नए फीस लागू की जाएगी. 


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page