Follow Us On Goggle News

Bihar Crime : प्रेमी संग मिलकर पत्नी ने रची खतरनाक साजिश, पुलिस ने दोनों को किया गिरफ्तार.

इस पोस्ट को शेयर करें :

अररिया पुलिस ने नौशाद आलम हत्याकांड का खुलासा कर लिया है. सदर एसडीपीओ पुष्कर कुमार ने बताया कि पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या को अंजाम दिया था. उन्होंने बताया कि पति की हत्या के आरोप में पत्नी शमा परवीन और प्रेमी मुन्ना को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. जहां दोनों आरोपियों ने हत्या की बात कबूल कर ली है.

वैध संबंधों को लेकर पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर पति की गला दबाकर हत्या कर दी। यह घटना बिहार के अररिया जिले के चैनपुर गांव की है। पुलिस की तफ्तीश में यह खुलासा हुआ है कि पत्नी ने ही अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या को अंजाम दिया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला दबाकर हत्या की पुष्टि के बाद पुलिस ने हत्याकांड को अंजाम देने वाली पत्नी को प्रेमी के साथ गिरफ्तार ( Wife And Lover Arrested ) कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. इस बात की जानकारी सदर एसडीपीओ पुष्कर कुमार ने प्रेस कांफ्रेंस के माध्यम से दी.

यह भी पढ़ें :  Bihar Crime : दस रुपए से भी सस्ती जिन्दगी! समस्तीपुर में मामूली विवाद बना मौत की वजह.

एसडीपीओ ने हत्या मामले का पूरी तरह से खुलासा करते हुए बताया कि महलगांव थाना पुलिस को जब मामले की जानकारी हुई तो शव को कब्र से बाहर निकलवा कर पोस्टमार्टम कराया गया. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी मुंह दबाकर हत्या के प्रयास किये जाने के साथ गला दबाने और गले की हड्डी टूटने की रिपोर्ट आई है. पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने परिजनों को शव को सौंप दिया था. जिसे फिर दोबारा नौशाद आलम को दफना दिया गया. वहीं, दोनों मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. एसडीपीओ ने बताया कि आरोपी पत्नी और प्रेमी ने भी हत्या की बात कबूल कर ली है.

Wife murdered husband with lover

सदर एसडीपीओ ने बताया कि घटना के पीछे अवैध प्रेम सम्बन्ध तो था ही, साथ ही 55 डिसमिल जमीन का विवाद भी था. मृतक नौशाद आलम को अपनी पत्नी को 55 डिसमिल जमीन दिया जाना था और वह 55 डिसमिल जमीन नहीं दिया गया था. जिसके कारण प्रेमी के साथ मिलकर पत्नी ने प्लांनिग कर हत्या जैसे जघन्य घटना को अंजाम दिया.

यह भी पढ़ें :  Ration Scam : बिहार में राशन घोटाला ! ढाई हजार मृत लोंगो ने लिया जनवितरण प्रणाली का राशन.

उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस बताया कि नौशाद आलम को हत्या से पहले उसकी पत्नी शमा परवीन ने पहले नशीली दवा पिलाई और बेहोश कर दिया. पति के बेसुध बेहोश हो जाने पर प्रेमी मुन्ना को फोन कर बुलाया और फिर उनके साथ मिलकर मुंह दबाया और गला मरोड़कर हत्या की. जिससे नौशाद आलम के गले की हड्डी टूट गई थी. इस बात की पुष्टि सदर एसडीपीओ के समक्ष गिरफ्तार पत्नी और प्रेमी ने की.

दरअसल, मामला जोकीहाट प्रखंड के महलगांव थाना क्षेत्र ( Mahalgaon Police Station) के चैनपुर गांव का है. जहां बीते 31 जुलाई को नौशाद आलम की हत्या को स्वाभाविक मौत बताकर अंतिम संस्कार कर दिया गया था. लेकिन ठीक चार दिन बाद मृतक नौशाद की पत्नी शमा परवीन ने पति की हत्या का जुर्म कबूल करते हुए एक नया खुलासा कर दिया.

पत्नी शमा परवीन ने आसपास की महिलाओं को बताया कि उसने अपने प्रेमी ऐबादुल्ला उर्फ मुन्ना के साथ मिलकर पति की हत्या (Husband Murder) की थी. इस कबूल नामे का वीडियो भी तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा था. जिसके बाद मृतक की मां ने महलगांव ओपी में 7 लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज कराया है. जानकारी के अनुसार, मृतक अपनी मां का एकलौता पुत्र था. उसके दो बच्चे भी बताए जा रहे हैं.

यह भी पढ़ें :  Bihar Crime: पटना में मुखिया पति की गोली मारकर हत्या, कार्यक्रम में शामिल होकर लौट रहे थे घर.

मृतक नौशाद आलम की मां बीबी साबरा ने बेटे की हत्या मामले में पत्नी और प्रेमी सहित सात लोगों के खिलाफ महलगांव ओपी में एफआईआर दर्ज कराया था. जिसमें बहु शमा परवीन, प्रेमी एबादुल्ला उर्फ मुन्ना की गिरफ्तारी हो गई है. अन्य नामजद आरोपी हासिम, संजीदा, वसीक, रहीम और साकिब की गिरफ्तारी के लिए विभिन्न ठिकानों पर लगातार छापेमारी की जा रही है. वहीं, हत्या मामलों में पंचायती करने वालों का भी अनुसंधान जारी है. एसडीपीओ ने बताया कि अनुसंधान के क्रम में जो भी मामले में दोषी पाये जायेंगे, उनके खिलाफ विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page