Follow Us On Goggle News

Ration Scam : बिहार में राशन घोटाला ! ढाई हजार मृत लोंगो ने लिया जनवितरण प्रणाली का राशन.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Ration Scam : रोहतास में कई लोग मरे हुए लोगों के नाम पर PDS का राशन उठा रहे हैं. ऐसे लोगों पर अब सख्त कार्रवाई की जाएगी. अनुमंडल कार्यालय ने राशन में घपला करने वाले लोगों की सूची भी तैयार कर ली है.

Ration Scam : बिहार में जिंदा लोगों को राशन नहीं मिल रहा है, वहीं ढाई हजार मुर्दे गरीबों को मिलने वाला पीडीएस (PDS) का राशन डकार गए हैं. यह खबर आपको मजाक लगेगी, लेकिन यकीन मानिए यह हकीकत है. जनवितरण प्रणाली (Public Distribution System) के तहत मिलने वाले राशन को मुर्दे हजम कर चुके है. अब आनन फानन में पटना प्रमंडलीय आयुक्त (Divisional Commissioner) के निर्देश पर प्रशासन ने मृत व्यक्तियों की सूची जारी कर ऐसे नामों को हटाने की कार्यवाही शुरू कर दी है.

रोहतास में अगर आप राशन कार्डधारी हैं और मृत व्यक्ति के नाम पर राशन का उठाव कर रहें हैं तो सावधान हो जाएं. जी हां मृत व्यक्ति के नाम पर राशन का उठाव करने वाले कार्डधारकों के खिलाफ अनुमंडल प्रशासन ने अब सख्त रुख अख्तियार कर लिया है. वैसे लोगों के खिलाफ अब सख्ती बरतते हुए कानूनी कार्रवाई की जाएगी. इसकी जानकारी डेहरी के एसडीएम समीर सौरभ ने दी है.

यह भी पढ़ें :  Viral Video : शिक्षा के मंदिर में घुसखोरी की 'क्लास', TC के बदले रिश्वत लेते क्लर्क का वीडियो वायरल.

farji ration card 1 Ration Scam : बिहार में राशन घोटाला ! ढाई हजार मृत लोंगो ने लिया जनवितरण प्रणाली का राशन.

 

डेहरी के अनुमंडल पदाधिकारी समीर सौरभ ने बताया कि पटना प्रमंडल के आयुक्त के निर्देश पर पूरे अनुमंडल में राशनकार्ड को लेकर सर्वे कराया गया है. जिनमें मृत व्यक्ति के नाम पर राशन का उठाव करने वालों की सूची बनाई गई है. जिला सांख्यिकी पदाधिकारी और स्थानीय अस्पताल से भी मिले डेटा के आधार पर तकरीबन ढाई हजार लोगों की सूची तैयार की गई है, जो मर चुके हैं. लेकिन उनके नाम पर राशन का उठाव किया जा रहा है.

अनुमंडल पदाधिकारी ने बताया कि ऐसे लोगों की सूची बनाकर सार्वजनिक स्थलों सहित अनुमंडल कार्यालय, पंचायत भवन, प्रखंड कार्यालय पर चस्पा करने के निर्देश जारी किए गए हैं. साथ ही एसडीएम ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि अगर लगता है कि भूल से किसी व्यक्ति का नाम उस लिस्ट में है तो दो सप्ताह के अंदर तक दावा आपत्ति की जा सकती है, शिकायत का तत्काल निवारण किया जाएगा. राशनकार्ड से ऐसे मृत लोगों का नाम विलोपित करने की प्रक्रिया जारी है. उसी के मद्देनजर यह कदम उठाया गया है.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page