Follow Us On Goggle News

Bihar Crime : सुपौल में दोस्त ने दोस्त को गोली मारकर उतारा मौत के घाट, विरोध में पुलिस पर पथराव के बाद जमकर हुआ बवाल.

इस पोस्ट को शेयर करें :

 

सुपौल में एक दोस्त ने अपने ही दोस्त को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया. इस घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने किशनपुर के गोल चौक के पास हाईवे को जाम कर दिया. लोग आरोपित की गिरफ्तारी और मुआवजे की मांग कर रहे थे.

 

बिहार के सुपौल जिले के किशनपुर थाना क्षेत्र की करहैया पंचायत के अभुआड़ गांव के शुक्रवार को हत्या के बाद जमकर बवाल हुआ. अभुआड़ गांव के वार्ड-3 में एक दोस्त ने अपने ही दोस्त को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया. इस घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने किशनपुर के गोल चौक के पास हाईवे को जाम कर दिया. लोग आरोपित की गिरफ्तारी और मुआवजे की मांग कर रहे थे.

एसपी और डीएम को बुलाने की मांग पर अड़े थे लोग : लोगों को समझाने के लिए स्थानीय थानाध्यक्ष, बीडीओ, एसडीओ और डीएसपी पहुंचे लेकिन लोगों ने किसी की बात नहीं सुनी. देखते ही देखते पुलस बल और ग्रामीणों के बीच झड़प हो गई. इस दौरान पुलिस पर पथराव शुरू हो गया. गुस्साए लोगों ने कुछ दूर तक पुलिस को खदेड़ा. थोड़ी देर के बाद ग्रामीण एसडीओ व डीएसपी के समझाने के बाद शांत हुए लेकिन वे जिलाधिकारी महेंद्र कुमार और एसपी मनोज कुमार को बुलाने की मांग करने लगे.

यह भी पढ़ें :  Bihar Panchayat Chunav 2021 : दूसरे चरण में 34 जिलों के 48 प्रखंडों में मतदान कल, सुरक्षा चाक चौबंद

लोगों को पुलिस ने खदेड़ा, चलाई गई रबर की बुलेट : घटना की जानकारी मिलने के बाद जिलाधिकारी और एसपी पहुंचे. यहां ग्रामीण फिर हंगामा करने लगे और देखते ही देखते स्थिति पूरी तरह से बदल गई. पुलिस ने इसके बाद लोगों को खदेड़ा और उन्हें भगाने के लिए कई राउंड रबर बुलेट चलाई. कुछ लोगों ने कहा कि पुलिस ने हवाई फायरिंग भी की है लेकिन एसपी मनोज कुमार ने इस बात से इनकार किया है. घटना में कई पुलिसकर्मियों को चोट भी लगी है. घंटों चले इस हंगामे के बाद जाकर मामला शांत हुआ. मामला शांत होने के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा गया.

पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार ने कहा कि लोगों को एसडीओ, डीएसपी आदि ने समझाया लेकिन लोग सुनने के लिए तैयार नहीं थे. हमलोगों के पहुंचते ही लोग उग्र हो गए पत्थरबाजी करने लगे. बचाव के लिए रबर बुलेट चलानी पड़ी.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page