Follow Us On Goggle News

Bihar Crime : शेल्टर होम में होता है ‘गंदा काम’, कोर्ट में पीड़िता बोली- नशीला पदार्थ खिलाकर किया जाता है यौन शोषण.

इस पोस्ट को शेयर करें :

बिहार में एक बार फिर शेल्टर होम पर संगीन आरोप लगे हैं. नवादा सिविल कोर्ट में एक लड़की ने जो आरोप लगाए हैं, उसे सुनकर हर कोई हैरान है. लड़की का आरोप है कि शेल्टर होम में खाने में नशीला पदार्थ मिलाकर लड़कियों के साथ यौन शोषण किया जाता है.

बिहार के गया जिले के बोधगया में स्थित बालिका सुधार गृह ( Shelter Home Gaya ) पर संगीन आरोप लगा है. आरोप के अनुसार, यहां पर लड़कियों के साथ ‘गंदा काम’ किया जाता है. नवादा जिला की रहने वाली एक लड़की ने नवादा सिविल कोर्ट ( Nawada Civil Court ) में एक पत्र देकर इसका खुलासा किया है. पीड़ित लड़की का आरोपों के अनुसार, बालिका गृह में रात के भोजन में नशीला पदार्थ मिलाकर लड़कियों के साथ यौन शोषण किया जाता है.

दरअसल, गया जिले के बोधगया में नवादा के रहनेवाली एक लड़की को नवादा सिविल कोर्ट के आदेश पर 13 जुलाई से 10 अगस्त तक बोधगया के बालिका गृह में रखा गया था. जब लड़की दस अगस्त को परिजनों से मिली और अपने साथ हुए घटना को बतायी तो परिजन भी सहम गए.

यह भी पढ़ें :  Bihar Politics : कांग्रेस का दावा बिहार में जल्द होंगे मध्यावधि चुनाव, क्या BJP-JDU में सब ठीक नहीं?

परिजनों ने पीड़ित के द्वारा नवादा सिविल कोर्ट में एक पत्र दिलवाया, जिसमें बोधगया बालिका गृह में अपने साथ हुए यौन शोषण का खुलासा किया है. पीड़िता ने बालिका गृह में रहे मैडम और कुछ कर्मियों पर संगीन आरोप लगाया है.

पीड़िता का आरोप है कि बालिका गृह में रहे मैडम और कुछ कर्मियों ने रात में खाने के दौरान कुछ नशीली दवाइयां दे देते थे, इस दौरान उसके साथ गलत काम किया जाता था और जब इसकी शिकायत बालिका गृह के मैडम से किया जाता था तो उसे ही डराया-धमकाया जाता था और उसे चुप करा दिया जाता था. पीड़िता ने अपने पत्र में ये भी लिखा है कि सिर्फ मेरे साथ नहीं, अन्य लड़कियों के साथ यही सब हर रात होता है.

इस बाबत जिला बाल संरक्षण इकाई के सहायक निदेशक दिवेश कुमार से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि बालिका गृह में किसी प्रकार का यौन शोषण की बात पूरी तरह गलत है. अगर इस तरह का मामला सामने आता है तो कार्रवाई की जाएगी.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page