Follow Us On Goggle News

Bihar Crime : बिहार में अपराधी बेलगाम ! पंचायत चुनाव से पहले पूर्व मुखिया की गोली मारकर हत्या, इलाके में तनाव.

इस पोस्ट को शेयर करें :

बिहार में अपराध बेकाबू होता जा रहा है, अपराधियों को मनोबल इतना बढ़ा हुआ है कि अब वे दिनदहाड़े लूट और हत्या की घटना को अंजाम दे रहे है। बेलगाम अपराधियों पर लगाम कसने में पुलिस महकमा विफल साबित हो रही है.

 

बिहार के समस्तीपुर में मुसरीघरारी थाना क्षेत्र के बखरी बुजुर्ग में शुक्रवार को पंचायती के दौरान हुई पूर्व मुखिया एवं निवर्तमान मुखिया माधुरी देवी के पति शशिनाथ झा की हत्या से इलाके में गहरा आक्रोश है। आक्रोशित लोगों ने टायर व फर्नीचर जलाकर एनएच -28 को पांच घंटे तक जाम रखा। पूर्व मुखिया के हत्या को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं।

मुसरीघरारी थानाध्यक्ष संजय कुमार सिंह ने कहा कि घटनास्थल से दो खोखे मिले हैं। पूछताछ के लिए दो युवकों को हिरासत में लिया है। हत्या के कारण का पता अभी नहीं चल सका है। अपराधियों की धरपकड़ के लिए लगातार छापेमारी की जा रही है।

15 वर्षों तक रहे मुखिया : शशिनाथ झा पहली बार 2001 में नवगठित पंचायत बखरी बुजुर्ग के मुखिया बने थे। इसके बाद लगातार तीन टर्म मुखिया रहे। 2016 के पंचायत चुनाव में महिला के लिए आरक्षित सीट होने के कारण उनकी पत्नी माधुरी देवी मुखिया बनीं। उक्त चुनाव में वे वार्ड सदस्य पद के लिए चुनाव लड़े और सर्वसम्मति से उपमुखिया बने। इस वर्ष उनकी पंचायत मुसरीघरारी नगर पंचायत में शामिल हो चुकी थी, इसलिए सभापति पद का उम्मीदवार होने की संभावना थी।

यह भी पढ़ें :  Live Video : बिहार में फिर मॉब लिंचिंग, सहरसा में भैंस चोरी के आरोप में दो युवकों की पीट-पीटकर हत्या.

पांच भाइयों में तीसरे नंबर पर थे पूर्व मुखिया : थाना क्षेत्र के उदापट्टी निवासी स्व. राजेंद्र झा के तीसरे पुत्र थे पूर्व मुखिया शशिनाथ झा। उनकी हत्या से बड़े भाई अमरनाथ झा, विभूतिनाथ झा, छोटे भाई शंभूनाथ झा और नवीन कुमार झा का रोते-रोते बुरा हाल था। पत्नी और पंचायत की वर्तमान मुखिया माधुरी देवी बेसुध हो रही थी। स्थानीय लोग पानी का छींटा मारकर होश में लाने का प्रयास कर रहे थे पूर्व मुखिया के बड़े पुत्र चंचल कुमार मुंबई स्थित सेंट्रल बैंक में प्रबंधक के पद पर कार्यरत हैं। छोटा पुत्र राहुल कुमार मुसरीघरारी स्थित एक कोचिग संस्थान का संचालन कर रहा है। पुत्री आरती कुमारी ससुराल में रही है।

एक ग्रामीण ने बताया कि शशिनाथ झा यहां के बहुत लोकप्रिय मुखिया थे. वे लगभग 20 साल में लगातार तीन बार मुखिया रहे, वर्तमान में उनकी पत्नी माधुरी देवी बखरी बुजुर्ग पंचायत की मुखिया हैं। उसने कहा कि वह आपसी विवाद में पंचायत करने गए थे। वे पंचायत करके जैसे निकले अपराधियों ने उनकी हत्या कर दी। उनकी हत्या से समाज व इलाके को बहुत बड़ी क्षति हुई है। किसी ने अपने राजनीतिक लाभ के लिए यह हत्या करवाई है।

यह भी पढ़ें :  Bihar Politics : नीतीश के चड्ढी-गंजी वाले MLA ने कहा- हां मैं तेजस एक्सप्रेस में था 'नंग-धड़ंग', झूठ क्यों बोलूं.

बता दे कि समस्तीपुर में शुक्रवार की सुबह अज्ञात अपराधियों ने सरायरंजन के पूर्व मुखिया शशि झा की गोली मारकर हत्या कर दी। वहीँ इस घटना से आक्रोशित लोगों ने मुसरीघरारी चौराहे पर आगजनी कर एन एच – 28 को जाम कर जमकर हंगामा किया। घटना के बाद से पुरे इलाके में तनाव और दहशत का माहौल है।

मुखिया की हत्या से आक्रोशित भीड़ ने आगजनी कर NH -28 को जाम कर दिया। इस दौरान भीड़ ने कई गाड़ियों और ट्रकों के शीशे फोड़ डाले हैं। लोगों ने मुसरीघरारी चौक एवं इसके आसपास के इलाके को पूरी तरह जाम कर दिया है एवं सभी दुकानों को बंद करा दिया है। लोगों ने पुलिस प्रशासन से अपराधियों की अविलम्ब गिरफ्तारी की मांग की है।ग्रामीणों का आरोप है कि इस क्षेत्र में हमेशा ऐसी घटनाएं होती रहती है, लेकिन प्रशासन की तरफ से कभी कोई ठोस कार्रवाई नहीं की जाती है. जिससे अपराधियों का मनोबल बढ़ा हुआ है।

यह भी पढ़ें :  Video: बिहार की मिट्टी भी उगलती है शराब...वीडियो देखकर भूल जाएंगे कि बिहार की शराबबंदी.

इंस्पेक्टर देवेंद्र यादव ने बताया कि पूर्व मुखिया पति शशिनाथ झा अपने पंचायत में ही एक पंचायती कर लौट रहे थे। जैसे ही वह अपनी गाड़ी पर बैठे वैसे ही पहले से घात लगाए अपराधियों ने उन पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी, जिसमें उनकी मौके पर ही मौत हो गई। इस मामले में पीड़ित परिवार के द्वारा अभी तक लिखित शिकायत दर्ज नहीं कराई गई है। पुलिस घटना की जांच कर अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी में जुटी है। हालांकि अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

वहीं तनाव को देखते हुए पुरे इलाके में भारी तादाद में पुलिस बल को तैनात किया गया है। पुरे इलाके पुलिस गश्ती करायी जा रही है। फिलहाल हत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है। बता दें कि बीते 24 घंटे के अंदर जिले में यह दूसरी घटना है. इस घटना से पहले गुरुवार रात्रि में पटोरी थाना इलाके के जरपुरा गांव के रहने वाले एक व्यवसायी की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page