Follow Us On Goggle News

NEET Counselling 2021 : नीट काउंसलिंग के नियम में बड़ा बदलाव, केंद्रीय कोटे की बची सीटें राज्य को नहीं होंगी सरेंडर.

इस पोस्ट को शेयर करें :

देशभर में नीट काउंसिलिंग में बड़ा बदलाव किया गया है। ऑल इंडिया कोटा काउंसिलिंग दो राउंड के बाद खाली सीट राज्यों को वापस कर दिया जाता था, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। इसका नुकसान बिहार के छात्रों को होगा। बची हुई सीटों से प्रत्येक साल डेढ़ से दो सौ छात्रों को फायदा होता था। NEET Counselling 2021

 

अब ऑल इंडिया कोटे नीट काउंसिलिंग चार राउंड्स में होगा। राउंड 1, राउंड 2, मॉपअप राउंड और स्ट्रे वैकेंसी राउंड होगा। पहले नीट ऑल इंडिया कोटा काउंससिलिंग राउंड दो के बाद खाली बचे सीट पर राज्यों को वापस कर दी जाती थीं। उन सीटों को मॉप-अप राउंड और स्ट्रे वैकेंसी राउंड की काउंससिलिंग से भरा जाएगा। NEET Counselling 2021

 

स्ट्रे वैकेंसी के लिए नहीं होंगे पंजीयन: मेडिकल के सीटों पर 15 प्रतिशत केंद्रीय कोटा व 85 प्रतिशत सीटों पर राज्य कोटे के तहत नामांकन होता है। नीट काउंसिलिंग 2021 फ्रेश रजिस्ट्रेशन करने का मौका एआईक्यू राउंड 1, राउंड 2 और मॉप-अप राउंड में मिलेगा। स्ट्रे वैकेंसी राउंड के लिए नये रजिस्ट्रेशन नहीं होंगे। मेडिकल काउंसिलिंग कमेटी (एमसीसी) ने नीट यूजी व पीजी काउंससिलिंग 2021 संबंधित गाइडलाइन जारी किया है। NEET Counselling 2021

यह भी पढ़ें :  IBPS SO Mains Admit Card 2022: स्पेशलिस्ट ऑफिसर मेन्स परीक्षा का एडमिट कार्ड जारी, यहां करें डाउनलोड.

 

एमसीसी द्वारा जारी दूसरे नोटिस के अनुसार, नीट यूजी काउंसिलिंग 2021 और नीट पीजी काउंसिलिंग 2021 में 27 प्रतिशत ओबीसी आरक्षण और 10 फीसदी ईडब्ल्यूएस आरक्षण के नियम इसी शैक्षणिक सत्र 2021-22 से लागू करने की जानकारी दी गयी है। हालांकि नोटिस में कहा गया है कि इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट में छह जनवरी 2022 को सुनवाई होनी है। इसके बाद दिशा-निर्देश जारी किया जायेगा। NEET Counselling 2021

 

  • मॉपअप राउंड और स्ट्रे वैकेंसी राउंड के तहत होगा नामांकन.
  • नीट यूजी और पीजी काउंसिलिंग संबंधित गाइडलाइन जारी. NEET Counselling 2021

 

 

एग्जिट का विकल्प सिर्फ पहले राउंड में : NEET Counselling 2021

काउंसिलिंग संबंधित जानकारी mcc. nic. in पर जाकर देख सकते हैं। इसके साथ ही छात्र को सीट अपग्रेड करने और फ्री एग्जिट का विकल्प सिर्फ पहले राउंड में ही दिया जाएगा। राउंड 2 से यह विकल्प उपलब्ध नहीं होगा। जो उम्मीदवार राउंड 2 या इसके बाद की काउंसिलिंग में उन्हें आवंटित की गयी सीट ज्वाइन कर लेंगे, उन्हें इससे रिजाइन करने का विकल्प नहीं दिया जायेगा। साथ ही वे उसके बाद के काउंसिलिंग राउंड में भाग भी नहीं ले सकेंगे। अगर आप सीट ज्वाइन नहीं करते हैं, तो फिर उसके बाद के राउंड में शामिल हो सकेंगे। NEET Counselling 2021


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page