Follow Us On Goggle News

Government Bank Jobs: हर साल बैंकों से ख़त्म हो रही हैं सरकारी नौकरी.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Government Bank Jobs: देश के बैंकिंग सेक्टर में रोजगार को लेकर नई तस्वीर सामने आई है। पिछले 5 साल के दौरान सरकारी बैंकों में 50 हजार से ज्यादा कर्मचारी घटे हैं, जबकि इसी दौरान निजी बैंकों में 1.13 लाख बढ़ गए। अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संगठन की एक रिपोर्ट के मुताबिक, 2018 में 21 सरकारी बैंकों में कुल 8.44 लाख कर्मचारी थे, जो 2022 में घटकर 7.94 लाख रह गए।

 

Government Bank Jobs: देश के बैंकिंग सेक्टर में रोजगार को लेकर नई तस्वीर सामने आई है। पिछले 5 साल के दौरान सरकारी बैंकों में 50 हजार से ज्यादा कर्मचारी घटे हैं, जबकि इसी दौरान निजी बैंकों में 1.13 लाख बढ़ गए। अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संगठन की एक रिपोर्ट के मुताबिक, 2018 में 21 सरकारी बैंकों में कुल 8.44 लाख कर्मचारी थे, जो 2022 में घटकर 7.94 लाख रह गए।

इस दौरान देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई में सर्वाधिक 19,791 कर्मचारी कम हो गए। उनकी संख्या 2.64 लाख से घटकर 2.44 लाख रह गई। वर्ष 2018 में 21 प्राइवेट बैंकों में 4.20 लाख कर्मचारी थे। जबकि 2021 में इनकी तादाद बढ़कर 5.34 लाख हो गई। संगठन के मुताबिक, कुछ निजी बैंकों ने ही 2022 का आंकड़ा उपलब्ध कराया है। इनमें निजी क्षेत्र के सबसे बड़े एचडीएफसी बैंक में कर्मचारियों की संख्या इस दौरान करीब 21 हजार और एक्सिस बैंक में 7.5 हजार बढ़ी है। वॉइस अॉफ बैंकिंग के फाउंडर अश्विनी राणा ने बताया-सरकारी बैंकों के निजीकरण व आउटसोर्सिंग से आने वाले समय में कर्मचारी और घट सकते हैं।

यह भी पढ़ें :  BPSSC FRO PET Exam 2022 : बिहार फॉरेस्ट रेंज ऑफिसर भर्ती पीईटी की तारीख घोषित, यहां देखें डिटेल्स.

वजह- मर्जर से ब्रांच घटीं तो कर्मचारी कम हुए, क्लर्क भी आउटसोर्स करने की तैयारी:

1. बैंक मर्जर: केंद्र ने आधा दर्जन बैंकों का मर्जर कर दिया है। इससे उन ब्रांचों को बंद कर दिया गया, जो मर्ज हुए बैंक की किसी ब्रांच के पास थीं। ब्रांच कम होने से कर्मियों की संख्या भी कम हो गई।

2. आउटसोर्सिंग: खर्च कम करने के लिए बैंक अब आउटसोर्सिंग कर रहे हैं। सिक्युरिटी गार्ड, सफाई और चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी आउटसोर्स कर दिए गए हैं। अब क्लर्क भी आउटसोर्स करने की तैयारी हो रही है।

3. बैंक निजीकरण: जिनका निजीकरण करना है, उनकी घाटे वाली ब्रांच बंद हो रही हैं। सेंट्रल बैंक 600 ब्रांच बंद करेगी। इससे भी कर्मी घटे हैं।

 

टॉप-5 सरकारी बैंकों में 25 हजार कर्मी घटे, सिर्फ पीएनबी में ही बढ़े:

  • बैंक का नाम 2018 2022अंतर
  • एसबीआई 2,64,041 2,44,250-19,791
  • पीएनबी 1,01,802 1,03,144+1,342
  • केनरा बैंक 88,213 86,919-1,294
  • बैंक ऑफ बड़ौदा 82,886 79,806-3,080
  • यूनियन बैंक ऑफ इंडिया 78,202 75,201-3,001
  • कुल कर्मचारी 6,15,144 5,89,320-25,824
यह भी पढ़ें :  RRC Recruitment 2021: 10वीं पास के लिए रेलवे में सुनहरा मौका, 3000 से ज्यादा पदों पर निकली भर्ती, जल्दी करें आवेदन.

 

Input: http://www.bhaskar.com


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page