Follow Us On Goggle News

Bihar Board admit card 2022 : बिहार बोर्ड के 10वीं और 12वीं के परीक्षा एडमिट कार्ड जारी, ऐसे करें डाउनलोड.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Bihar Board admit card 2022 : मैट्रिक और इंटर के डमी एडमिट कार्ड में अभ्यर्थी ये देख सकते हैं कि जो भी जानकारी पहले दी गई थी उसमें किसी तरह की कोई गलती नहीं है. यानि जन्मतिथि, विषय,नाम सहित दूसरे किसी भी तथ्यों में कोई गलती है तो उसे अभ्यर्थी दुरूस्त कर सकें.

Bihar Board admit card 2022 : बिहार में अगले साल फरवरी में मैट्रिक और इंटर की परीक्षा संभावित है. इसके लिए बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (BSEB) ने पहले से तैयारियां शुरू कर दी हैं. इसी कड़ी में बीएसइबी ने डमी एडमिट कार्ड जारी कर दिया है. बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की वेबसाइट पर डमी एडमिट कार्ड छात्रों के लिए 25 अक्टूबर तक उपलब्ध रहेगा. यानि अभ्यर्थी इसमें किसी तरह का संशोधन 25 अक्टूबर तक कर सकते हैं.

इन चीजों का डमी एडमिट में रखें ध्यान :

पिछले साल भी बीएसइबी ने इसी तरह का डमी एडमिट कार्ड जारी किया था. मैट्रिक और इंटर के डमी एडमिट कार्ड में अभ्यर्थी ये देख सकते हैं कि जो भी जानकारी पहले दी गई थी उसमें किसी तरह की कोई गलती नहीं है. यानि जन्मतिथि, विषय,नाम सहित दूसरे किसी भी तथ्यों में कोई गलती है तो उसे अभ्यर्थी दुरूस्त कर सकें. हालांकि इसके लिए कुछ निर्धारित प्रक्रिया तय की गई है.

यह भी पढ़ें :  Job Opportunity : Koo में मिलेगा जॉब का मौका! चेक कर लें अपनी क्‍वालिफिकेशन, इन डिविजंस में होगी हायरिंग.

ऐसे मिलेगा डमी एडमिट कार्ड :

बिहार बोर्ड के निर्देशों के मुताबिक, स्कूलों के प्रिंसिपल की सहमति से ये संभव हो सकेगा. स्कूलों के प्रिंसिपल अपनी यूजर आईडी के आधार पर बोर्ड की वेबसाइट से डमी एडमिट कार्ड डाउनलोड कर छात्रों को उपलब्ध कराएंगे.

हेल्पलाइन नंबर जारी:

वहीं, अगर डमी एडमिट कार्ड ऑनलाइन डाउनलोड करने और उसमें त्रुटि संशोधन करने के क्रम में अगर किसी प्रकार की समस्या आती है तो हेल्पलाइन नंबर 0612-2230039, 2235161 पर संपर्क किया जा सकता है. या फिर reg.bsebhelpdesk@gmail.com पर मेल भेज कर संपर्क किया जा सकता है.

जानकारी के अनुसार, अगर दृष्टिबाधित विद्यार्थी नियमानुसार मैथ के बदले होम साइंस एवं साइंस के बदले म्यूजिक की परीक्षा में शामिल होते हैं. इस प्रकार यदि डमी एडमिट कार्ड में विषय से संबंधित त्रुटि पाई जाती है तो उसका सुधार विद्यालय प्रधान द्वारा ड्रॉप किया जाएगा. बता दें कि पिछले कुछ सालों से भारत में बिहार ऐसा राज्य है जहां सबसे पहले इंटर और मैट्रिक के नतीजे घोषित होते हैं.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page