Follow Us On Goggle News

Big Breaking : आ गई मंदी! नौकरियां कम करने लगीं Amazon, Apple, Google, Tesla जैसी दिग्गज कंपनियां.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Amazon, Apple, Google, Tesla  समेत टेक जगत की तमाम दिग्गज कंपनियों को अब मंदी का डर सताने लगा है. इसके कारण शेयर बाजारों की हालत खराब है. खासकर टेक कंपनियों (Tech Companies) के लिए पिछले 5-6 महीने काफी बुरे साबित हुए हैं.

 

Big Breaking : कोरोना महामारी के बाद दशकों की सबसे ज्यादा महंगाई के चलते दुनिया को अब मंदी का डर सताने लगा है. इसके कारण शेयर बाजारों की हालत खराब है. खासकर टेक कंपनियों (Tech Companies) के लिए पिछले 5-6 महीने काफी बुरे साबित हुए हैं. कई एनालिस्ट कह चुके हैं मंदी (Economic Recession) अब बस चंद महीनों की दूरी पर है, वहीं कुछ का तो ये भी मानना है कि मंदी पहले ही आ चुकी है और अब बस इसका औपचारिक होना बाकी है. इस बीच गूगल, अमेजन, एप्पल, फेसबुक, माइक्रोसॉफ्ट, नेटफ्लिक्स और टेस्ला समेत टेक जगत की तमाम दिग्गज कंपनियां मंदी से निपटने की तैयारी कर रही हैं. इन कंपनियों ने या तो कर्मचारियों की छंटनी की है, या भर्तियां कम कर रही हैं. आइए जानते हैं कि मंदी के डर से मजबूर टेक कंपनियां क्या कदम उठा रही हैं..

अल्फाबेट/गूगल (Alphabet/Google) :

गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट ने भर्ती की प्रक्रिया धीमी कर दी है. कंपनी के सीईओ सुंदर पिचाई ने एक इंटरनल मेमो में कर्मचारियों को बताया है कि दूसरी तिमाही में गूगल ने भले ही 10 हजार लोगों को भर्ती किया है, लेकिन साल के बचे हिस्से में इसे धीमा किया जाने वाला है. उन्होंने साफ कहा कि अन्य कंपनियों की तरह गूगल के ऊपर भी मंदी का असर होगा. अभी गूगल में 1,64,000 कर्मचारी काम कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें :  UPSC CDS 1 Admit Card 2022: यूपीएससी सीडीएस 1 परीक्षा का एडमिट कार्ड हुआ जारी, यहां से करें डाउनलोड.

 

अमेजन (Amazon) :

अमेजन दुनिया में सबसे ज्यादा रोजगार देने वाली कंपनियों में से एक है. मार्च 2022 तक अमेजन के साथ 16 लाख कर्मचारी जुड़े हुए थे. कंपनी ने इस साल अप्रैल में कहा था कि उसके पास जरूरत से ज्यादा कर्मचारी हो गए हैं. उसने कहा था कि महामारी के चलते लीव पर गए कर्मचारी काम पर लौट आए हैं. इस कारण हम कुछ ही दिनों में अंडरस्टाफ्ड से ओवरस्टाफ्ड हो गए हैं. इससे उत्पादकता प्रभावित हो रही है. कंपनी अपने कुछ वेयरहाउसेज को लीज पर चढ़ा रही है और ऑफिस स्पेस के डेवलपमेंट को फिलहाल रोक रही है.

 

एप्पल (Apple) :

एप्पल ने अभी तक इस बारे में आधिकारिक तोर पर कुछ नहीं कहा है. हालांकि ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट में मामले से जुड़े सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि कंपनी आर्थिक मंदी से जूझने के लिए भर्तियां कम करने और कुछ डिवीजंस में खर्च घटाने की योजना पर काम कर रही है. सितंबर 2021 तक के उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार, एप्पल के साथ 1.54 लाख कर्मचारी काम कर रहे थे.

यह भी पढ़ें :  MP Police Constable PET Admit Card : मध्यप्रदेश पुलिस कॉन्स्टेबल पीईटी का एडमिट कार्ड जारी, यहां से करें डाउनलोड.

 

फेसबुक (Facebook) :

फेसबुक की पैरेंट कंपनी मेटा ने इंजीनियरों की भर्ती की योजना कम से कम 30 फीसदी कम कर दी है. कंपनी के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने कर्मचारियों से कहा है कि वह हालिया इतिहास के सबसे बुरे आर्थिक दौर में से एक की उम्मीद कर रहे हैं. इस साल मार्च के अंत तक सोशल मीडिया व इंटरनेट कंपनी के साथ करीब 78 हजार लोग काम कर रहे थे.

 

माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft):

माइक्रोसॉफ्ट ने मई में कर्मचारियों को बताया था कि वह विंडोज, ऑफिस और टीम ग्रुप्स में भर्तियां कम करने जा रही है, ताकि आर्थिक उथल-पुथल के लिए तैयार रहा जा सके. हाल ही में कंपनी ने कुछ कटौतियां भी की थी, जो उसके वर्कफोर्स के 01 फीसदी से भी कम है. साल 2021 के अंत तक कंपनी के पास 1.81 लाख कर्मचारी थे.

 

नेटफ्लिक्स (Netflix) :

वीडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म चलाने वाली कंपनी नेटफ्लिक्स कई राउंड में छंटनियां कर चुकी हैं. नेटफ्लिक्स ने सबसे पहले मई में 150 लोगों को नौकरी से निकाला. इसके बाद जून में कंपनी ने फिर से 300 कर्मचारियों की छंटनी की. कंपनी को विभिन्न कारणों से सब्सक्राइबर्स के मामले में नुकसान का सामना करना पड़ रहा है. पहली तिमाही में नेटफ्लिक्स के सब्सक्राइबर्स की संख्या में 2 लाख की गिरावट आई. इसके बाद जून तिमाही में कंपनी को 9.70 लाख सब्सक्राइबर्स गंवाने पड़ गए. नेटफ्लिक्स कंपनी में पिछले साल के अंत तक 11,300 कर्मचारी काम कर रहे थे.

यह भी पढ़ें :  RRB-NTPC Protest : ट्रेनों की आगजनी पर बोले रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव -' रेलवे आपकी संपत्ति, इसे सुरक्षित रखिए', देखिए LIVE

 

टेस्ला (Tesla) :

दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति एलन मस्क की इलेक्ट्रिक व्हीकल कंपनी टेस्ला ने जून में कैलिफोर्निया के San Mateo स्थित एक फैसिलिटी को बंद करने के बाद ऑटोपायलट डिपार्टमेंट के 200 कर्मचारियों को नौकरी से निकाला. एलन मस्क खुद मंदी की आशंका जाहिर कर चुके हैं और साफ कह चुके हैं कि इससे जूझने के लिए छंटनी अपरिहार्य है. उन्होंने ब्लूमबर्ग को एक इंटरव्यू में कहा था कि अगले तीन महीने में करीब 10 फीसदी वेतनभोगी कर्मचारियों की नौकरियां जा सकती हैं. टेस्ला के साथ 2021 के अंत तक दुनिया भर में 01 लाख कर्मचारी जुड़े हुए थे.


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page