Follow Us On Goggle News

Assistant Professor Job 2021: शिक्षा मंत्री का बड़ा फैसला, असिस्टेंट प्रोफेसर पद के लिए इस साल पीएचडी अनिवार्य नहीं, देखें डिटेल.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Assistant Professor Job 2021: शिक्षा मंत्री ने असिस्टेंट प्रोफेसर पद  के लिए एचडी की अनिवार्यता को समाप्त कर दिया है यानी अब बिना पीएचडी वाले छात्र भी असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर नौकरी हासिल कर सकेंगे.

Assistant Professor Job 2021: यूनिवर्सिटी में नौकरी पाने के इच्छुक उम्मीदवारों के लिए केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की ओर से एक अहम फैसला लिया गया है. केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर नौकरी की तलाश कर रहे युवाओं को बड़ा राहत देने का काम किया है. शिक्षा मंत्री ने असिस्टेंट प्रोफेसर पद (Assistant Professor Job 2021) के लिए एचडी की अनिवार्यता को समाप्त कर दिया है यानी अब बिना पीएचडी वाले छात्र भी असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर नौकरी हासिल कर सकेंगे.

केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान (Education Minister Dharmendra Pradhan) की ओर से यह फैसला कोरोना वायरस के कारण लिया गया है. असिस्टेंट प्रोफेसर पद के लिए पीएचडी अनिवार्य होने के कारण बहुत से उम्मीदवार निराश हो जाते थे. शिक्षा मंत्री ने कहा कि विश्वविद्यालयों में असिस्टेंट प्रोफेसर पद पर भर्तियों (Assistant Professor Job 2021) के लिए पीएचडी की अनिवार्यता समाप्त कर दी जाएगी अब बिना पीएचडी वाले छात्र भी इस पद के लिए आवेदन के पात्र होंगे.

यह भी पढ़ें :  TCS Recruitment 2021: टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज में निकली बंपर वैकेंसी, यहां देखें डिटेल्स.

कोरोना वायरस के चलते लिया गया फैसला : शिक्षा मंत्री ने कहा कि पीएचडी की अनिवार्यता से राहत इसलिए दी गई है क्योंकि कोरोना महामारी के कारण पिछले दो साल से स्कॉलर्स की पीएचडी पूरी नहीं हो पाई है. उन्होंने कहा, पहले देश के उच्च शिक्षण संस्थानों में असिस्टेंट प्रोफेसर पद पर भर्ती के लिए पीएचडी अनिवार्य कर दी गई थी. लेकिन अब इस मानदंड को हटा लिया गया है. ताकि रिक्त पदों को समय पर भरा जा सके और फैकल्टी/प्रोफेसरों की कमी के चलते पढ़ाई प्रभावित न हो.

UGC NET पास होना होता था जरूरी : बता दें कि पहले कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में असिस्टेंट प्रोफेसर पदों (Assistant Professor Job 2021) पर भर्ती के लिए यूजीसी नेट परीक्षा पास होना जरूरी होता था. लेकिन 2018 में सरकार ने कहा कि इस पद के लिए पीएचडी अनिवार्य होगी. इसके बाद सरकार ने उम्मीदवारों को अपनी पीएचडी पूरी करने के लिए तीन साल का समय दिया था.

यह भी पढ़ें :  PM Awas Yojana Online Apply : प्रधानमंत्री आवास योजना में आवेदन जल्दी करें रजिस्ट्रेशन, अंतिम तारीख है नजदीक !

अब पीजी डिग्री वाले उम्मीदवार, जिन्होंने राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा उत्तीर्ण की है, असिस्टेंट प्रोफेसर पद पर भर्ती के लिए पात्र होंगे. यूजीसी जल्द ही इस फैसले के संबंध में सभी उच्च शिक्षा संस्थानों को एक परिपत्र जारी करेगा. इससे कॉलेजों और विश्वविद्यालयों को सभी खाली सीटों को जल्दी भरने में मदद मिलेगी.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page