Follow Us On Goggle News

BNPL Card क्या है ? क्रेडिट कार्ड और BNPL कार्ड में कौन है बेहतर, जानें दोनों के फायदे और नुकसान.

इस पोस्ट को शेयर करें :

BNPL Card  : बीएनपीएल कार्ड (BNPL) लेते वक्त ब्याज मुक्त अवधि का जरूर पता कर लें. क्रेडिट कार्ड पर यह अवधि 45 दिनों की होती है. ईएमआई कार्ड पर ब्याज मुक्त अवधि बदलती रहती है. बीएनपीएल कार्ड पर यह अवधि 45 दिनों की है जिस दौरान आपको ब्याज नहीं चुकाना होता.

 

BNPL Card  : बाई नाऊ पे लेटर (BNPL) जैसा कि नाम से ही साफ है बीएनपीएल कार्ड ग्राहकों को पहले खरीदारी और फिर बाद में भुगतान करने की सुविधा देते हैं. इस तरह के कार्ड के जरिए आप खरीदारी करने और कुछ समय में कई किस्तों में उसका भुगतान कर सकते हैं. ज्यादातर कार्ड ग्राहकों को बकाया बिल के तीन महीने में तीन ब्याज मुक्त किस्तों में भुगतान करने की सहूलियत देते हैं. देश में अमेजन और फ्लिपकार्ट जैसी ई-कॉमर्स कंपनियां पहले ही बीएनपीएल की सुविधा दे रही थीं, अब कुछ फिनटेक कंपनियों ने खास बीएनपीएल कार्ड जारी करना शुरू कर दिया है.

 

क्या होते हैं BNPL कार्ड?

इस समय देश में  BNPL Card  का चलन पहले की तुलना में तेजी से बढ़ा है. वजह ये है कि इस कार्ड से तुरंत क्रेडिट मिल जाता है. छोटी खरीदारी हो या बड़ी, इस कार्ड पर क्रेडिट लेकर आप अपना काम आसानी से चला सकते हैं. और भी बड़ी खासियत ये है कि बीएनपीएल के लिए आपको किसी कागजी कार्यवाही या दस्तावेज जमा कराने का झंझट नहीं होता. क्रेडिट देने के लिए मार्केट में कई तरह के कार्ड हैं जैसे क्रेडिट कार्ड (Credit Card), ईएमआई कार्ड (EMI Card) और बीएनपीएल. इन तीनों कार्ड का काम लगभग एक ही होता है- ग्राहकों को क्रेडिट मुहैया कराना. लेकिन कुछ अंतर भी होते हैं जिनके चलते ग्राहक इन तीनों में से अपनी सुविधा के अनुसार कोई कार्ड चुनता है. यहां हम यही जानने की कोशिश करेंगे कि क्रेडिट कार्ड और बीएनपीएल में बुनियादी अंतर क्या है.

यह भी पढ़ें :  Gold Silver Price Today : होली से पहले फीकी पड़ी सोने की चमक ! चांदी के दाम में भी आयी जोरदार गिरावट, चेक करें लेटेस्ट रेट्स.

 

कौन देता है BNPL कार्ड?

भारत में इस समय यूनी, स्लाइस, पेयू फाइनेंस जैसी कई फिनटेक कंपनियां बीएनपीएल कार्ड दे रही हैं. बीएनपीएल डिजिटल पेमेंट का सबसे तेजी से बढ़ता मोड है. खासकर युवाओं में यह तेजी से लोकप्रिय हो रहा है. एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस समय देश में बीएनपीएल का बाजार 3 से 3.5 अरब डॉलर का है और 2026 तक यह बढ़कर 45 से 50 अरब डॉलर होने की उम्मीद है.

 

BNPL कार्ड और क्रेडिट कार्ड में अंतर :

बीएनपीएल कार्ड और क्रेडिट कार्ड में मुख्य अंतर फीस और रिवॉर्ड्स का है. ज्यादातर बीएनपीएल कार्ड्स ग्राहकों को तीन महीने में तीन बराबर इंटरेस्ट फ्री किस्त में बकाया बिल चुकाने की सुविधा देते हैं. कुछ कार्ड ग्राहकों को महीने के अंत में एक मिनिमम अमाउंट का भुगतान करने की सुविधा देते हैं, इसके साथ बाकी का बैलेंस अगले महीने कैरी फोरवर्ड हो जाता है. इस राशि पर तीन से चार फीसदी की कैरी-फोरवर्ड फीस लगती है.

यह भी पढ़ें :  SBI एटीएम से कैश निकालने के बदल गए हैं नियम, फ्रॉड से बचना चाहते हैं तो जान लीजिए.

इसके उलट क्रेडिट कार्ड मिनियम ड्यूज का भुगतान करने पर बाकी बचे बैलेंस पर ब्याज लगाते हैं.

 

फायदे और नुकसान :

क्रेडिट कार्ड, ईएमआई कार्ड या बीएनपीएल की मांग इस बात पर आधारित होती है कि कहां कितने दिनों का ब्याज मुक्त क्रेडिट मिल रहा है. आप भी जब इन तीनों में से कोई कार्ड लेने चलें तो इस पर गौर जरूर करें : 

 

इंटरेस्ट फ्री क्रेडिट :

इसका सीधा मतलब है कि बिल पेमेंट की किस अवधि तक कोई ब्याज नहीं लगेगा. बीएनपीएल इस मामले में सबसे आगे है क्योंकि 3 महीने तक बिना ब्याज क्रेडिट की सुविधा मिलती है. हालांकि सभी कंपनियां 3 महीने का इंटरेस्ट फ्री क्रेडिट नहीं देतीं. कुछ 15 दिन वाली कंपनियां भी हैं. इसलिए बीएनपीएल कार्ड लेते वक्त ब्याज मुक्त अवधि का जरूर पता कर लें. क्रेडिट कार्ड पर यह अवधि 45 दिनों की होती है. ईएमआई कार्ड पर ब्याज मुक्त अवधि बदलती रहती है.

 

ऑफर्स की भरमार :

क्रेडिट कार्ड पर कई तरह के ऑफर्स मिलते हैं जो बीएनपीएल के साथ नहीं है. क्रेडिट कार्ड पर खरीदारी करने पर रिवॉर्ड पाइंट्स दिए जाते हैं जिसे रीडीम कर सकते हैं. कुछ क्रेडिट कार्ड ऐसे भी हैं जो रिवॉर्ड् पॉइंट्स को क्रेडिट कार्ड पेमेंट में एडजस्ट करने की सुविधा देते हैं. ध्यान रखें कि क्रेडिट कार्ड पर अगर ईएमआई चलाते हैं तो रिवॉर्ड पॉइंट्स या ऑफर का लाभ नहीं मिलता. इससे इतर बीएनपीएल पर कैशबैक और डिस्काउंट ऑफर दिया जाता है. क्रेडिट कार्ड के साथ भी यह सुविधा है. ऐसे में आप वही कार्ड लेना पसंद करेंगे जहां ब्याज कम लगता हो.

यह भी पढ़ें :  Life Insurance Policy : जीवन बीमा खरीदें तो न करें ये गलतियां, भविष्य में हो सकती है परेशानी.

 

इस्तेमाल की सुविधा :

क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कहीं भी कभी भी कर सकते हैं. ऑनलाइन या ऑफलाइन भी कर सकते हैं. इसके विपरीत बीएनपीएल कार्ड चुनिंदा जगहों पर ही ऑनलाइन या ऑफलाइन लिया जाता है. क्रेडिट कार्ड का दायरा बहुत विशाल होने के चलते इसकी उपयोगिता अधिक है, बजाय बीएनपीएल कार्ड के.

क्रेडिट कार्ड हो या बीएनपीएल या ईएमआई कार्ड, ये सभी लोन के साधन हैं जिनका इस्तेमाल समझदारी से करें तो कोई दिक्कत नहीं. समय पर बिल चुकाएं तो कोई परेशानी नहीं. ऐसा नहीं करने पर कर्ज के जंजाल में फंसना जाहिर है. ऐसे में इन तीनों कार्ड की उपयोगिता जानने के बाद आप पर निर्भर करेगा कि अपनी सुविधा से कौन सा कार्ड लें और कौन नहीं.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page