Follow Us On Goggle News

Salary Hike: इंक्रीमेंट का इंतजार कर रहे कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, इस साल इतनी बढ़ सकती है सैलरी.

इस पोस्ट को शेयर करें :

Salary Hike: टीमलीज सर्विसेज की रिपोर्ट के मुताबिक, 10 फीसदी से अधिक बढ़ोतरी E-Commerce और टेक्नोलॉजी स्टार्टअप, हेल्थ और इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी जैसे सेक्टर्स में होने की संभावना है.

 

Salary Hike : सैलरी में बढ़ोतरी का इंतजार कर रहे लोगों के लिए अच्छी खबर है. इस साल सभी सेक्टर्स में अधिकतर कर्मचारियों की सैलरी (Salary Increment) बढ़ सकती है. टीमलीज की वित्त वर्ष 2021-22 के लिए द जॉब्स एंड सैलरी प्राइमर रिपोर्ट के अनुसार पिछले दो वर्षों की मुकाबले इस साल लगभग सभी सेक्टर्स में काम करने वाले कर्मचारियों के सालाना वेतन में बढ़ोतरी हो सकती है. हालांकि, सैलरी हाइक (Salary Hike) सीमित रहेगी. इस साल कर्मचारियों की सैलरी करीब 8.13 फीसदी बढ़ सकती है. रिपोर्ट में 17 सेक्टर्स की समीक्षा की गई है जिसमे से 14 सेक्टर्स ने वेतन में 10 फीसदी से कम की बढ़ोतरी की संभावना जताई है. वहीं एवरेज सैलरी इंक्रीमेंट 8.13 फीसदी रहने का अनुमान है.

यह भी पढ़ें :  FD Interest Rate Hike : आरबीआई के फैसले से इन बैंकों के ग्राहकों को होगा फायदा, अब FD पर पहले से ज्यादा होगा मुनाफा.

टीमलीज सर्विसेज की एक वार्षिक रिपोर्ट में 17 सेक्टर्स और नौ शहरों में 2,63,000 से अधिक कर्मचारियों के वेतन भुगतान को ध्यान में रखा गया है.

 

इन शहरों में 12 फीसदी से अधिक बढ़ेगी सैलरी :

रिपोर्ट के अनुसार भौगोलिक आधार पर सबसे अधिक सैलरी हाइक 12 फीसदी और उससे अधिक देने वाले शहरों में अहमदाबाद, बेंगलुरु, चेन्नई, दिल्ली, हैदराबाद, मुंबई और पुणे शामिल हैं.

इसके अलावा वेतन में सालाना आधार पर सबसे अधिक बढ़ोतरी 10 प्रतिशत से अधिक ई-कॉमर्स (E-Commerce) और टेक्नोलॉजी स्टार्टअप, हेल्थ (Health) और इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी जैसे सेक्टर्स में होने की संभावना है.

 

यहां 10 फीसदी से कम बढ़ी सैलरी :

रिपोर्ट में कहा गया है कि, कृषि और एग्रोकेमिकल्स, ऑटोमोबाइल और इससे संबंधित, बैंकिंग, फाइनेंशियल सर्विसेज और बीमा, BPO और आईटी एनेबल्ड सर्विसेज, कंस्ट्रक्शन और रियल एसेट, एजुकेशनल सर्विसेज, फास्ट मूविंग कंज्यूमर डुरेबल्स, फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स, हॉस्पिटेलिटी, इंडस्ट्रियल मैन्युफैक्चरिंग और एलाइड, मीडिया और एंटरटेनमेंट, पावर और एनर्जी, रिटेल और टेलीकम्युनिकेशंस सेक्टर्स में 10 फीसदी से कम सैलरी बढ़ी है.

यह भी पढ़ें :  Home Loan Offer : किस बैंक में मिल रहा सबसे सस्ता होम लोन, प्रोसेसिंग फीस और EMI का हिसाब भी जानिए.

 

खत्म हो गया वेतन में कटौती का दौर :

टीमलीज सर्विसेज की सह-संस्थापक एवं कार्यकारी उपाध्यक्ष रितुपर्णा चक्रवर्ती ने कहा, हालांकि, वेतन बढ़ोतरी अभी 10 फीसदी से कम है. लेकिन अच्छी बात यह है कि अब वेतन कटौती का दौर समाप्त हो गया है. रिवाइवल के साथ विभिन्न क्षेत्रों में मांग बढ़ने से सैलरी इंक्रीमेंट प्री-कोविड के स्तर पर पहुंचने की ओर है.

 

रिपोर्ट में एक और ट्रेंड पर भी प्रकाश डाला गया. इसने हॉट और अपकमिंग जॉब्स के प्रति इंडिया इंक की बढ़ती दिलचस्पी को दिखाया. चक्रवर्ती ने कहा, 2020-21 में 17 सेक्टर्स में से केवल पांच ने हॉट जॉब भूमिकाएं बनाई थीं, हालांकि, वित्त वर्ष 22 में 9 सेक्टर्स ने कटिंग एज या न्यू एज की भूमिकाएं बनाई थीं.कंपनियां स्किल्ड कर्मचारियों को अच्छी बढ़ोतरी देने से नहीं झिझक रही हैं. सुपर-स्पेशियलाइज्ड कर्मचारियों की सैलरी में 11 से 12 फीसदी तक की बढ़ोतरी हुई है.


इस पोस्ट को शेयर करें :
You cannot copy content of this page