Follow Us On Goggle News

RBI Digital Currency : प्रधानमंत्री मोदी ने खुद बताया कैसा होगा आरबीआई की डिजिटल करेंसी.

इस पोस्ट को शेयर करें :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कहा कि आरबीआई की डिजिटल करेंसी (सीबीडीसी) या डिजिटल मुद्रा ऑनलाइन लेनदेन को और सुरक्षित बनायेगा तथा इसमें किसी प्रकार का कोई खतरा नहीं होगा. पीएम मोदी ने कहा कि इससे आने वाले समय में डिजिटल अर्थव्यवस्था को बल मिलेगा. RBI Digital Currency

 

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2022 का बजट पेश करते हुए कहा कि रिजर्व बैंक (RBI) अगले वित्त वर्ष में डिजिटल रुपया लॉन्च करेगा. वित्त मंत्री ने कहा कि डिजिटल रुपया सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी होगी, जिसे 2022-23 में लॉन्च किया जाएगा. RBI Digital Currency

 

उन्होंने अपने बजट भाषण में डिजिटल रुपये के फायदों का भी जिक्र किया. वित्त मंत्री ने कहा कि सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी (CBDC) से डिजिटल इकोनॉमी को एक महत्वपूर्ण बूस्ट मिलेगा. सीतारमण ने कहा, “डिजिटल करेंसी से करेंसी मैनेजमेंट सिस्टम और एफिशिएंट और किफायती हो जाएगा.” आइए जानते हैं कि CBDC क्या है और इसके क्या अहम फायदे हैं. RBI Digital Currency

यह भी पढ़ें :  Cryptocurrency News : IMF की चीफ इकोनॉमिस्ट गीता गोपीनाथ ने कहा - 'क्रिप्टोकरेंसी पर पूरी तरह बैन लगाना मुश्किल, अच्छे तरीके से होना चाहिए रेगुलेशन'.

 

RBI का डिजिटल मनी फिनटेक क्षेत्र में नये अवसर लायेगा : RBI Digital Currency

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आत्मनिर्भर अर्थव्यवस्था कार्यक्रम में कहा कि आम बजट में प्रस्तावित डिजिटल मुद्रा को नकदी में तब्दील किया जा सकता है और यह फिनटेक क्षेत्र में अवसरों के नये द्वार खोलगा. RBI Digital Currency

 

डिजिटल अर्थव्यवस्था मजबूत होगी : RBI Digital Currency

पीएम मोदी ने कहा कि केंद्रीय बैंक की डिजिटल करेंसी से डिजिटल अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी. डिजिटल मनी के जरिये फिनटेक क्षेत्र में नये अवसरों का सृजन होगा और कैश का प्रबंधन, छपाई एवं परिवहन का बोझ कम होगा. RBI Digital Currency

 

क्या है सीबीडीसी (central bank digital currency) : RBI Digital Currency

सीबीडीसी एक डिजिटल मुद्रा है, लेकिन यह करेंसी निजी करेंसी से अलग है. पिछले एक दशक में क्रिप्टो करेंसी का बाजार तेजी से बढ़ा है. निजी डिजिटल मुद्राएं किसी भी व्यक्ति की देनदारियों का प्रतिनिधित्व नहीं करती हैं, क्योंकि उन्हें कोई जारीकर्ता नहीं है. यही वजह है कि इसमें निवेश करना काफी जोखिम भरा है. सरकार ने इसे लेकर सचेत भी किया है. RBI Digital Currency

यह भी पढ़ें :  Small Business Ideas : 2 लाख रुपए में शुरू करें ये बिज़नेस, हर महीने होगी लाखों की कमाई - जानिए कैसे?

 

बजट में की गयी घोषणा : RBI Digital Currency

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को देश का बजट पेश करते हुए यह घोषणा की कि भारतीय स्टेट बैंक डिजिटल मनी लेकर आयेगा. साथ ही निर्मला सीतारमण ने यह घोषणा भी की कि निजी डिजिटल करेंसी से होने वाली आय पर 30 प्रतिशत कर लगेगा. साथ ही अगर कोई डिजिटल करेंसी को गिफ्ट देगा तो उसपर भी कर लगेगा. RBI Digital Currency

 

आरबीआई के डिजिटल करेंसी की जिम्मेदारी सरकार की होगी :

सरकार की ओर से यह भी कह दिया गया है कि अगर आप निजी डिजिटल करेंसी में पैसा लगाताे हैं तो उसमें अगर आपको नुकसान होता है तो उसके लिए सरकार जिम्मेदार नहीं होगी. लेकिन आरबीआई के डिजिटल करेंसी में निवेश करने वालों की जिम्मेदारी सरकार लेगी. RBI Digital Currency


इस पोस्ट को शेयर करें :

You cannot copy content of this page